ओमिक्रोन को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड में, सासाराम में बाहर से आने वालों पर होगी खास नजर

Omicron Virus Alert कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के खतरे से विश्व दहशत में है। इसके खतरे को देखते हुए सासाराम में भी सतर्कता बढ़ा दी गई है। बाहर से आने वालों लोगों पर खास नजर रखी जा रही है और जांच का भी दायरा बढ़ाया जा रहा है।

Rahul KumarTue, 30 Nov 2021 11:18 AM (IST)
ओमिक्रोन को लेकर सासाराम प्रशासन सतर्क। सांकेतिक तस्वीर

सासाराम, जागरण संवाददाता। कोरोना के नए वेरियंट ओमिक्रोन से दुनिया दहशत में है। इसको लेकर बिहार सरकार भी अलर्ट मोड में है। बिहार के सासाराम में इस नए वेरिएंट के खतरे को देखते हुए प्रशासन ने जांच के दायरे को बढ़ाने का फैसला लिया है।  केंद्र सरकार द्वारा अलर्ट किए जाने के बाद यहां पर भी सावधानी बरती जाने लगी है। दूसरे शहरों, राज्यों व देशों से आने वालों की कोरोना जांच को एक बार फिर अनिवार्य कर दिया गया है। सरकारी अस्पतालों के अलावा रेलवे स्टेशनों व बस स्टैंडों पर मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों को निर्देश दिया गया है कि बाहर से आने वाले अधिक से अधिक यात्रियों की सैंपल संग्रहित कर जांच करें। आवश्यकता पड़े तो अतिरिक्त सैंपल संग्रहण सह जांच केंद्र को खोला जाए। इसके अलावा कोविड टीकाकरण के दोनों डोज को लेने पर भी बल दिया जा रहा है।

डीआइओ डाक्टर आरकेपी साहु की माने तो ओमिक्रोन वैरियंट डेल्टा से भी अधिक खतरनाक है। टीका लेने के बाद भी 40 फीसद रोग प्रतिरोधक क्षमता को कम करने वाला यह वैरियंट है। इसलिए जिसने अभी तक सिर्फ एक डोज लिया है, उसे दोनों खुराक की टीका जल्द लेने की जरूरत है ताकि वह बूस्टर डोज के हकदार हो सके। रोजाना औसतन पांच हजार कोरोना सैंपल की जांच की जा रही है। रेलवे स्टेशन पर सैंपल जांच का कार्य तेजी से किया जा रहा है। जिले में फिलहाल कोरोना का एक मामला सक्रिय है। नए संक्रमण को देखते हुए उन्हें होम आइसोलेशन में ही रहने की सलाह दी गई है। सोमवार को 4980 सैंपल की जांच हुई जांच में एक भी व्यक्ति का रिपोर्ट पाजीटिव नहीं आया है। रेलवे स्टेशन पर 180 यात्रियों का सैंपल संग्रहित किया गया। 

जिले में 22.62 लाख लोगों को लगा कोरोना का टीका

सासाराम(जागरण संवाददाता)। रोहतास। मिशन छह करोड़ टीकाकरण लक्ष्य को पूरा करने को लेकर जिले में चल रहे टीकाकरण अभियान में अबतक 22.62 लाख से अधिक कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। जिसमें से सिर्फ 6.76 लाख लोगों ने दोनों खुराक का टीका लिया है। वही 15.86 लाख लोग मात्र पहले डोज का ही टीका ले पाए हैं। जिले में दूसरे डोज की टीका लेने की गति काफी धीमी है, जबकि वैक्सीनेशन के लक्ष्य को पूरा करने के लिए नाइन टू नाइन से लेकर 24 घंटे टीकाकरण केंद्र का संचालन किया जा रहा है। सबसे अधिक सासाराम में टीकाकरण किया गया है। 3.43 लाख में से 1.42 लाख ग्रामीण व 2.02 लाख टीकाकरण शहरी इलाके में संचालित केंद्रों पर किया गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.