राजनीति में कोई परमानेंट नहीं : संजय

राजनीति में कोई परमानेंट नहीं : संजय

दरभंगा। शहर के पूअर होम में रविवार को सृजन मिथिला की ओर से आयोजित पद्मश्री दुलारी देवी के

JagranMon, 01 Mar 2021 12:29 AM (IST)

दरभंगा। शहर के पूअर होम में रविवार को सृजन मिथिला की ओर से आयोजित पद्मश्री दुलारी देवी के सम्मान समारोह में जल संसाधन व सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री ने कहा कि राजनीति में कोई परमानेंट नहीं होता। कई लोग आते और चले जाते है। लेकिन, राजनीति में मौका मिलने के बाद जो काम किया जाता है, उसे लोग हमेशा याद रखते हैं।

इससे पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन मंत्री झा, पद्मश्री दुलारी देवी, मिथिला सृजन की पुतुल चौधरी, राजेश चौधरी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। सृजन मिथिला की ओर से मंत्री सहित अतिथियों का स्वागत पाग-चादर और मिथिला पेटिग देकर किया गया। मौके पर ललित नारायण मिथिला विवि के कुलपति प्रो. एसपी सिंह, कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विवि के कुलपति डॉ. शशिनाथ झा, मैथिली अकादमी के पूर्व अध्यक्ष पंडित कमलाकांत झा, वार्ड पार्षद शशिचंद्र पटेल, विकास झा, रघु झा, राकेश झा, अंजीत चौधरी, शिवनंदन सिंह, हिमांशु शेखर, प्रकाश आनंद, दीनबंधु झा, रानी झा, शशिलता दत्त, अनिल झा सहित अन्य मौजूद थे।

-----------

जाबैय तक मिथिला पेटिग के रोजगार सअ नहीं जोड़बैय, ताबैय तक ऐकर आर्थिक सृजन नही हैतैय

हम-अहां मिथिला पेटिग के बनल पाग के सिर्फ सम्मान सअ जोड़ेत रहिए। राजेश जी एकरा व्यवहारिक रूप में लअ जा रहल छथि। जबैय तक एकरा आर्थिक सृजन सअ नही जोडबैय और जाबैय तक एका रोजगार सअ नही जोडबैय, ताबैय तक एकरा आगु नही बढ़ा सकैत छी। कोराना काल में जैय परिस्थिति छलैय, हम-अहां कहियो सुनने नहीं छलअयि। पूरी दुनिया लॉकडाउन भअ गैल। ओइ काल में अमेजन के साइट पर मिथिला पेटिग सअ बनल मास्क, हमरा लगैय अछि सबसे बेसी देश-दुनिया में प्रसिद्ध भेल। सबके मुंह पर मिथिला पेटिग के मास्क देखलु। आबि जैखन दरभंगा में कनेक्टीविटी बढ़ल, ओकरा बाद मांग बढि़ रहल अछि। हम तक आग्रह करब जे मिथिला पेटिग सअ जुड़ल कलाकार ई बताबैयट कि सरकार में एकरा लेल की व्यवस्था काल्हि जाय, जे एकरा सअ रोजगार सृजन के साथ-साथ कलाकार के आर्थिक सृजन होय। अहां सब कलाकर मिलकर एकटा ब्लू प्रिट तैयार कर लिए। हम अहां सबके मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आमने-सामने बैयसा दे। अहां तक बताऊं कि आखिर सरकार अहां सबहक की मदद कअ सकैत छथि। हम्मर सरकार अहां के साथ अछि। हम्म 24 घंटा अई काज के लेल अहां सबहक संग छी।

---------

दुलारी देवी के कि सम्मान करब, हिनकर आशीर्वाद चाही

जल संसाधन मंत्री संजय झा ने पद्मश्री दुलारी देवी के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कहा कि हम हिनकर कि सम्मान करब, ई तअ हमर सबहक अभिभावक छथि। हिनकर तअ आशीर्वाद हमरा सबके चाही। पटना में हिनका सअ भेंट भेल। ई गौरव के बात अछि जे दुलारी देवी के राष्ट्रपति के हाथ से सम्मान भेटलैय। ई मिथिला के लेल गौरव के बात अछि। कठिन परिस्थिति में अप्पन मेहनत आ लगन सअ ई मुकाम तक पहुंचनाई, कोनो आसान गप्प नहीं अछि। हिनका सअ सबके प्रेरणा लेबअ के चाही।

-------

पांडुलिपियों का हो संरक्षण, विवि को शिक्षा का करना चाहिए मूल्यांकन

समारोह को संबोधित करते मंत्री संजय झा ने कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विवि के कुलपति डॉ. शिशिनाथ झा की ओर इशारा करते कहा कि संस्कृत विवि को बहुत दिनों के बाद एक ईमानदार कुलपति मिला है। आशा करते है कि इनके कार्यकाल में पांडुलिपियों का संरक्षण होगा। वहीं, ललित नारायण मिथिला विवि के कुलपति प्रो. एसपी सिंह से कहा कि विवि को जरुर अपनी शिक्षा का मूल्यांकन करना चाहिए। एक प्रसंग का जिक्र करते उन्होंने कहा कि बहुत सारे छात्र मैथिली में यूपीएससी की परीक्षा पास कर देश के कोने-कोने में है। मुझे नहीं पता कि मिथिला विवि के कितने छात्र आज कहा और किस सेवा से जुड़े है। निश्चित तौर पर विवि को अपने छात्रों की जानकारी रहनी चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.