तिलकेश्वर में गोली मार युवक की हत्या, विरोध में सड़क जाम आगजनी

तिलकेश्वर में गोली मार युवक की हत्या, विरोध में सड़क जाम आगजनी

दरभंगा। तिलकेश्वर ओपी के भुसकुरवा गांव में हथियारबंद अपराधियों ने एक युवक की हत्या गोली म

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 12:24 AM (IST) Author: Jagran

दरभंगा। तिलकेश्वर ओपी के भुसकुरवा गांव में हथियारबंद अपराधियों ने एक युवक की हत्या गोली मार कर दी। घटना शुक्रवार की रात हुई। युवक पूर्वी प्रखंड के रहिपुरा निवासी बद्री प्रसाद सिंह का पुत्र राधेश्याम सिंह (32 वर्ष) था। घटना के बाद इलाके में दहशत है। घटना से नाराज लोगों ने सतीघाट में स्टेट हाई-वे- 56 को जाम कर दिया। सड़क पर आगजनी की और पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। तिलेश्वर पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया। हालांकि बाद में बिरौल पुलिस औ्र स्थानीय लोगों की पहल के बाद करीब पांच घंटे बाद जाम समाप्त हुआ।

जानकारी के अनुसार राधेश्याम ने भुसकुरवा निवासी उमाशंकर यादव के यहां तीन दिन पूर्व ट्रैक्टर चालक के रूप में काम करना शुरू किया था। शुक्रवार की रात ट्रैक्टर दरवाजे पर खड़ी की। भोजन के बाद सोने के लिए गया। इसी दौरान अपराधियों ने उमाशंकर के दरवाजे पर आकर ताबड़तोड़ चार गोलियां चलाईं। उनमें से एक गोली राधेश्याम के गले के थोड़ी नीचे लगी और वह वहीं ढेर हो गया। इसी बीच अपराधी मौका पाकर फरार हो गए।

फायरिग की आवाज पर गृहस्वामी सहित पड़ोस के लोग दरवाजे पर आए तो राधेश्याम छटपटा रहा था। तत्काल उसे पीएचसी सतीघाट लाया गया। जहां प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सिद्धार्थ शंकर विद्यार्थी ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने के बाद पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेजा।

नाराज लोगों ने की ओपी प्रभारी को हटाने की मांग

घटना की सूचना फैलने के साथ ग्रामीणों ने सतीघाट में स्टेट हाई-वे-56 को पीएनबी और हाई स्कूल चौक पर जाम कर दिया। इस दौरान जमकर नारेबाजी की। ग्रामीणों ने स्थानीय पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए ओपी प्रभारी को हटाने की मांग की। कहा- हत्यारों की अविलंब गिरफ्तारी की जाए स्वजनों को उचित मुआवजा दिया जाए। काफी देर बाद बिरौल पुलिस एवं सतीघाट चौक के व्यवसायियों के समझाने बुझाने पर जाम खत्म हुआ। घटना के कारणों की चल रही जांच

तिलकेश्वर ओपी प्रभारी अखिलेश्वर कुमार ने बताया कि अबतक घटना की बाबत आवेदन नहीं मिला है। घटना के कारणों की जांच की जा रही है। उधर, प्रखंड प्रशासन ने परिवारिक लाभ व कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत तात्कालिक सहायता दी है। -

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.