लहेरियासराय स्टेशन पर कोविड-19 जांच की सुविधा नहीं, स्पेशल ट्रेन से बिना जांच उतर रहे यात्री

लहेरियासराय स्टेशन पर कोविड-19 जांच की सुविधा नहीं, स्पेशल ट्रेन से बिना जांच उतर रहे यात्री

दरभंगा। मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनल से रविवार की रात 850 बजे लहेरियासराय स्टेशन पर

JagranTue, 13 Apr 2021 12:10 AM (IST)

दरभंगा। मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनल से रविवार की रात 8:50 बजे लहेरियासराय स्टेशन पर पहुंची स्पेशल गाड़ी संख्या-01143 घंटे भर लाइन नहीं मिलने के कारण रूकी रही। इस दौरान बिना स्टॉपेज वाले स्टेशन पर दर्जनों यात्री उतरकर अपने-अपने गंतव्य की ओर चलते गए। स्टेशन पर कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर कोई व्यवस्था नहीं की गई है। आश्चर्यजनक तो यह कि यहां एक भी कोरोना जांच काउंटर नहीं लगा है। नहीं कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर कोई पहल दिखती है। रविवार की रात जब ट्रेन पहुंची तो सुरक्षा के मद्देनजर सिर्फ एक आरपीएफ का जवान तैनात था।

लहेरियासराय के स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि मुंबई से खुलने वाली अतिरिक्त स्पेशल ट्रेन लहेरियासराय स्टेशन पर रविवार की रात 20:50 बजे पहुंची थी। लाइन नहीं मिलने के कारण ट्रेन रात 22:14 तक रुकी हुई थी। उन्होंने कहा कि उक्त स्टेशन मुंबई से पहुंचने वाली ट्रेन का स्टॉपेज नहीं है। जिला प्रशासन की ओर से कोविड-19 के सुरक्षा को लेकर फिलहाल कोई सुविधान नहीं प्रदान की गई है।

इधर स्थानीय गणेश चौधरी ने बताया कि जिला प्रशासन और रेलवे की लापरवाही के कारण बीते रविवार की रात बिना जांच करवाए मुंबई से पहुंचे कई यात्री स्टेशन पर उतरकर अपने-अपने गंतव्यों की ओर जा रहे थे। जब जिला प्रशासन ने दरभंगा जंक्शन पर मुंबई से पहुंचे वाले यात्रियों की कोरोना जांच की व्यवस्था सुनिश्चित की है, तो आखिरकार लहेरियासराय स्टेशन पर मुंबई से पहुंचे यात्री बिना कोरोना जांच करवाए उतर गए। स्टेशन पर फेरी लगाने वाले रंजीत पासवान कहते हैं, बीती रात स्टेशन पर मुंबई वाली स्पेशल ट्रेन पहुंची थी। बहुत देर से ट्रेन खड़ी थी, यात्री ट्रेन की बोगियों से बाहर निकल कर स्टेशन पर घूम रहे थे। इनमें से कई स्टेशन से बाहर भी जा रहे थे।

लहेरियासराय स्टेशन कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन नहीं

लहेरियासराय स्टेशन पर कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच रेलवे प्रशासन की ओर से कोई सावधानी नहीं नहीं बरती जा रही है। स्टेशन के प्लेटफार्म पर यत्र-तत्र कूड़ा फैला हुआ है। शौचालय में गंदगी के कारण यात्री अंदर जाना नहीं चाहते हैं। पीने की पानी की समुचित व्यवस्था भी नहीं है। बता दें कि स्टेशन पर 20 ट्रेनों का ठहराव है। रोजाना 15 हजार से अधिक यात्रियों का आवागमन होता है। स्टेशन पर साफ-सफाई और ट्रेनों की सैनिटाइज नहीं होने के चलते इन यात्रियों के सामने कोरोना को रेल प्रशासन आमंत्रण दे रहा है।

--------------

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.