ट्रिपल आइटी भागलपुर: 21वीं सदी के ब्रांड एंबेसडर हैं यहां के छात्र : पद्मश्री बिमल जैन

ट्रिपल आइटी भागलपुर पहले सत्र 2017-21 के 45 उपस्थित छात्रों को मिली उपाधि। कंप्यूटर साइंस और इलेक्ट्रानिक कंप्यूटर इंजीनियर‍िंग में थे कुल 67 छात्र। मुख्य अतिथि केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की वीडियो रिकार्डिंग दिखाई गई। पद्मश्री बिमल जैन ने भी संबोधित किया।

Dilip Kumar ShuklaSun, 28 Nov 2021 11:32 PM (IST)
ट्रिपल आइटी में दीक्षांत समारोह मे प्रमाणपत्र के साथ छात्र-छात्राएं निदेशक अरविंद चौबे के साथ।

जागरण संवाददाता, भागलपुर। ट्रिपल आइटी के छात्र 21वीं सदी के ब्रांड एंबेसडर हैं। कम उम्र में ही इनमें विलक्षण प्रतिभा है। यह देश के लिए गौरव की बात है। ये छात्र अपने शोध के माध्यम से करोड़ों लोगों का जीवन बदल सकते हैं। ट्रिपल आइटी में कोविड साफ्टवेयर का निर्माण बड़ी उपलब्धि है। दुर्भाग्य है कि हमें गुलामी का इतिहास पढ़ाया जाता है। राष्ट्र रहेगा तो हम रहेंगे। यह बातें ट्रिपल आइटी के पहले दीक्षा समारोह के दौरान विशिष्ट अतिथि पद्मश्री बिमल कुमार जैन ने रविवार को कहीं।

श्री जैन ने कहा कि सूचना की तकनीक ने ज्ञान के सागर को असीमित कर दिया है। इस कारण भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा है। आज भारत को विश्व की श्रेष्ठ श्रेणी में खड़ा करने में आपका विशिष्ट योगदान रहने वाला है। ट्रिपल आइटी देश की सर्वोत्तम संस्थाओं में शुमार है।

कार्यक्रम की शुरुआत दीक्षा समारोह शोभा यात्रा से शुरू हुई। इसके बाद विशिष्ट अतिथि बिमल जैन, ट्रिपल आइटी निदेशक प्रो. अरव‍िंद चौबे, कुलसचिव डा. गौरव कुमार, पीआरओ डा. धीरज कुमार सिन्हा आदि ने संयुक्त रूप से दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। निदेशक ने संस्थान का रिपोर्ट कार्ड प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि संस्थान के पहले बैच के प्लेसमेंट के लिए 45 कंपनियां कैंपस आई, जिसमें छात्रों का शत प्रतिशत चयन हुआ है।

समारोह की अध्यक्षता बोर्ड आफ गर्वनर के संजय मूर्ति ने आनलाइन माध्यम से की। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि ट्रिपल आइटी के पहले बैच का शत प्रतिशत प्लेसमेंट बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने उपाधि प्राप्त करने वाले छात्रों और ट्रिपल आइटी की पूरी टीम को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि संस्थान में कोविड-19 के समय आपदा को अवसर में बदलने का काम किया। कोविड जांच के लिए एक्सरे और सीटी स्कैन के साफ्टवेयर को तैयार किया गया।

मुख्य अतिथि के रूप में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की वीडियो रिकार्डिंग दिखाई गई, जिसमें शिक्षा मंत्री ने पहले दीक्षा समारोह में उपाधि पाने वाले छात्रों को बधाई दी। इसके बाद ट्रिपल आइटी द्वारा तैयार साफ्टवेयर की सराहना की। उन्होंने कहा कि भागलपुर स्थित ट्रिपल आइटी अपने कार्यों पर खरा उतर रहा है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.