भोजपुर में 16 दिनों के लॉकडाउन में संक्रमण से डेढ़ गुना अधिक हुई रिकवरी

विगत पांच मई से शुरू हुए लॉकडाउन का व्यापक असर भोजपुर में अब दिखने लगा है।

JagranFri, 21 May 2021 10:40 PM (IST)
भोजपुर में 16 दिनों के लॉकडाउन में संक्रमण से डेढ़ गुना अधिक हुई रिकवरी

आरा। विगत पांच मई से शुरू हुए लॉकडाउन का व्यापक असर भोजपुर में अब दिखने लगा है। विगत 16 दिनों से जारी लॉकडाउन में संक्रमण से डेढ़ गुना अधिक रिकवरी देखने को मिली। विभागीय आंकड़ों के मुताबिक पांच मई से 20 तक जहां 1314 लोग संक्रमित हुए, वहीं 1996 संक्रमित कोरोना को मात देकर स्वस्थ भी हो चुके हैं। इस दौरान कोरोना संक्रमण का ग्राफ लगातार नीचे गिरता दिख रहा है। लॉकडाउन से पहले जहां दैनिक संक्रमण की संख्या चार मई को 201 थी, वह 15 मई को एक माह के न्यूनतम स्तर 29 तक पहुंच गई थी। साथ ही 10 मई के बाद से यह संख्या दहाई अंक तक सिमट गई है। इधर लॉकडाउन के बाद दैनिक संक्रमण दर में भी अधिकांश दिनों में गिरावट देखी गई है। आठ मई को तो दैनिक संक्रमण दर में सर्वाधिक 84 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा जिले में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है। पांच मई से 20 मई तक 1996 संक्रमित स्वस्थ हुए हैं। जिसमें सर्वाधिक 210 संक्रमित आठ मई को एक दिन में स्वस्थ घोषित किए गए। फिर भी कोरोना संक्रमण की इस घटती रफ्तार को बरकरार रखने के लिए अभी पूरी तरह से एहतियात बरतने की दरकार है। लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं की खरीददारी के लिए निर्धारित सीमित समय में लोगों की असीमित भीड़ हो रही है, जिसमें अधिकांश जगहों पर दो गज दूरी, मास्क जरूरी का नारा भी विफल साबित होता नजर आता है। ऐसे में 25 मई तक घोषित लॉकडाउन तक विशेष एहतियात बरतना निहायत जरूरी है। वरना संक्रमण के पुन: बढ़ने का खतरा अब भी बना हुआ है।

------------

दिनांक संक्रमण रिकवरी

05 मई 109 159

06 मई 172 162

07 मई 190 195

08 मई 160 210

09 मई 103 092

10 मई 071 127

11 मई 097 105

12 मई 043 105

13 मई 069 070

14 मई 071 166

15 मई 029 121

16 मई 052 135

17 मई 033 104

18 मई 031 082

19 मई 039 083

20 मई 045 080 टोटल 1314 1996

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.