किसी भी वक्‍त जारी हो सकती है बिहार पंचायत चुनाव की अधिसूचना, औरंगाबाद डीएम ने दिए कई निर्देश

किसी भी समय पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी हो सकती है यह कहते हुए औरंगाबाद डीएम ने अधिकारियों को अपनी तैयारी फाइनल करने के कई निर्देश दिए। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार पंचायत चुनाव के आरक्षण रोस्टर को शत प्रतिशत आनलाइन करने का निर्देश।

Sumita JaiswalWed, 04 Aug 2021 11:42 AM (IST)
बिहार में पंचायत चुनाव की जल्‍द बजेगी डुगडुगी, सांकेतिक तस्‍वीर।

मदनपुर ( औरंगाबाद), संवाद सूत्र। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार पंचायत चुनाव के आरक्षण रोस्टर को शत प्रतिशत आनलाइन करें। क्योंकि किसी भी समय पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी हो सकती है। उक्त बातें प्रखंड कार्यालय स्थित बहुद्देशीय भवन में मंगलवार को आगामी पंचायत चुनाव को लेकर आयोजित समीक्षा बैठक में डीएम सौरव जोरवाल ने कही।

डीएम ने कहा कि शांतिपूर्ण माहौल में पंचायत चुनाव कराने की तैयारी को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिया। साथ ही थाना अध्यक्षों से अपने-अपने क्षेत्र में धारा 107 के अंतर्गत निरोधात्मक कार्रवाई करने तथा सीसीए के तहत प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया ।  समीक्षा के दौरान जिला अधिकारी ने रूट चार्ट क्लस्टर सेंटर से बूथ की दूरी के बारे में जानकारी ली। बोले कि प्रत्येक बूथ से कम से कम पांच लोगों का नंबर इकठ्ठा करने का निर्देश दिया। बीडीओ,सीओ व थानाध्यक्ष को संयुक्त रूप से मतदान केंद्रों का शत-प्रतिशत सत्यापन करने का कहा गया। राज निर्वाचन आयोग के द्वारा दिए गए गाइडलाइन के आलोक में कोई छूट गया हो तो उसे सुधार कर संशोधन का प्रस्ताव उपलब्ध कराने को भी कहा गया। बीडीओ को सख्त निर्देश दिया कि जल्द से जल्द पूरी तैयारी कर लें और समय-समय पर सभी कोषांग के प्रभारियों के साथ बैठक करें। उनके सामने जो परेशानी उत्पन्न हो रही है। उसका निराकरण करें।  

समीक्षा बैठक में एसडीएम डा. प्रदीप कुमार, जिला पंचायती राज पदाधिकारी मुकेश कुमार सिन्हा, प्रखंड विकास पदाधिकारी कुमुद रंजन,सीओ अंजू ङ्क्षसह, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ललन प्रसाद सिंह, प्रखंड कृषि पदाधिकारी शशिकांत शर्मा, मदनपुर थानाध्यक्ष आनंद कुमार गुप्ता, सलैया थानाध्यक्ष कमलेश पासवान, सहित सभी कोषांग के प्रभारी अधिकारी मौजूद रहे।

  इवीएम मशीनों की प्रथम स्तरीय जांच शुरू

आगामी पंचायत चुनाव को लेकर अधिकारियों के द्वारा हर तरह की तैयारियां की जा रही है। विभागीय समीक्षाएं हो रही है। उपनिर्वाचन पदाधिकारी जावेद एकबाल ने बताया कि इवीएम मशीनों की प्रथम स्तरीय जांच शुरु कर दी गई है। मशीन में क्या गड़बड़ी है उसकी जांच हो रही है। हैदराबाद के इलेक्ट्रॉनिक्स कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के 9 इंजीनियर का दल द्वारा मंगलवार को सच्चिदानंद सिन्हा महाविद्यालय में इसकी जांच की जा रही है। करीब तीन सप्ताह तक यह जांच किया जाएगा। जांच के लिए 30 टेबल बनाया गया है जो सुबह 9 बजे से लेकर शाम सात बजे तक इंजीनियर के द्वारा यह कार्य किया जाएगा। सभी मशीनों की हार्डवेयर की गहनता से जांच हो रही है ताकि मतदान के समय किसी प्रकार की समस्या न उत्पन्न हो। ङ्क्षवडोस्क्रीन एवं बटन की विशेष तरह से जांच की जा रही है। जांच के बाद सभी मशीनों के द्वारा नियमानुसार मॉक पॉल किया जाएगा। पूर्णरुप से संतुष्ट होने के बाद ही मतदान के लिए भेजा जाएगा। इस कार्य में मास्टर ट्रेनरों को भी लगाया गया है ताकि इन्हें तकनीकी जानकारी दी जा सके। मतदान के समय मास्टर ट्रेनरों को ही क्यूआरटी में शामिल किया जाएगा। बताया कि यह सभी कार्य एडीएम आशीष कुमार सिन्हा के नेतृत्व में किया जा रहा है।

 

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.