कोरोना के पहले और दूसरे प्रभाव से लें सीख, तीसरी से पहले लें टीका : जिलाधिकारी

दरभंगा। जिले में पूरे उत्साह के साथ लोग कोविड का टीका लगावा रहे हैं। लेकिन कहीं-कह

JagranWed, 23 Jun 2021 11:48 PM (IST)
कोरोना के पहले और दूसरे प्रभाव से लें सीख, तीसरी से पहले लें टीका : जिलाधिकारी

दरभंगा। जिले में पूरे उत्साह के साथ लोग कोविड का टीका लगावा रहे हैं। लेकिन, कहीं-कहीं अफवाह फैलाई जा रही है। यह गलत है। यह देखा गया है कि जिन लोगों ने टीका का दोनों डोज लिया था, उनमें से बहुत कम लोग ही कोरोना की दूसरी लहर में कोरोना संक्रमित हुए और संक्रमित हुए भी तो जल्द ही ठीक हो गए। टीका लेने के बाद यदि कोरोना का संक्रमण होता भी है तो परिणाम उतना गंभीर नहीं होता है। उपरोक्त बातें जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने कही। वे बुधवार को समाहरणालय स्थित आंबेडकर सभागार में कोविड टीकाकरण में तेजी लाने को लेकर शहरी क्षेत्र के विभिन्न प्रमुख धर्म के प्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों व शांति समिति के सदस्यों को संबोधित कर रहे थे। कहा- बैठक बुलाने का मकसद यही हैं कि टीकाकरण कार्य में तेजी लाई जाए। पूरे देश में टीकाकरण कार्य में तेजी लाया जा रहा है। बिहार में भी छह माह में 6 करोड़ वयस्कों का टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिले में भी इस लक्ष्य के अनुसार लगभग 26 लाख लोगों का टीकाकरण किया जाना है। सरकार के लगभग सभी विभाग इसमें अपना सहयोग दे रहे है। बिहार में अब तक 14 फीसद लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। कहा कि हम सभी कोरोना महामारी की दूसरी लहर के प्रभाव को देख चुके हैं। कितनी जाने चली गई, कहीं-कहीं शव जलाने की जगह भी नहीं मिलती थी। मृतक के परिजन लाश छोड़ कर चले जाते थे। संक्रमण से ग्रसित लोग जिदगी और मौत के लिए संघर्ष करते थे। काफी प्रयास के बाद इस लहर से हम बाहर निकले हैं। लेकिन, खतरा अभी टला नहीं है। विश्व भर के विशेषज्ञों का कहना हैं कि कोरोना महामारी की तीसरी लहर अक्टूबर-नवंबर तक आएगी। टीकाकरण के अलावा इस महामारी से बचने का दूसरा कोई रास्ता नहीं है। उन्होंने कहा कि को-वैक्सीन और कोविशील्ड दोनों में से टीकाकरण केंद्र पर जो वैक्सीन उपलब्ध हो, उसे लें। बैठक में उप विकास आयुक्त तनय सुल्तानिया, सहायक समाहर्ता अभिषेक पलासिया, अनुमंडल पदाधिकारी सदर राकेश कुमार गुप्ता सहित अंजुमन कारवाने मिल्लत के अध्यक्ष रियाज खान कादरी, मदरसा हमीदिया के अध्यक्ष मो. खालिद रजा, होली रोजरी चर्च के सचिव संजीवन कुमार एक्का, सदस्य स्टीवेन जॉनू सरपिस एवं सदस्य स्टीफेन शीह, आरएसएस के जिला संपर्क प्रमुख आलोक कुमार, काजी शरीयत दारुलकजा इमारते शरिया के मु़फ्ती अरशद रहमानी, कबीर सेवा संस्थान के मो. उमर, अब्दुल गफ्फार, ज्योतिषाचार्य भागवत प्रवक्ता पंडित सोमेश्वर नाथ झा दधीचि, कबीर सेवा संस्थान के नवीन सिन्हा, मां श्यामा मंदिर न्यास समिति के प्रबंधक डॉ. चौधरी हेमचंद्र राय, पार्षद अजय कुमार जालान, राजीव प्रकाश मधुकर आदि मौजूद थे।

--------------

छोटी-छोटी टोलियां बनाकर कोरोना को देंगे मात

बैठक में धर्म-प्रतिनिधियों व सामाजिक संगठनों के लोगों ने कहा कि वे अपने-अपने लोगों की छोटी-छोटी टोलियां बनाकर अपने लोगों को टीका लेने के लिए जागरूक करेंगे। चर्च के सचिव ने कहा कि जीवन या मौत में से यदि जीवन को चुनना है तो कोरोना का टीका लगवाना पड़ेगा। अफवाह वहीं फैलता है, जहां शिक्षा की कमी होती है। कई धर्म प्रतिनिधियों ने कहा कि जहां के लोगों में भ्रम है, वहां के लोगों को समझा कर टीकाकरण केंद्रों तक पहुंचाया जाए। बैठक में बताया गया कि जिन्हें कोविड हो चुका है, वे एक-दो माह बाद टीका ले सकते हैं। डीएम ने कहा कि कोरोना एक ऐसी बीमारी है जिस पर किसी का वश नहीं है। इसका एकमात्र उपाय बचाव ही है। बताया गया कि एक दिन पूर्व रात्रि में अगले दिन के टीकाकरण के लिए टीकाकरण केंद्रों की सूची जिला प्रशासन के फेसबुक, ट्विटर एवं वेब पोर्टल पर जारी कर दी जाती है।

--

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.