भोजपुर के गांवों में डायरिया का कहर, नौ बच्चों की मौत

भोजपुर जिले के गड़हनी प्रखंड के दो गांवों में डायरिया का कहर जारी है।

JagranFri, 16 Jul 2021 11:33 PM (IST)
भोजपुर के गांवों में डायरिया का कहर, नौ बच्चों की मौत

आरा। भोजपुर जिले के गड़हनी प्रखंड के दो गांवों में डायरिया का कहर जारी है। इन दोनों गांव में चार दिनों के अंदर नौ बच्चों की मौत हो चुकी है। जबकि, दो दर्जन से अधिक बच्चे आक्रांत बताए जाते हैं। मृतकों में दो सगे भाई भी हैं। आक्रांत बच्चों में कै-दस्त की शिकायत है। जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा एवं सिविल सर्जन एलपी झा के आदेश पर मेडिकल टीम गठित कर आक्रांत बच्चों का इलाज किया जा रहा है। इस दौरान अगिआंव विधायक मनोज मंजिल ने प्रभावित टोला का जायजा लिया। सर्वाधिक जानें गड़हनी के पहरपुर अनुसूचित जाति टोला में गई है। यहां चार दिनों के अंदर छह बच्चों की मौत हो चुकी है। जबकि, 11 आक्रांत बताए जाते हैं। जानकारी के अनुसार पहरपुर निवासी इंदल राम की तीन वर्षीय पुत्री रजनी कुमारी, बिजेंद्र राम का चार वर्षीय पुत्र महाबीर कुमार, तीन वर्षीय पुत्र अरुण कुमार, उपेन्द्र राम का दो वर्षीय पुत्र प्रमोद कुमार, नमी राम का तीन वर्षीय पुत्र राज कुमार, जितेंद्र राम का तीन वर्षीय पुत्र रवि कुमार की मौत डायरिया से हुई है। जबकि, यहां 11 बच्चे अब भी बीमार हैं। इसी तरह गड़हनी प्रखंड के कुरकुरी पंचायत अंतर्गत दुबौली -लभुआनी अनुसूचित जाति टोला गांव में डायरिया की चपेट में आने से गरीबा राम के छह वर्षीय पुत्र गोलू कुमार, धनजी राम की छह वर्षीय पुत्री पुआ कुमारी तथा सुनील राम के तीन वर्षीय पुत्र खेसारी कुमार की मौत हो गई। यहां भी करीब दर्जनभर लोग आक्रांत बताए जाते हैं।

---------

बिजेंद्र राम पर टूटा दुखों का पहाड़, दो बेटों की मौत से मातम

पहरपुर गांव निवासी विजेन्द्र राम के परिवार पर सबसे अधिक दुखों का पहाड़ टूटा है। दो बेटों चार वर्षीय पुत्र महाबीर कुमार व तीन वर्षीय पुत्र अरुण कुमार की मौत के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। एक लड़का एवं एक लड़की अभी जीने का सहरा बची है। बेटों के वियोग में असरिया देवी का रो-रोकर बुरा हाल है।

----------------------- विधायक ने की डीएम से बात, गांव पहुंची मेडिकल टीम

इधर, अगिआंव विधायक मनोज मंजिल ने भोजपुर डीएम से बात की तथा मेडिकल टीम को तुरंत भेजने की बात कही। इसके बाद गड़हनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की टीम पहरपुर पहुंच गई तथा बच्चों की स्वास्थ्य जांच व इलाज में जुट गई। इसके अलावा भाकपा-माले गड़हनी प्रखंड सचिव राम छपित राम और बड़ौरा पंचायत सचिव ओमप्रकाश के नेतृत्व में टोला में साफ सफाई शुरू की गई। पहरपुर में जांच दल टीम में भाकपा-माले गड़हनी प्रखंड सचिव राम छपित राम,बड़ौरा ब्लाक सचिव ओमप्रकाश, माले नेता रामायण, राजद नेता सुदर्शन यादव, कामेश्वर कुशवाहा, विधायक के निजी सचिव आनंद कुमार, संजय साजन मौजूद थे।

---

ब्लीचिग पाउडर का छिड़काव शुरू

कुरकुरी पंचायत के दुबौली-लभुआनी अनुसूचित जाति टोला में डायरिया की चपेट में आने से तीन बच्चों की मौत के बाद लोग डरे-सहमे हुए हैं। दुबौली- लभुआनी में रामसूरत मुसहर की पत्नी शारदा देवी, उपेंद्र मुसहर की पुत्री टकली कुमारी, ददन मुसहर की पुत्री रीता कुमारी, प्रमोद मुसहर की पुत्री डोली कुमारी, भगिया देवी, मौसम कुमार सहित दर्जनभर लोग आज भी बीमार हैं। बताया जाता है कि दुबौली-लभुआनी में स्वास्थ्य विभाग द्वारा ब्लीचिग पाउडर के छिड़काव की गई है लेकिन, स्वास्थ्य कैंप लगाकर जांच नहीं की गई है। जिससे टोले के लोग भयभीत है। ददन मुसहर, गणेश राम, कुमारी देवी ने बताया कि चार-पांच दिनों के अंदर तीन लोगों की डायरिया से मौत हो गई है। मौत के लक्षण के बारे में बताया की कै-दस्त हुआ था। बाद में बच्चों ने दम तोड़ दिया।

----

झोला छाप डाक्टरों के चक्कर में पड़े रहे स्वजन, चली गई जान

बताया जाता है कि पहरपुर गांव के बीमार बच्चों बच्चों को पहले कै- दस्त की शिकायत थी। जिसके बाद परिजनों ने आसपास के डाक्टरों से ही इलाज करने के चक्कर में पड़ गए। जिसके बाद धीरे-धीरे बच्चों ने दम तोड़ना शुरू कर दिया। बाद में इसकी सूचना गड़हनी अस्पताल प्रबंधन को दी गई। अस्पताल प्रबंधन द्वारा पहरपुर गांव में ब्लीचिग पाउडर के छिड़काव के साथ परिजनों को व डायरिया पीड़ित बच्चों को ओआरएस घोल, बुखार की दवा, विटामिन की दवा, उल्टी के दस्त की दवा का वितरण शुरू कर दिया गया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा रीता शर्मा के नेतृत्व में डा. मनन भक्त, स्वास्थ्य प्रबंधक अनिल कुमार कैंप कर रहे हैं।

---

पहरपुर गांव में अभी भी दर्जनों बच्चे हैं बीमार

-मनीष कुमार,उम्र-लगभग 12 महीना,पिता-भगवान राम

-मधु कुमारी,उम्र-लगभग 12 महीना,पिता-बिटेश्वर राम

-राधिका कुमारी,उम्र-लगभग 4 साल,पिता-बिटेश्वर राम

-संकित कुमार,उम्र-लगभग 3 साल,पिता-गणेष राम

-बसंती कुमारी,उम्र-लगभग 4 साल,पिता-मुन्ना राम

-कविता कुमारी,उम्र-लगभग 18 महीना,पिता-मुन्ना राम

-काजल कुमारी,उम्र-लगभग-7 वर्ष,पिता-इंदल राम

-चंदा कुमारी,उम्र-लगभग 4 वर्ष,पिता-इंदल राम

-कमलेश कुमार,उम्र-लगभग-5 वर्ष,पिता-रुना राम

-राज रानी,उम्र-लगभग 12 महीना,पिता-दिनेश राम-

अमरेश कुमार,उम्र-लगभग-12 महीना,पिता-नागेंद्र राम

---

डायरिया से पीड़ित गंभीर बच्चों का सदर अस्पताल में होगा इलाज: सीएस आरा: गड़हनी प्रखंड के पहरपुर तथा दुबौली गांव में डायरिया से आक्रांत हुए दर्जनों बच्चों में से गंभीर बच्चों को फौरन जिला मुख्यालय आरा स्थित सदर अस्पताल रेफर करने का निर्देश भोजपुर सिविल सर्जन डा. एलपी झा ने गड़हनी प्राथमिक चिकित्सा केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को दिया है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के नेतृत्व में टीम गठित कर प्रभावित गांवों में भेजा गया है, जो वहां लगातार कैंप कर रही है। टीम से मृतकों व बीमारों की संख्या समेत विस्तृत रिपोर्ट तलब की गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.