औरंगाबाद में प्रशासन ने सील कर दीं कई दुुकानें, बेवजह सड़क पर घूूमने वालों पर बरसीं लाठियां

बेवजह घूमने वाले को हड़काती पुलिस। जागरण

औरंगाबाद में लॉकडाउन के अनुपालन में पुलिस-प्रशासन की टीम लगी है। इस दौरान बिना अनुमति वाली दुकानें खोलने पर उन्‍हें सील कर दिया गया। दुकानदारों पर प्राथमिकी की जा रही है। अंबा में बेवजह सड़क पर घूमने वालों पर पुलिस ने लाठियां बरसाईं।

Vyas ChandraFri, 07 May 2021 06:08 PM (IST)

औरंगाबाद, जागरण संवाददाता। लॉकडाउन के बावजूद दुकानदार अपनी दुकानें बंद नहीं कर रहे हैं। उन्हें न तो सरकार के आदेश से मतलब है और न कार्रवाई से डर। शुक्रवार को औरंगाबाद शहर में अधिकारियों को लगातार सूचना मिलती रही कि दुकानें खुली है। कोरोना के गाइडलाइन का पालन नहीं हो रहा है। सूचना पर औरंगाबाद सीओ प्रेम कुमार, नगर थानाध्यक्ष अंजनी कुमार पुलिसकर्मियों के साथ दुकान पहुंचे। सबसे पहले पुरानी जीटी रोड किनारे स्थित जूते की दुकान बंद कराई। इसके बाद मदरसा मार्केट में चश्मा का दुकान खुला मिला।जैसे हीं सीओ पहुंचे दुकानदार अपनी दुकान बंद करने लगा।

तीन दुकानों को सील कर दुकानदारों पर प्राथमिकी 

सीओ ने कार्रवाई करते हुए दुकान को सील कर दिया। मदरसा मार्केट हीं स्पोर्ट्स दुकान खुली थी। सीओ ने जब नगर थानाध्यक्ष के साथ दुकान पर छापेमारी की तो दुकानदार भागने लगा। उसकी दुकान भी सील की गई। सीओ ने बताया कि लॉकडाउन के बावजूद जो दुकान खुले थे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। तीनों दुकान मालिक पर नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि सरकार के आदेश के बावजूद जो लोग दुकान खोलेंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। आमजनों से दुकान खुलने पर सूचना देने का आग्रह किया है। 

पुलिस ने चटकाई लाठियां 

लॉकडाउन के अनुपालन में लगी पुलिस को कुछ लोग लाठियां चटकाने के लिए मजबूर कर रहे हैं। स्‍पष्‍ट हिदायत के बावजूद लोग सड़कों पर घूम रहे हैं। ऐसे लोगों को अनुशासित रखने के लिए पुलिस को अब लाठियां भांजनी पड़ रही है। पिछले लॉकडाउन में भी बगैर लाठियां चटकाए लोग मानने को तैयार नहीं थे। पुलिस ने अंबा बाजार में शुक्रवार को सख्‍ती बरती। कई लोगों को पुलिस की लाठी का स्‍वाद चखना पड़ा। कोरोना के बढ़ते गंभीर खतरे से आम नागरिकों को बचाने के लिए प्रशासन दिन रात मेहनत में लगा है इसके बावजूद लोग अकारण ही घर से निकल कर सड़क व पगडंडियों पर घूमने से नहीं कतरा रहे। प्रशासकीय पक्ष ने लोगों से ऐसा करते देख आखिरकार सख्ती बरतने का निर्णय लिया है। ऐसे में बेवजह बाइक कार अथवा पैदल घूमने वाले लोग अब उनकी जद में आते जा रहे हैं।  

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.