रक्सौल में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं शीघ्र

मोतिहारी । स्वास्थ्य के क्षेत्र में अनुमंडलवासियों को बहुत जल्द ही बेहतर सुविधा मिलने लगेगी। इसके लिए सरकार कमर कस चुकी है।

JagranThu, 16 Sep 2021 11:57 PM (IST)
रक्सौल में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं शीघ्र

मोतिहारी । स्वास्थ्य के क्षेत्र में अनुमंडलवासियों को बहुत जल्द ही बेहतर सुविधा मिलने लगेगी। इसके लिए सरकार कमर कस चुकी है। सीमावर्ती क्षेत्र के रक्सौल, आदापुर, छौड़ादानो एवं रामगढ़वा चार प्रखंड है। जिसकी आबादी करीब आठ लाख है। यहां के लोगों को अबतक बेहतर इलाज के लिए शहर से दूर मोतिहारी, मुजरफ्फरपुर, पटना आदि महानगरों में जाना पड़ता है। इसके लिए सरकार ने 50 बेड के अनुमंडलीय अस्पताल की घोषणा की है। जिसका निर्माण कार्य शहर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में तेजी से चल रहा है।

भवन को हो चुका है निर्माण, अंदर में फिनिसिग का चल रहा है कार्य

यह भवन दो मंजिला है। जिसका निर्माण हो चुका है। इसके अंदर में आइसीयू, वार्ड में कार्य चल रहा है। जो अत्याधुनिक संशाधनों से लैस होगा। जहां बेड के पास मरीज के लिए ऑक्सीजन, वातानुकुलित वार्ड होगा। किसी भी समय मरीज या उसके साथी बेड पर इलाजरत मरीज को किसी प्रकार की असहजता महसूस करने पर बेड पास लगे बेल को दबाकर चिकित्सक को जानकारी दे सकते है। बेल बजते ही डॉक्टर रुम में आवाज के साथ बेड रुम दिखने लगेगा। जिसे देखते ही स्वास्थ्यकर्मी सीधा मरीज के पास पहुंचेगे। इसके साथ ही कई अन्य सुविधाओं को अनुमंडलीय अस्पताल में लगाया जाएगा।

करीब दस चिकित्सकों की हो चुकी है नियुक्तिअनुमंडलीय अस्पताल में बहुत जल्द ही इलाज की सुविधा मिलने लगेगी। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के आदेश के आलोक में दस चिकित्सकों ने योगदान कर लिया है। जिनमें तीन योगदान लेने के बाद शैक्षणिक अवकाश पर है। वहीं सात लोग अपनी सेवा फिलहाल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में देंगे। जिसका लाभ फिलहाल प्रखंड क्षेत्र के लोगों को मिलेगा। इसके साथ ही पहले से पीएचसी में चार चिकित्सक है। जिसका लाभ शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को मिल रहा है।

कौन कौन है चिकित्सक

इसकी जानकारी अनुमंडलीय अस्पताल के चिकित्सक डॉ. एसके सिंह ने दी। बताया कि डॉ. सुषमा कुमारी स्त्री रोग विशेषज्ञ, डॉ. परवेज अनवर हड्डी रोग विशेषज्ञ, डॉ. चंदन कुमार सिंह, शिशु रोग विशेषज्ञ, डॉ. अमित आनंद जेनरल सर्जरी, डॉ. प्रिया कुमारी साह, डॉ. प्रमोद कुमार बरनवाल, डॉ. हिमांशु शेखर, डॉ. प्रशांत कुमार, डॉ. अनमोल कुमार, डॉ. अभिषक कुमार ने योगदान कर लिया है। इनमें डॉ. सुषमा, डॉ. परवेज एवं डॉ. अभिषेक कुमार पढ़ने के लिए छूटी पर गए है।

कहते है अनुमंडलीय अस्पताल के उपाधीक्षक

उपाधीक्षक डॉ. एसके सिंह ने बताया कि सरकार के निर्देश पर चिकित्सक योगदान दे चुके है। कुछ एएनएम व जीएनएम भी योगदान कर चुके है। कोरोना काल में टीकाकरण से लेकर कई कार्यों में वे ड्यूटी दे रहे है। भवन निर्माण का कार्य समाप्त होते ही सरकारी निर्देश प्राप्त होने के बाद स्वास्थ्य सेवा बहाल कर दी जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.