पछुआ हवा से भभकी आग, 700 बीघे की फसल जलकर राख

पछुआ हवा से भभकी आग, 700 बीघे की फसल जलकर राख

बक्सर सोमवार की सुबह से ही चल रही तेज पछुवा हवा के बीच जिले के अनेक स्थानों पर आगलगी क

JagranMon, 19 Apr 2021 09:51 PM (IST)

बक्सर : सोमवार की सुबह से ही चल रही तेज पछुवा हवा के बीच जिले के अनेक स्थानों पर आगलगी की घटनाएं हुई हैं। इन घटनाओं में करीब 700 बीघा से अधिक की फसल जल जाने का अनुमान है। वहीं आग पर काबू पाने को सुबह से लेकर शाम तक अग्निशमन कर्मचारी एक स्थान से दूसरे स्थान तक दौड़ते हुए परेशान रहे।

राजपुर अंचल के पलिया व सिकरौल पंचायत के बधार में अचानक आग लग गई। जिससे तीन गांव के दर्जनों किसानों के लगभग 400 बीघे में खड़ी फसल जलकर राख हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि सोमवार की दोपहर राजापुर गांव के पास कचरे के ढेर पर किसी ने चूल्हे से निकली राख फेंक दी थी। इससे निकली चिगारी से काटे गए गेहूं के खेत के डंठल में आग पकड़ लिया। तेज पछुवा के गर्म हवा होने से निकली चिगारी पीठारी गांव के बधार में लगे गेहूं के खेत उड़कर आ गई और आग लग गई। धीरे-धीरे आग की लपटें धधक उठी। आग बुझाने के लिए गांव के ग्रामीणों ने बिजली विभाग से बिजली सप्लाई करने की मांग की, लेकिन बिजली सप्लाई नहीं हुई। घंटों बाद घटनास्थल पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग बुझाने का काम शुरू किया। जिसके प्रयास से लगभग तीन घंटे कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। इस अगलगी में पीठारी गांव के किसान परमानंद यादव, धर्मदेव यादव, रामाशीष यादव ,उमाशंकर शर्मा, वकील कुशवाहा ,राम प्यार कुशवाहा, उपेंद्र सिंह, कविद्र सिंह, शैलेश सिंह, जयप्रकाश सिंह सहित अन्य दर्जनों किसानों का फसल जलकर पूरी तरह से राख हो गए। घटना की सूचना पर पहुंचे चौसा सीओ नवलकांत ने जांच पड़ताल शुरू कर दिया है। दूसरी तरफ पीठारी गांव के बधार में खेत के डंठल में आग लगने से कई बीघा में छोड़ा गया पशु चारा बनाने के लिए डंठल भी जलकर राख हो गए। इनसेट : - राजापुर से लगी आग ने कई गांव को किसानों की पहुचाई क्षति राजापुर गांव से उठी आग से जहां तीन गांव के किसानों को भारी नुकसान पहुंचाया। लेकिन, ऊपर से चल रही तेज पछुवा की गर्म हवा पेट्रोल की तरह आग फैलाने के काम आई। अभी किसान व पहुंची फायर ब्रिगेड की वाहन पीठारी व ओरा गांव की बधार को कंट्रोल कर रही थी। तब तक इस आग से निकली चिगारी संगराव गांव के बधार में पहुंचकर डंठल वाले खेत में आग पकड़ लिया। संयोग ही कहा जाएगा कि उसके बगल में गेहूं का फसल लगा था। लेकिन किसानों की तत्परता से आग को बुझा दिया गया। वहीं, अकोढ़ी गांव में भी आग लगने से डंठल तो जल गया। लेकिन खेत में लगी फसल को किसानों ने सुरक्षित बचा लिया। गांव के किसानों ने बताया कि राधा मोहन सिंह, अखिलेश सिंह सहित अन्य किसानों के खेत में हार्वेस्टर पहुंचकर गेहूं काट रहा था। तब तक बगल की खेत में तेज लपटों के साथ कहीं से निकली चिगारी ने आग पकड़ लिया। किसानों की सूझबूझ से तुरंत आग पर काबू पा लिया गया।

नावानगर में भी आग से भारी नुकसान

संस,नावानगर (बक्सर):: अंचल क्षेत्र के गिरधरबरांव गांव के बधार में सोमवार को आग लगने से चार गांव के किसानों की सैकड़ो बीघा खड़ी गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार गिरधरबराव गांव की बधार में लगी आग पछुआ तेज हवा के करण देखते-देखते विकराल रूप ले लिया। जिसमें लगभग डेढ़ सौ बीघा में लगी गेहूं की फसल जल गई। सूचना पर अग्निशमन की तीन गाड़ियां मौके पर पहुंच तो गई, पर पानी के अभाव में तीनों गाड़ियां व अग्निशमन के कर्मी तमाशबीन बने रहे। किसानों ने बताया कि दोपहर में जब आग लगी थी, उस समय तेज हवा के चलते बिजली नहीं थी। लिहाज अग्निशमन की गाड़ियों को पानी नहीं मिल पाया। अगलगी में वैना गांव के किसान दशरथ यादव, लक्ष्मण यादव, सुरेश यादव, निरंजन कमकर, लालू यादव, नरेश यादव तथा चनवथ गांव के घोरी महतो सहित पनियारी व गिरधरबराव गांव के अनेको किसान की फसल जल गई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.