कोरोना पर भारी आस्था, मंदिर के पट बंद, पर जिसे जहां जगह मिली वहीं किया जलाभिषेक

मोतिहारी। कोरोना को लेकर सरकार के निर्देशानुसार सभी मंदिर बंद हैं। इस आदेश के तहत अर

JagranTue, 27 Jul 2021 12:06 AM (IST)
कोरोना पर भारी आस्था, मंदिर के पट बंद, पर जिसे जहां जगह मिली वहीं किया जलाभिषेक

मोतिहारी। कोरोना को लेकर सरकार के निर्देशानुसार सभी मंदिर बंद हैं। इस आदेश के तहत अरेराज मंदिर भी बंद है। मंदिर में प्रवेश के सभी दरवाजे सील कर दिए गए है। कही से प्रवेश करना मुश्किल है। फिर भी आस्था के सामने सरकारी आदेश बौना साबित हुआ है। पवित्र सावन माह के प्रथम सोमवारी को अहले सुबह से पूजा-अर्चना करनेवाले श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया। धीरे-धीरे आठ बजते ही श्रद्धालुओं की संख्या जनसैलाब बनकर उमड़ गया। जिसको जहां जगह मिला वही फूल अक्षत, बेलपत्र, भांग रखकर उसी स्थान को शिव का साक्षात रूप मानकर जल चढ़ाना शुरू कर दिया। सोमेश्वर नाथ महादेव मंदिर के मुख्य दरवाजा, दक्षिण दिशा में अवस्थित चहारदीवारी का दिवाल, पूरब दिशा में धर्मशाला परिसर के दीवाल पर, जमीन पर श्रद्धालु अक्षत जल चढ़ा कर पूजा अर्चना कर अपनी मन्नते मांगी। नव विवाहित युगल जोड़ियों ने भी प्रथम सोमवारी को पधार कर दीवाल पर ही पूजा-अर्चना कर खुशहाल जीवन की कामना की। पुत्र प्राप्ति के लिए कामना पीठ के रूप में सुविख्यात इस पीठ स्थल पर नेटुआ का नाच औरतें अपने आंचल पर कराकर पुत्र प्राप्ति की कामना करती है। पुन: पुत्र प्राप्ति के आंचल पर नेटुआ का नाच कराकर भारा उतारा जाता है। इस बार नेटुआ का नाच नहीं हुआ। क्योंकि नेटुआ का नाच मंदिर प्रांगण में ही होता है। मंदिर बंद होने के चलते ऐसा नहीं हुआ। नव विवाहित जोड़ों ने शिव पार्वती का पगड़ी भी नहीं तनवा सके। श्रद्धालुओं ने यत्र तत्र ठाकुर जी तथा अन्य पूजा भी लोगों के द्वारा कराया गया। सोमवार को करीब पचास हजार श्रद्धालुओं ने यत्र तत्र पूजा अर्चना की है। हालांकि भीड़ में कोरोना गाइड लाइन की धज्जियां उड़ाते देखी गई। पुलिस या सामान्य प्रशासन के अधिकारी नहीं दिखे। दस बजे के बाद अरेराज के सीओ पवन कुमार झा सड़क के किनारे लगाए गए दुकानों को हटाते देखे गए। महंत व पीठाधीश्वर रविशंकर गिरि ने बताया की सावन का पवित्र माह आने के पूर्व हीं मंदिर में प्रवेश के सभी रास्ते सील कर दिए गए, ताकि सरकारी आदेश का अक्षरश: पालन हो सके। महंत व पीठाधीश्वर ने पूजा का किया सीधा लाइव प्रसारण उत्तर बिहार का काशी कहे जानेवाले सोमेश्वर महादेव मंदिर के महंत व पीठाधीश्वर रवि शंकर गिरि ने फेसबुक इंस्टाग्राम के माध्यम से भोले शंकर के रुद्राभिषेक व पूजा अर्चना का लाइव प्रसारण किया है, जिसे लोगों ने काफी सराहा है। महंत ने बताया कि शिव पार्वती के पूजा अर्चना ,श्रृंगार आदि का सीधा लाइव प्रसारण अनवरत किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.