भयमुक्त चुनाव के लिए असामाजिक तत्वों की करें पहचान : एएसपी

दुर्गा पूजा व चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने को ले असामाजिक तत्वों की पहचान एवं आवश्यक कार्रवाई का निर्देश एएसपी अभिनव धीमन ने दिया।

JagranPublish:Wed, 06 Oct 2021 12:18 AM (IST) Updated:Wed, 06 Oct 2021 12:18 AM (IST)
भयमुक्त चुनाव के लिए असामाजिक तत्वों की करें पहचान : एएसपी
भयमुक्त चुनाव के लिए असामाजिक तत्वों की करें पहचान : एएसपी

मोतिहारी । दुर्गा पूजा व चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने को ले असामाजिक तत्वों की पहचान एवं आवश्यक कार्रवाई का निर्देश एएसपी अभिनव धीमन ने दिया। गोविदगंज में अपराध गोष्ठी को संबोधित करते हुए उन्होंने संबंधित थानाध्यक्षों को आवश्यक निर्देश दिया। कहा कि दुर्गा पूजा काफी नजदीक है। उसे शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराने के लिए ग्रामीणों के सहयोग से समिति गठित कराएं और असामाजिक तत्वों पर विशेष नजर रखें। दूसरी तरफ पंचायत चुनाव भी नजदीक है। सभी थानाध्यक्ष अपने अपने क्षेत्र में अशांति फैलाने, मतदाताओं को भयभीत करने वालों के विरुद्ध धारा 107 के तहत कार्रवाई करे। साथ ही सीसीए की कार्रवाई हेतु बदमाशों को चिन्हित कर प्रस्ताव भेजने को कहा। कहा कि प्राथमिकता के आधार पर फरार अपराधियों की गिरफ्तारी हर हाल में चुनाव पूर्व कर लें। वाहन जांच तथा शराब करबोरियों को पत्ता लगाकर उन्हें गिरफ्तार करें तथा चुलाई शराब निर्माण तथा विदेशी शराब की जब्ती पर विशेष नजर रखे। मौके पर इंस्पेक्टर उपेंद्र कुमार, गोविदगंज थानाध्यक्ष सरफराज अहमद, ओपी थानाध्यक्ष सुधीर कुमार, पहाडपुर के महेंद्र कुमार हरसिद्धि के प्रमोद कुमार पासवान, संग्रामपुर के राजीव नयन तथा मलाही के संजय कुमार पाठक तथा अपराध प्रवाचक राजकुमार झा उपस्थित थे। आचार संहिता उल्लंघन मामले में केस दर्ज

मोतिहारी : जिले के पताही प्रखंड में नामांकन के दौरान बिना अनुमति वाहन लाने एवं लोगों की भीड़ एकत्र करने के मामले में पुलिस ने आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन में केस दर्ज किया है। पताही अंचलाधिकारी ने बखरी पंचायत की मुखिया प्रत्याशी रमिता वर्मा व उनके पति राघवेंद्र नारायण सिंह उर्फ मन्नू बाबू पर आचार संहिता उल्लंघन करने के मामले में केस दर्ज कराया है। थानाध्यक्ष चंद्रिका प्रसाद ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। वहीं, बखरी पंचायत की ही मुखिया प्रत्याशी गीता देवी एवं उनके पति मुकेश साह के विरूद्ध भी आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज हुआ है। नामांकन के दौरान रैली-प्रदर्शन करते हुए प्रखंड कार्यालय के मुख्य द्वार को जाम कर देने का इन पर आरोप है।