भोजपुर में बालू लदे 41 ट्रक जब्त, 40 लाख रुपये जुर्माना

भोजपुर में अवैध बालू खनन एवं परिवहन का मामला विभाग की तमाम कोशिशों एवं प्रयासों के बाद भी नहीं थम रहा है।

JagranFri, 21 May 2021 10:38 PM (IST)
भोजपुर में बालू लदे 41 ट्रक जब्त, 40 लाख रुपये जुर्माना

आरा। भोजपुर में अवैध बालू खनन एवं परिवहन का मामला विभाग की तमाम कोशिशों एवं प्रयासों के बाद भी नहीं थम रहा है। हालात यह हो गया है कि भोजपुर में तू डाल-डाल तो मैं पात-पात वाली कहावत को बालू माफिया चरितार्थ कर रहे हैं। जिले के बालू घाटों से बालू का अवैध खनन और परिवहन बदस्तूर जारी है। कोई ऐसा दिन नहीं है, जहां विभाग अवैध बालू लदे ओवरलोडेड ट्रक और ट्रैक्टर को जब्त नहीं कर रहा है। जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा के आदेश पर प्रतिदिन छापेमारी अभियान जिले में जारी है। बालू घाटों के ठेकेदार ब्रॉडसन कंपनी द्वारा ठेका को सरेंडर कर देने के बाद जिला प्रशासन ने सभी बालू घाटों को सील कर प्रतिबंध लगा दिया है। बावजूद घाटों से अवैध बालू खनन एवं ढुलाई का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। परिवहन एवं खनन विभाग के अधिकारी दिन में छापेमारी अभियान चलाते हैं, जबकि बालू माफिया और ट्रकों को पास कराने वाले लाइनर रात के अंधेरे में दर्जनों ट्रकों को प्रतिदिन पास करा देते हैं। इसकी जानकारी मिलने के बाद जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा एवं एसपी राकेश कुमार दूबे ने आरा सदर अनुमंडल पदाधिकारी वैभव श्रीवास्तव एवं सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पंकज रावत के नेतृत्व में छापेमारी दल का गठन कर गुरुवार की रात में छापेमारी करने का आदेश जारी किया। जिलाधिकारी के आदेश के आलोक में टीम शुक्रवार की रात लगभग 9:30 बजे के बाद चांदी थाना क्षेत्र के अखगांव गांव से लेकर संदेश थाना क्षेत्र से पहले सड़कों पर अपना जाल बिछाया जिसमें एक- एक कर ओवरलोडेड अवैध बालू लदे 41 फंस गए और अधिकारियों ने जब्त कर लिया। छापेमारी अभियान रात 3.30 बजे तक चला। जब्त सभी ट्रकों से परिवहन एवं खनन विभाग ने जुर्माने के रूप में लगभग 40 लाख रुपये वसूल किया। आश्चर्य की बात यह है कि सदर अनुमंडल पदाधिकारी एवं सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पूरी रात सड़कों पर छापेमारी अभियान चलाते रहे और इस दौरान सड़क मार्ग पर पड़ने वाले थाना क्षेत्रों की पुलिस सोती रही और ड्यूटी पर तैनात दंडाधिकारी गायब रहे। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सदर अनुमंडल पदाधिकारी ने ड्यूटी पर तैनात शिफ्टवार तीनों दंडाधिकारियों का वेतन अगले आदेश तक बंद करते हुए स्पष्टीकरण पूछा है। साथ हीं कैसे और किस परिस्थिति में अजीमाबाद, चांदी एवं संदेश थाना क्षेत्र से बालू लदे ट्रक गुजर रहे हैं। इसे लेकर अजीमाबाद, चांदी और संदेश थाना प्रभारी से स्पष्टीकरण पूछा गया है। सदर अनुमंडल पदाधिकारी एवं सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी की इस बड़ी कार्रवाई के बाद ड्यूटी पर तैनात दंडाधिकारी से लेकर संबंधित थाना क्षेत्र के थानाध्यक्षों के बीच खलबली मच गई है। पूरी रात चली छापेमारी टीम में सदर अनुमंडल पदाधिकारी एवं सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के अलावे एमवीआई विनोद कुमार एवं मोबाइल दरोगा हरिशंकर सिंह मौजूद रहे। शुक्रवार को परिवहन विभाग के इन दोनों अधिकारियों ने जब्त अवैध बालू लदे ओवरलोडेड ट्रकों से जुर्माना की राशि वसूल किया।

-----

रात में सोते हैं विभाग के पदाधिकारी और बालू लेकर गुजर जाते हैं ट्रक:

जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा के आदेश पर भले ही परिवहन एवं खनन विभाग के पदाधिकारी दिन में छापेमारी अभियान चलाकर आदेश की खानापूर्ति कर लेते हैं पर असली खेल जैसे ही रात शुरू होती है, बालू माफियाओं की मिलीभगत से एक- एक कर रात के अंधेरे में ट्रकों को पास करा दिया जाता है। सूत्र बताते हैं कि कोई ऐसा दिन नहीं जब दर्जनों ओवरलोडेड बालू लदे ट्रक रात के अंधेरे में स्थानीय विभागीय पदाधिकारियों की मिलीभगत से नहीं गुजरते हैं। इसका एक दिन का उदाहरण सदर अनुमंडल पदाधिकारी वैभव श्रीवास्तव एवं सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पंकज रावत के नेतृत्व में चली छापेमारी अभियान है।

-----

दिन में छापेमारी और रात में चलती है वसूली:

जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा को गुप्त सूचना मिली है कि विभागीय पदाधिकारी उनके आदेश पर भले हीं दिन में छापेमारी अभियान चलाकर खानापूर्ति कर लेते हैं, जबकि रात में विभागीय पदाधिकारी सड़कों पर निकलकर वसूली करते हैं। वसूली के एवज में वे ओवरलोडेड वाहनों को पास कराते रहते हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि अवैध बालू के खनन एवं परिवहन को रोकने के लिए सभी तमाम उपायों को तत्काल प्रभाव से लागू किया जाएगा और संलिप्तता की पुष्टि होने के बाद विभागीय जिम्मेदार पदाधिकारियों के विरुद्ध दंडात्मक एवं अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.