दरिंदे मोहम्मद मेजर के लिए फांसी मांग रहीं अररिया के महादलित टोले की महिलाएं, किए कई चौंकाने वाले खुलासे

बिहार के अररिया में हुई छह साल की बच्ची के दुष्कर्म की वारदात का आरोपी मोहम्मद मेजर अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। गांव की महिलाओं ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। महिलाओं की मानें तो वो किसी के घर भी घुस जाता था और

Shivam BajpaiTue, 07 Dec 2021 01:24 PM (IST)
बिहार के अररिया जिले का मामला (कान्सेप्ट इमेज)।

संवाद सूत्र, अररिया: बिहार के अररिया जिले के भरगामा में 6 साल की बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म मामले के बाद आरोपी मोहम्मद मेजर फरार चल रहा है। इस वारदात के बाद कई सनसनीखेज खुलासे हुए हैं। मोहम्मद मेजर के ऊपर दुष्कर्म का ये पहला आरोप नहीं था। इससे पहले भी वो तीन मामलों में आरोपी रहा है। सवाल यहां ये उठता है कि आखिर दरिंदे को जेल क्यों नहीं हुई? इसका जवाब जब तलाशने के लिए महादलित टोले की महिलाओं से बात की गई तो उन्होंने चौंकाने वाले बयान दिए।

महिलाओं ने बताया कि मोहम्मद मेजर का पिता मुखिया है। गांव में उसकी दबंगई चलती है। वो कभी भी किसी के घर पर घुस जाता था। फिर महिलाओं की आबरू के साथ खेलता और चला जाता था। महिलाओं ने बताया कि मेजर आवाज उठाने पर जान से मारने की धमकी देता था। लिहाजा, किसी ने कभी भी कुछ कहने की हिम्मत नहीं की। जो नहीं सह पाए वो गांव छोड़कर बाहर चले गए। दर्जनों परिवार संबंधित गांव से पलायन कर चुके हैं। 

6 साल की बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म के मामले में भी महिलाओं ने कहा कि ऐसा ही कुछ उस दिन भी हुआ। पीड़ित परिवार का ट्रैक्टर से खेत जोतने के बाद मेजर उनके घर जा पहुंचा और वहां मौजूद बच्ची से पानी मांगने लगा। बच्ची पानी लेकर आई, तो उसने उसे जबरन पकड़ लिया और अपने साथ लेकर चला गया। गांव वालों की मानें तो उस समय मोहम्मद मेजर ने शराब भी पी रखी थी।

पंचायत कर सुलझा दिया जाता था मामला

बच्ची के साथ हुए गंदे काम के बाद एक और खुलासा हुआ है। गांव के लोग उसके आतंक से आहत थे। इस मामले के बाद भी पंचायत की गई। पंचायत में मामले को सुलझाने की कवायद भी शुरू की गई। मतलब इतना जघन्य अपराध करने वाले को छोड़ने के लिए लेन-देन की पेशकश भी हुई। इससे साफ होता है कि इससे पहले की करतूतों को भी इसी तरह छिपा दिया जाता रहा होगा।  गांव की महिलाओं की मांग है कि दरिंदे को फांसी की सजा दी जाए। 

इधर, विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने मामले को लेकर आक्रोश रैली निकाली। रैली शहर के बाजार समिति मार्केटिंग यार्ड से निकाली गई। जो शहर के मुख्य मार्ग बस स्टैंड एडीबी चौक होते हुए चांदनी चौक पर जाकर संपन्न हो गई। विहिप जिला मंत्री शुभम कुमार चौधरी ने बताया गया कि भरगामा प्रखंड के एक गांव में मासूम बच्ची के दुष्कर्म को अंजाम दिया गया और 150 घंटा का समय खत्म होने के बावजूद भी आरोपित मोहम्मद मेजर की गिरफ्तार अबतक नहीं हुई।

घटना होने के बाद भी प्रशासन का ध्यान इस जघन्य अपराध पर नहीं जा रहा है और पुलिस प्रशासन गहरी नींद में सोई हुई है। प्रशासन जल्द गिरफ्तारी करें। आक्रोश रैली में सनातनी सुजीत राज, विश्व हिंदू परिषद जिला संपर्क प्रमुख विवेक आनंद, सैमसोनू, रफत जहां ,सुष्मिता ठाकुर, सुमन रंजन यादव, राकेश मुनचुन, सुमित झा अमन, विकास रंजन, राजश्री गुड्डू ,अमन पोद्दार, आनंद मोहन झा, सूरज कुमार, रोहित कुमार आदि उपस्थित हुए।

गर्मा रहा है भरगामा थाना क्षेत्र

भरगामा थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में दलित मासूम बच्ची के दुष्कर्म की घटना के पांच दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस प्रशासन द्वारा घटना में संलिप्त आरोपि की गिरफ्तार नही हुई है। घटना में संलिप्त आरोपित की गिरफ्तारी को लेकर भरगामा प्रखंड मुख्यालय में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया है। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन के बाद भरगामा थाना पुलिस, पुलिस कप्तान अररिया समेत आलाधिकारी को आवेदन प्रेषित कर आरोपित की गिरप्तारी को लेकर 48 घंटा का समय दिया है। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन को अल्टीमेटम दिया है। 48 घंटा के अंदर आरोपित को गिरफ्तार नहीं किया गया तो चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का आरोप है पूर्व में भी आरोपित की गिरफ्तारी को लेकर 72 घंटा का समय दिया गया था। मगर पुलिस प्रशासन द्वारा आरोपित को गिरफ्तार नहीं किया गया है। जबकि आरोपित ने पीड़ित परिवार को जान से मारने का धमकी दी है।

आरोपित की गिरफ्तारी को लेकर सांसद, स्थानीय नेता पीड़ित परिवार के घर पहुंच उन्हें आश्वासन दे चुके हैं। सभी का कहना है कि मामला निंदनीय है। आरोपी को सख्त से सख्त सजा सुनाई जाए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.