पैक्स चुनाव को ले पदाधिकारी कस ले कमर, तैयारी में दे समय : जिलाधिकारी

पैक्स चुनाव को ले पदाधिकारी कस ले कमर, तैयारी में दे समय : जिलाधिकारी

दरभंगा। पैक्स चुनाव के लिए सभी वांछित तैयारी कर ली जाए। पैक्स चुनाव को निष्पक्ष एवं विवाद रहित

JagranSat, 23 Jan 2021 11:39 PM (IST)

दरभंगा। पैक्स चुनाव के लिए सभी वांछित तैयारी कर ली जाए। पैक्स चुनाव को निष्पक्ष एवं विवाद रहित सम्पन्न किया जाए, इसके लिए सभी संबंधित पदाधिकारी पूर्व से तैयारी करने में पर्याप्त समय दें। उपरोक्त बातें जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने कहीं। वे शनिवार को समाहरणालय स्थित आंबेडकर सभागार में पैक्स चुनाव की तैयारी को लेकर बैठक को संबोधित कर रहे थे। जिला सहकारिता पदाधिकारी ने बताया कि प्राथमिक कृषि साख समिति (पैक्स) के निर्वाचन हेतु 30 जनवरी से 2 फरवरी तक नामांकन लिया जाएगा। 3 एवं 4 फरवरी को संवीक्षा होगी। 6 फरवरी को अभ्यार्थी नाम वापस ले सकते है। 15 फरवरी को सुबह के 6:30 से शाम 4:30 बजे तक मतदान कराया जाएगा। डीएम ने मतदान केंद्रों के अनुसार मतपेटिका की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। 30 जनवरी के पहले प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी को प्रशिक्षण दिला देने की बात कहीं गई। बैठक में उप विकास आयुक्त तनय सुल्तानियां, अपर समाहर्ता (विभागीय जांच) अखिलेश प्रसाद सिंह, अनुमंडल पदाधिकारी सदर राकेश कुमार गुप्ता, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी अजय कुमार, जिला सहकारिता पदाधिकारी आदि मौजूद थे।

--------

नल-जल योजना के बचे कामों को 15 फरवरी तक पूरा करें, अन्यथा होगी कार्रवाई

नल-जल योजना की समीक्षा के दौरान डीएम ने कहा कि विगत दिसंबर माह में चलाए गए निरीक्षण अभियान के कारण नल-जल योजना की स्थिति में काफी सुधार हुआ है। लेकिन, अभी भी कहीं-कहीं समस्या है। वहां कार्य कराने की जरूरत है। लगातार निरीक्षण किए जाने के कारण यह स्पष्ट हो गया है कि किन पंचायतों के किन वार्डों में कार्य अपूर्ण है। वहां कौन सी समस्या है। उन्होंने कहा कि जिस वार्ड में बिल्कुल कार्य नहीं हुआ है और पैसे की अग्रिम निकासी कर ली गई है और वहां काम शुरु होने की उम्मीद नहीं है तो वहां नीलाम-पत्र दायर कर राशि की वसूली की जाए। संबंधित के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई जाए।

वैसे वार्ड जहां कार्य पूर्ण होने की उम्मीद है, उन्हें 15 फरवरी तक का समय देकर काम कराया जाए। जहां काम हो गया है और एमबी तथा अभिलेख में अंतर है, ज्यादा अग्रिम राशि की निकासी कर ली गई है, उसका समाजंस करा लिया जाए। वैसी योजना जिनमें कहीं थोड़ी-बहुत लीकेज उत्पन्न हो गई है, उन्हें 15वें वित्त आयोग की राशि से ठीक करा ले। यदि 15वें वित्त आयोग की राशि उपलब्ध नहीं है, तो सूद की राशि से उसे ठीक कर लिया जाए। जिन पंचायतों के जिन वार्डों में काम कराया जाना है, उनकी सूची पंचायतवार बना ली जाए। निरीक्षण प्रतिवेदन में जहां अत्यधिक त्रुटि पाई गई और कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं, उनका अनुपालन एक सप्ताह के अंदर होना चाहिए। साथ ही निरीक्षण के दौरान पाई गई त्रुटि का निराकरण किया गया है या नहीं, इस संबंध में भी प्रतिवेदन उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने कहा कि यदि किसी पंचायत में काम नहीं हो रहा है, तो उसकी सूची बनाकर जिला स्तर पर बैठक कराई जाए। समीक्षा के क्रम में पाया गया कि घनश्यामपुर, गौड़ाबौराम, बहादुरपुर, बेनीपुर और सिंहवाड़ा में नल-जल योजना की प्रगति अपेक्षा के अनुरूप नहीं है। डीएम ने कहा कि जिन योजनाओं में अभी तक कार्य पूर्ण नहीं हुआ है, उन्हें 15 फरवरी तक समय दिया जा रहा है। 15 फरवरी तक वे कार्य पूर्ण कर ले, अन्यथा कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.