दो एकड़ में 9.5 करोड़ की लागत से बनेगा आइटी पार्क : सांसद

दो एकड़ में 9.5 करोड़ की लागत से बनेगा आइटी पार्क : सांसद

दरभंगा। दरभंगा के सांसद गोपाल जी ठाकुर ने कहा है कि दरभंगा में दो एकड़ जमीन पर 9.5 एक

JagranMon, 01 Mar 2021 12:32 AM (IST)

दरभंगा। दरभंगा के सांसद गोपाल जी ठाकुर ने कहा है कि दरभंगा में दो एकड़ जमीन पर 9.5 एकड़ की लागत से आइटी पार्क का निर्माण होगा। वे रविवार को आइटी पार्क के प्रस्तावित स्थल का भारतीय सॉफ्टवेयर टेक्क्नॉलोजी पार्क (एसटीपीआई) के अधिकारियों के साथ निरीक्षण कर रहे थे। बताया पार्क के जल्द निर्माण के लिए लगातार प्रयासरत रहा। दिसंबर 2019 में जमीन रजिस्ट्री की गई। कोरोना काल के कारण अक्टूबर-2020 में टेंडर का कार्य पूरा हुआ। दरभंगा के महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, रामनगर के ठीक बगल में पार्क का निर्माण होगा। इसमें ग्राउंड प्लस 1 (जी 1) का भवन तैयार होगा। इसके माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व वाली सरकार की महत्वाकांक्षी योजना स्टार्ट अप इंडिया, स्टैंड अप इंडिया से मिथिला के युवा वर्ग को विशेष लाभ मिलेगा। इस साल के अंत तक निर्माण का कार्य पूर्ण हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इस संस्थान के माध्यम से युवा व आम लोग सहित आईटी क्षेत्र से जुड़े लोगों को बहुत ही कम मूल्य पर अत्याधुनिक सुविधा युक्त स्थान मिलेगा, जहां सॉफ्टवेर, ऐप और उससे जुड़ी सुविधाओं का विकास किया जाएगा। इसके माध्यम से युवा व आम लोग आत्मनिर्भर बन सकेंगे। वहीं रोजगार के कई अवसर भी उपलब्ध होंगे।

निरीक्षण के क्रम में सांसद के साथ एसटीपीआई के निदेशक राजीव कुमार, प्रोजेक्ट मैनेजर कौशल किशोर, साइट इंजीनियर विजय कुमार सिंह, निर्माण कंपनी के कनीय अभियंता सुरेंद्र तिवारी, भाजपा जिला मीडिया प्रभारी प्रेम मिश्रा रिकू आदि मौजूद रहे।

मॉडल कॅरियर सेंटर के निर्माण कार्यों की हुई समीक्षा आइटी पार्क के स्थल निरीक्षण के बाद श्रम संसाधन विभाग के सहायक निदेशक (नियोजन) आशीष आनंद के साथ सांसद ने समीक्षा बैठक की। इस दौरान 31 लाख की लागत से बनने वाले मॉडल कॅरियर सेंटर के निर्माण कार्यों का जायजा लिया। सांसद ने कहा कि इस कॅरियर सेंटर के माध्यम से युवा और बेरोजगार अभ्यर्थियों की काउंसलिग, कॅरियर गाइडेंस, प्रशिक्षण सहित कॅरियर से संबंधित सभी प्रकार की सहायता मिलेगी। सभी आधुनिक सुविधाओं से लैस इस केंद्र के माध्यम से युवा अपनी दक्षता को बढ़ाकर आत्मनिर्भर बन सकेंगे।

प्राथमिकता के आधार पर करें सड़कों का निर्माण कार्य

लहेरियासराय परिसदन में ग्रामीण कार्य विभाग के अभियंताओं के साथ प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना फेज 3 की समीक्षा बैठक में सांसद ने कई निर्देश दिए। कहा कि पीएमजीएसवाई फेज थ्री की प्राथमिकता सूची में संसदीय क्षेत्र सहित जिले के अधिक से अधिक सड़कों चयन करें। कोई भी उपयुक्त सड़क वंचित ना रहे। उन्होंने कहा कि फेज 3 में 5 किलोमीटर से अधिक लंबी सड़कों का निर्माण किया जाना है। ताकि विद्यालय, अस्पताल, बाजार, बैंक आदि तक का आवागमन आसान व सुविधाजनक हो सके।

साथ ही पीएमजीएसवाई के तहत छूटे हुए पुलों की सूची तैयार कर निर्माण करने की दिशा में जल्द से जल्द विभागीय पहल करने को कहा। बताया कि फेज 3 के तहत ऐतिहासिक कार्य होगा, सड़कों का जाल बिछेगा और ग्रामीण क्षेत्रों की कनेक्टिविटी मजबूत होने के साथ साथ पीएमजीएसवाई की परिकल्पना पूर्ण होगी। बैठक में अधीक्षण अभियंता अनिल कुमार एवं अन्य सहायक और कनीय अभियंता मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.