Video viral : बिहार में कानून का खौफ खत्‍म, सरस्‍वती प्रतिमा विसर्जन के दौरान अपराधियों ने लहराए बंदूक

प्रतिमा विसर्जन में हथियार लहराने पर चार गिरफ्तार, हथियार बरामद

बांका में सरस्‍वती प्रतिमा विसर्जन के दौरान बंदूक लहराने का एक वीडियो लगातार वायरल हो रहा है। हथियार के साथ कुछ अपराधी हैं। यहां ध्‍यान देने वाली बात यह है कि प्रतिमा विसर्जन के दौरान प्रशासन के सभी निर्देशों की अवहेलना हुई है।

Dilip Kumar shuklaThu, 25 Feb 2021 09:24 AM (IST)

जागरण संवाददाता, बांका। बिहार में कानून का खौफ खत्‍म हो गया। सरेआम गुंडई देखी जा रही है। बांका से एक ऐसी तस्‍वीर सामने आई है जो इस बात को और पुष्‍ट करती है। यह तस्‍वीर और वीडियो हैरान करने वाली है। यह वीडियो और तस्‍वीर लगातार वायरल हो रही है। तस्‍वीरों में साफ देखा जा सकता है कि कैसे सरस्‍वती पूजा के विजर्सन में सरेआम बंदूकों का प्रदर्शन हो रहा है। जुलूस में आधे दर्जन बंदूकें हवा में लहराई जा रही है। इसे कोई रोकने वाला नहीं है। यह वायरल वीडियो 19 फरवरी का है, जब सरस्‍वती प्रतिमा का विसर्जन किया जा रहा था। बताया ये जा रहा है जो लोग हथियारों के साथ दिखाए जा रहे हैं, वे आपराधिक प्रवृति के हैं। हैरत करने वाली बात यह है कि प्रशासन का साफ-साफ आदेश था कि सरस्‍वती प्रतिमाओं का विसर्जन 17 फरवरी को करना है। साथ ही डीजे नहीं बजाना है। इसके बावजूद डीजे की धून पर मूर्ति का विसर्जन 19 फरवरी को किया गया। काफी शोर के साथ डीजे भी बजाया गया। इस दौरान कहीं भी पुलिस दिखाई नहीं दी। जबकि जुलूस में काफी देर तक हथियार लहराया गया था।

जानकारी के अनुसार, जिले के अमरपुर में सरस्वती प्रतिमा विसर्जन के दौरान कुछ युवकों का डीजे की धुन पर डांस हथियार लहराने का वीडियो वायरल हुआ था। एसपी ने वीडियो का सत्यापन के लिए अमरपुर थानाध्यक्ष अरविंद राय को जिम्मेदारी दी। जांच में थानाध्यक्ष ने पाया कि वीडियो अमरपुर के वासुदेपुर स्थित चांदन नदी घाट का है। हथियार लहराने वाला युवक नीतीश यादव है। इसके बाद एसपी अरविंद कुमार गुप्ता ने सभी के गिरफ्तारी का आदेश दिए। थानाध्यक्ष ने रविवार की सुबह चारों आरोपियों को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया। सभी के पास से मिले सभी हथियार लोडेड थे। गिरफ्तार आरोपित महेश मंडल उर्फ महेश सिंह कुसुमखर, नीतीश कुमार-बलुआ वासुदेवपुर व गोपाल कुमार सिंह खैरा तारापुर व पंकज सिंह को गिरफ्तार किया गया है। चारों के पास से दो लोडेड कट्टा, एक लोडेड देसी मास्केट व 315 बोर की गोली बरामद किया गया है। एसपी ने बताया कि इनमें से महेश मंडल पहले भी आर्म्‍स एक्ट का अभियुक्त रहा है। साथ ही दो अन्य अपराधी हत्या के मामले में नामजद है। साथ ही बताया कि पुलिस छापामारी के दौरान शातिर फूचो यादव भागने में सफल रहा है। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है। ज्ञात हो कि पिछले दिनों शंभुगंज में भी हथियार लेकर डांस करने का एक वीडियो वायरल हुआ था।

डीजे व हथियार के साथ डांस का वीडियो वायरल

डीजे पर भोजपुरी गीत पर देशी कट्टा एवं बंदूक लेकर डांस कर रहे हैं। वीडियो शुक्रवार रात की बतायी जा रही है। कुशुमखर एवं बलुआ के कई ग्रामीणों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि सरस्वती पूजा पर आर्केस्ट्रा का आयोजन किया गया था। इसके बाद प्रतिमा विसर्जन होना था। प्रतिमा विसर्जन के दौरान बलुआ एवं कुशुमखर गांव के सक्रिय बालू माफिया बंदूक, कट्टा और मास्केट लेकर पहुंच गए।

बताते चलें कि कोविड 19 को लेकर सरस्वती पूजा के आयोजन प्रशासनिक स्वीकृति नहीं मिली थी। हालांकि शांति समिति की बैठक में डीजे बजाने सहित पूजा पंडाल में भीड़ नहीं लगाते हुए 17 फरवरी के संध्या पांच बजे तक अनिवार्य रूप से प्रतिमा विसर्जन करने का सख्त निर्देश दिया गया था। आयोजन सूचना थाने को भी देनी थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.