संकल्प के साथ लौटे भाजपा नेता व कार्यकर्ता

जागरण संवाददाता, बोधगया : भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यसमिति की दो दिवसीय बैठक बुधवार को संपन्न हो गई। ज्ञान की भूमि बोधगया में आयोजित बैठक में शामिल मंत्री, नेता व कार्यकर्ता नए संकल्प के साथ लौट गए। इस सार्थक परिणाम आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव में देखने को मिलेगा। बैठक में प्रदेश, जिला व प्रखंड से लेकर बूथ स्तर तक के सशक्त मैनेजमेंट पर जोर दिया गया।

बैठक में प्रदेश प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने नेताओं व कार्यकर्ताओं को देश के भाजपा शासित राज्यों में सफलता के मंत्र से अवगत कराते हुए आगामी लोकसभा चुनाव में सफलता प्राप्त करने के मूलमंत्र बताए। उन्होंने जोर देकर कहा कि केंद्र सरकार की सफलता और जनहित के लिए लागू योजनाओं पर बनी लघु फिल्म को हर गांव में दिखाया जाए। बैठक में हर किसी के संबोधन में निशाने पर विपक्षी पार्टी खासकर महागठबंधन की कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल रही।

----

लौटने की मची रही होड़

प्रदेश कार्यसमिति की बैठक समापन के बाद नेताओं व कार्यकर्ताओं में वापसी की होड़ मची रही। कोई तीज व्रत का हवाले देकर जल्दी पहुंचने की बात कर रहे थे तो कोई आवश्यक कार्य। इस बीच, आधे नेता निकले और कुछेक कार्यक्रम स्थल पर रुके थे। तभी होटल में लगे रेड कारपेट उठने लगा।

-----

होर्डिग उखार ले गए

कार्यसमिति की बैठक को लेकर जितने नेता और कार्यकर्ताओं ने उत्साह के साथ होर्डिग-बैनर लगाए थे। बैठक समापन और नेताओं के वापसी के साथ ही उसे हटाने के लिए होड़ सी मच गई। कुछेक होर्डिग बैनर तो गांव वाले उखाकर अपने साथ ले गए।

---

परिचय न कराने से निकाली भड़ास

कार्यसमिति की बैठक के दौरान सभागार में जिला संगठन से जुड़े कार्यकर्ताओं को आमंत्रित किया गया। सभी सभागार में गए, लेकिन कुछ देर बाद ही लौट आए। हुआ यूं था कि कार्यकर्ताओं को परिचय के लिए सभागार में बुलाया गया था। लेकिन किसी से परिचय न कराकर, महज सब का नाम की घोषणा मंच से कर दी गई। इससे कार्यकर्ता खासे नाराज हुए और बाहर आकर अपनी भड़ास निकाली।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.