भोजपुर में पोखर से मिला शव, विरोध में सड़क जाम

भोजपुर जिले के सहार थाना क्षेत्र अन्तर्गत पेऊर गांव के समीप नासरीगंज-सकड्डी स्टेट हाईवे किनारे स्थित गड्ढे से शनिवार की सुबह एक युवक का शव मिलने के बाद आक्रोशित ग्रामीण सड़क पर उतर गए।

JagranSat, 24 Jul 2021 10:58 PM (IST)
भोजपुर में पोखर से मिला शव, विरोध में सड़क जाम

आरा। भोजपुर जिले के सहार थाना क्षेत्र अन्तर्गत पेऊर गांव के समीप नासरीगंज-सकड्डी स्टेट हाईवे किनारे स्थित गड्ढे से शनिवार की सुबह एक युवक का शव मिलने के बाद आक्रोशित ग्रामीण सड़क पर उतर गए। इस दौरान पेऊर गांव के समीप स्टेट हाईवे को जाम कर काफी देर बवाल काटा। भाकपा-माले के नेतृत्व में सड़क जाम कर रहे ग्रामीण मुआवजा के लिए अड़े रहे। बाद में दोपहर एक बजे सहार थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार , प्रखंड विकास पदाधिकारी चंदा कुमारी एवं सीओ स्नेही सोनल द्वारा मृतक आश्रितों को करीब चार लाख 20 हजार रुपये का चेक दिए जाने के बाद सड़क जाम समाप्त हो सका। इस दौरान करीब सात घंटे तक परिचालन अवरुद्ध रहा। मृतक 35 वर्षीय डोमन चौधरी पेऊर गांव निवासी घुरा चौधरी का पुत्र था। शव का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल, आरा में कराया गया। डूबने से मौत की बात सामने आ रही है।

----

एक दिन पूर्व घर से निकला था, खोज रहे थे स्वजन

बताया जा रहा कि पेऊर गांव निवासी डोमन चौधरी शुक्रवार की सुबह करीब नौ बजे सुबह घर से शौच करने के लिए निकला था। लेकिन, घर वापस नहीं लौटा। इस दौरान स्वजनों ने खोजबीन की। लेकिन, किसी प्रकार का कोई सुराग नहीं मिला। शनिवार की सुबह करीब छह बजे सड़क के किनारे पानी से भरे हुए पोखरानुमा गड्ढे से शव मिलने पर कोहराम मच गया। ग्रामीणों ने भाकपा- माले के प्रखंड सचिव उपेंद्र भारती के नेतृत्व में मुआवजे को लेकर नासरीगंज -सकड्डी हाईवे को पेऊर गांव के समीप जाम कर दिया और मुआवजा की मांग करने लगे। इधर, सूचना मिलते ही पंचायत के मुखिया विनोद राय, सरपंच नीतीश कुमार, पूर्व सरपंच राम सुभग सिंह, भाजपा नेता घनश्याम राय, पूर्व जिप सदस्य मीना कुमारी, समिति सदस्य देवंती देवी, पैक्स अध्यक्ष रंजय कुमार, सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश कुमार ने पीड़ित परिवार से मिलकर सांत्वना दी। सीओ स्नेही सोनल एवं बीडीओ चंदा कुमारी से वार्ता के बाद एक बजे जाम हटा। आपदा राहत कोष से चार लाख का चेक व 20 हजार का चेक अलग से प्रदान किया गया। मुखिया विनोद राय द्वारा पीड़ित परिवार को पांच हजार रुपये अलग से दिया गया

----

सात बच्चों के सिर से उठा पिता का साया

डोमन चौधरी के मौत के बाद परिवार के नौ सदस्यों के समक्ष जीविकोपार्जन की समस्या उत्पन्न हो गई है। डोमन चौधरी को तीन पुत्र एवं 4 पुत्री हैं। जिसमें सबसे बड़ी पुत्री पुष्पा कुमारी की दो माह पहले शादी हुई थी। बड़े पुत्र 16 वर्षीय सूरज कुमार के कंधों पर तीन बहनों खुशी कुमारी, रोहणी कुमारी, खुशबू कुमारी की शादी एवं जीविकोपार्जन की जिम्मेवारी आ गई है। नन्हे- नन्हे दो भाई अंश कुमार एवं आयुष कुमार की जिम्मेवारी भी सूरज कुमार को निभानी होगी। पत्नी चंपा देवी एवं पिता घुरा चौधरी का रो -रो कर बुरे हाल था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.