Kaimur: सौतेला पिता कर रहा था नाबालिग का सौदा, दादी ने बिकने से बाल-बाल बचा लिया, पढ़कर रह जाएंगे दंग

उदयरामपुर पंचायत निवासी एक नाबालिग लड़की को उसके सौतेले पिता के द्वारा बेचने का कार्य किया जा रहा था। इसकी सूचना पर पुलिस के द्वारा कार्रवाई करते हुए आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर मामले से संबंधित पूछताछ की जा रही है।

Amit AlokTue, 22 Jun 2021 09:53 PM (IST)
सौतले पिता ने किया नाबालिग को बेचने का प्रयास। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर।

संवाद सूत्र, चैनपुर (भभुआ)। थाना क्षेत्र के उदयरामपुर पंचायत निवासी एक नाबालिग लड़की को उसके सौतेले पिता के द्वारा बेचने का कार्य किया जा रहा था। इसकी सूचना पर पुलिस के द्वारा कार्रवाई करते हुए आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर मामले से संबंधित पूछताछ की जा रही है। वहीं नाबालिग को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है।

इस मामले से संबंधित जानकारी लेने पर पीड़िता की दादी शारदा देवी ने बताया कि इनके पुत्र रामाशीष बिंद का विवाह कश्मीरा देवी से 16 वर्ष पहले हुआ था। जिससे एक पुत्री जन्म ली। बाद में इनकी बहू कश्मीरा देवी इनके पुत्र को छोड़कर चांद थाना क्षेत्र के ग्राम भटानी सिलौटा के निवासी संजय बिंद पिता स्वर्गीय वंसी बिंद के साथ शादी करके रहने लगी। इनके पुत्र से जन्मी पुत्री को इन्हीं के द्वारा पालन पोषण किया जाने लगा। लगभग 2 साल पूर्व इनकी पोती की मां कश्मीरा देवी गांव पर आई एवं अपनी पुत्री से मिलने की बात कही, जिस पर इनके द्वारा पुत्री से मिलने दिया गया।

कश्मीरा देवी के द्वारा अपनी पुत्री को कुछ दिन साथ में रखने की बात कहकर पुत्री को अपने दूसरे पति संजय बिंद के यहां ग्राम भूटानी सिलौटा थाना चांद लेकर चली गई। दो वर्षों से पुत्री वहीं रह रही थी। इस बीच कई लोगों से इन्हें यह शिकायत भी मिली की वहां ले जाने के बाद इनकी पोती को गांव के ही किसी व्यक्ति के यहां बर्तन मांजने के लिए नौकरानी के रूप में रख दिया गया है। जिसका विरोध भी इनके द्वारा किया गया मगर लोग नहीं मानें। बुधवार की सुबह इनकी पोती भागकर इनके पास ग्राम जरमापुर पहुंची और कहने लगे कि उनके सौतेले पिता एवं मां के द्वारा इसे किसी के हाथों बेचा जा रहा है। इसके बाद इनके द्वारा तत्काल इस मामले की सूचना चैनपुर थाने में फोन के माध्यम से दिया गया।

इस मामले से संबंधित जानकारी देने पर प्रशिक्षु डीएसपी सह चैनपुर थानाध्यक्ष अजय कुमार चौधरी के द्वारा बताया गया कि जरमापुर से एक वृद्ध महिला शारदा देवी के द्वारा फोन करके उनकी पोती को सौतेले पिता के द्वारा बेचने की बात कही गई थी। जिस पर तत्काल मौके पर पहुंचकर लड़की को बरामद करते हुए, सौतेले पिता एवं उसके माता सहित लड़की के वास्तविक पिता को थाने पर लाकर मामले में पूछताछ की गई।

पूछताछ के दौरान जब लड़की का आधार कार्ड जांच किया गया तो उसके आधार पर लड़की की उम्र मात्र 15 वर्ष हुई है। पूछताछ में लड़की के द्वारा बताया गया कि लड़की के सौतेले पिता संजय बिंद के द्वारा उत्तर प्रदेश के इटवा जिला में किसी व्यक्ति से पैसा लेकर विवाह करने की बात कही जा रही है। लड़की के द्वारा इनकार किया गया। जिस पर सौतेले पिता के द्वारा जबरन दबाव बनाया गया।

इसी बीच जिस व्यक्ति के हाथों लड़की को बेचे जाने की बात चल रही थी। वह भी लड़की को ले जाने के लिए पहुंच गया। जिस पर लड़की किसी तरह वहां से भागकर अपने दादी के यहां पहुंची। डीएसपी के द्वारा आगे बताया गया कि पूरे मामले की विस्तृत रूप से छानबीन की जा रही है। जांच के दौरान प्रथम दृष्टया यह बात सामने आई है कि नाबालिग को पैसा लेकर सौतेले पिता के द्वारा बेचने का कार्य किया जा रहा था। मामले की विधिवत जांच की जा रही है जिसके उपरांत आगे की कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.