आहर में डूबने से छात्र समेत तीन लोगों की चली गई जान

आहर में डूबने से छात्र समेत तीन लोगों की चली गई जान

आरा। भोजपुर जिले के अलग-अलग जगहों पर गुरुवार को आहर और नदी में डूबने से एक छात्र समेत तीन लोगों की मौत हो गई। मृतकों में दो जगदीशपुर व एक चरपोखरी थाना क्षेत्र का निवासी है। तीनों शवों का पोस्टमार्टम सदर अस्पतालआरा में कराया गया।

Publish Date:Thu, 13 Aug 2020 07:58 PM (IST) Author: Jagran

आरा। भोजपुर जिले के अलग-अलग जगहों पर गुरुवार को आहर और नदी में डूबने से एक छात्र समेत तीन लोगों की मौत हो गई। मृतकों में दो जगदीशपुर व एक चरपोखरी थाना क्षेत्र का निवासी है। तीनों शवों का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल,आरा में कराया गया। पहला हादसा जगदीशपुर थाना क्षेत्र के छोटकी हरदियां गांव में हुआ। जहां, गुरुवार की दोपहर एक बजे आहर में डूबने से एक छात्र की जान चली गई। सदर अस्पताल, आरा में इलाज के लिए लाने के बाद डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। मृतक 19 वर्षीय हरेन्द्र सिंह छोटकी हरदियां गांव निवासी भरत सिंह का पुत्र था। वह आईटीआई का छात्र था। बताया जा रहा कि जगदीशपुर के छोटकी हरदियां गांव निवासी हरेन्द्र सिंह गुरुवार की दोपहर घर से खेत में खाद छींटने गया हुआ था। लौटने के क्रम में पैर फिसलने के कारण आहर में समा गया। इस दौरान हो-हल्ला होने पर गांव के ग्रामीण जुट गए। जिसके बाद आहर में डूबे युवक को निकालकर संतुष्टि के लिए सदर अस्पताल, आरा लाया गया। जहां, इलाज के दौरान डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। छोटकी हरदियां गांव निवासी भरत सिंह को एक पुत्री के अलावा चार पुत्र थे। जिसमें हरेन्द्र तीसरे नंबर पर था। बेटे की मौत के बाद मां शांति देवी का रो-रोकर बुरा हाल था। आसपास के लोग ढांढस बंधाने में लगे थे। तीन पुत्र राज कुमार, राजाराम, महेन्द्र और एक पुत्री उर्मिला कुमारी दंपती का सहारा बच गए हैं।

---

पैर फिसलने से नदी में जा गिरा अधेड़, मौत

जगदीशपुर थाना क्षेत्र अन्तर्गत मंगुरा गांव के समीप छेर नदी में डूबने से एक अधेड़ की मौत हो गई। बाद में ग्रामीणों के सहयोग से शव बरामद किया गया। गुरुवार की सुबह शव का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल, आरा में कराया गया। इसे लेकर पुलिस ने यूडी केस दर्ज किया गया है। मृतक 40 वर्षीय रामा शंकर पासवान मंगुरा गांव निवासी निर्मल पासवान का पुत्र था । पेशे से मजदूर था। बताया जा रहा जगदीशपुर थाना के मंगुरा गांव निवासी रामा शंकर पासवान शौच करने के लिए छेर नदी के किनारे गया हुआ था। इस दौरान अचानक पैर फिसलने से वह नदी में गिरकर डूब गया।जिससे उसकी मौत हो गई।लेकिन, जब देर शाम घर नहीं पहुंचे तो परिजनों ने खोजबीन करना शुरू कर दिया।खोजबीन के दौरान नदी से शव बरामद किया गया। सूचना मिलते ही जगदीशपुर पुलिस वहां पहुंच गई। मृतक अपने चार भाई व बहन में चौथे स्थान पर था। मृतक के परिवार में मां राधिका देवी,पत्नी पूनम देवी एवं एक पुत्री गुड़िया कुमारी है। हादसे में मौत के बाद मृतक की मां राधिका देवी, पत्नी पूनम देवी एवं परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल है। आसपास के लोग ढांढस बंधाने में लगे थे।

-----

बॉक्स

--

खेत में गए ग्रामीण की डूबकर हो गई मौत

संवाद सूत्र, चरपोखरी : चरपोखरी थाना क्षेत्र के बगुसरा गांव के आहर में डूबने से एक ग्रामीण की मौत हो गई। बाद में शव बरामद किया गया। मृतक 40 वर्षीय तीर्थनाथ प्रसाद चरपोखरी के बड़हरा गांव निवासी देवनंदन सिंह का पुत्र था। बताया जाता है कि बड़हरा गांव निवासी तीर्थनाथ प्रसाद बुधवार की शाम शौच करने के लिए बगुसरा आहर के समीप गया हुआ था।वापस लौटने के दौरान उसका पैर फिसल गया। जिससे पानी में डूबकर उसकी मौत हो गई। इधर, देर शाम घर नहीं लौटने पर स्वजनों ने काफी खोजबीन की। लेकिन, कुछ भी पता नहीं चला। इस बीच गुरुवार को आहर से शव बरामद होते ही भीड़ जमा हो गई। सूचना मिलते ही पुलिस भी वहां पहुंच गई। मृतक अपने चार भाइयों में मांझिल था।मृतक के परिवार में पत्नी विमला देवी व तीन पुत्र आदित्य कुमार,मनीष कुमार एवं सम्राट कुमार है। हादसे के बाद मृतक के घर में कोहराम मच गया। मृतक की पत्नी विमला देवी एवं परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.