बांका, जमुई, मुंगेर और लखीसराय के जंगलों में नक्सलियों की हलचल, 67 बार देखे गए, चौकस हुई पुलिस

बांका में तीन भागलपुर में एक जमुई में 30 मुंगेर में 25 और लखीसराय में 18 बार नक्‍सली दस्ते को देखे जाने की मिली सूचना। खुफिया विभाग ने अर्धसैनिक बलों और स्थानीय पुलिस को किया सतर्क। पुलिस सक्रिय है।

Dilip Kumar ShuklaSun, 28 Nov 2021 11:38 PM (IST)
बिहार के जंगलों में नक्‍सली के आने की सूचना है।

भागलपुर [कौशल किशोर मिश्र]। नक्सलियों के विरुद्ध चल रहे आपरेशन में अर्धसैनिक बलों और स्थानीय पुलिस को मिल रही सफलता बाद बांका, जमुई, मुंगेर और लखीसराय के जंगल और पहाड़ी क्षेत्र में नक्सलियों की अचानक हलचल तेज हो गई है। खुफिया विभाग के अधिकारियों की टीम को बांका के कटोरिया, बेलहर और चांदन क्षेत्र में तीन बार नक्सली दस्ते के भ्रमण की जानकारी मिली है। जबकि जमुई जिले के जंगल और पहाड़ी क्षेत्र में 30, मुंगेर जिले में 25, लखीसराय में 18 बार और भागलपुर के सजौर रतनगंज में एक बार नक्सलियों का हिरावल दस्ता न सिर्फ उनकी टोह में भ्रमणशील खुफिया टीम को नजर आया बल्कि स्थानीय लोगों ने भी उनके आने की जानकारी दी। खुफिया अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट मुख्यालय को सौंप दी है।

जिसके बाद नक्सल प्रभावित बांका, जमुई, मुंगेर, लखीसराय जिले में अर्ध सैनिक बलों और स्थानीय पुलिस को विशेष रूप से सतर्क कर दिया गया है। दोनों बलों की टुकडिय़ां अपने-अपने इलाके में नक्सलियों की तरफ से किसी भी संभावित हमले का मुंहतोड़ जवाब देने को तैयार है।

मुंगेर के लड़ैयाटांड, हवेली खडग़पुर, बरियारपुर में देखा गया दस्ता

खुफिया सूत्रों के अनुसार मुंगेर जिले के लड़ैयाटांड के सखोल, पैसरा, मझलवाटांड, हवेली खडग़पुर के दरियापुर, कंदनी, खडग़पुर झील, भैसकोल, कुल्हाड़ी और बरियारपुर के बरियारपुर पहाड़ी क्षेत्र में नक्सलियों के हिरावल दस्ते को 25 बार हाल में देखा गया है।

जमुई के बरहट, पीरी बाजार, खैरा, चकाई, चंद्रमंडी, झाझा में लगा सकते घात

नक्सलियों का दस्ता जमुई के बरहट में चोरमारा, मुशहरीटांड, स‍िंदुरिया ओर कारमेघ, खैरा के गिद्धेश्वर पहाड़, मुरली पहाड़, सिकंदरी, चकाई के डुमरडीहा, भेलवा, पीरी बाजार के दुधपनियां, चंदमंडी के बेंद्रा, थाना जंगल क्षेत्र, सपहा, झाझा के जुड़पनियां में 30 बार देखा गया है।

लखीसराय के कजरा, पीरी बाजार और चानन में सक्रियता

नक्सलियों का दस्ता लखीसराय के कजरा में बिचला टोला, शीतला कोड़ासी, पीरी बाजार में हनुमान थान्र लठियाकोल और बंगलवा और चानन में गोबरदाहा और चेहड़ौन इलाके में 18 बार इलाके की परिक्रमा लगा चुके हैं। इन जगहों पर स्थानीय लोगों से दस्ते में शामिल नक्सलियों की तरफ से अर्ध सैनिक बलों और स्थानीय पुलिस की गतिविधियों के संबंध में जानकारी जुटाने की बात आमने आई है।

बांका के कटोरिया, बेलहर, चांदन और भागलपुर के सजौर में भी खतरा

बांका जिले के कटोरिया, बेहहर और चांदन के जंगल और पहाड़ी क्षेत्र में नक्सलियों के दस्ते को तीन बार हाल में देखे जाने की बात सामने आई हे। दस्ते के बांका-भागलपुर सीमा से सटे भागलपुर के सजौर थाना क्षेत्र के रतनगंज और अमरपुर के भदरिया क्षेत्र में हालिया भ्रमण की भी आ-सूचना खुफिया टीम ने जुटाई है जिसको लेकर भागलपुर क्षेत्र में भी शाहकुंड, सजौर में एहतियाती सतर्कता बरती जा रही है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.