चार माह के बच्चे संग पटना पहुंची बांका की शिक्षक अभ्यर्थी लक्ष्मी, अंगिका में बयां किया बहाली का दर्द, Listen Video

बिहार में शिक्षक नियुक्‍ति‍ प्रक्रिया वर्ष 2019 में लंबित है। नियोजन की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है। शिक्षक अभ्‍यर्थी काफी परेशान हैं। लगातार धरना-प्रदर्शन हो रहा है। बांका की एक शिक्षिक ने पटना जाकर अंगिका भाषा में गीत गाकर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से नियुक्ति पत्र की मांग की है।

Dilip Kumar ShuklaTue, 30 Nov 2021 09:31 PM (IST)
पटना में अंगिका भाषा में गीत गातीं शिक्षक अभ्‍यर्थी लक्ष्‍मी। उन्‍होंने सीएम नीतीश कुमार से नियुक्ति पत्र की मांग की।

आनलाइन डेस्‍क, भागलपुर। बिहार में शिक्षक नियुक्‍ति‍ के लिए लगातार आंदोलन हो रहे हैं। शिक्षक अभ्‍यर्थी वर्ष 2019 में परेशान हैं। अब तक नियोजन की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है। कोर्ट ने काफी समय तक इस नियुक्ति प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी। कोर्ट से आदेश के बाद काउंसिलिंग हुई। दो चरणों में काउंसिलिंग की गई। इसके बाद तीन माह से अब प्रक्रिया रुकी हुई है। शिक्षक अभ्यर्थी अपने-अपने जिलों में कई बार धरना प्रदर्शन कर चुके हैं। पटना में भी धरना प्रदर्शन हुआ। शिक्षक अभ्यर्थियों ने इंटरनेट मीडिया पर आनलाइन कैंपेन भी चलाए। अपनी आवाज बुलंद किया। इसके बाद शिक्षकों को नियुक्ति पत्र नहीं मिला है।

सीटेट उत्तीर्ण शिक्षक अभ्‍यर्थी परेशान हैं। कई की‍ जिंदगी प्रभावित हुई है। इसी क्रम में एक अभ्‍यर्थी चार माह के बच्चे के साथ पटना पहुंच गई। बांका की शिक्षक अभ्यर्थी लक्ष्मी ने अंगिका भाषा में वहां एक गीत गया। जो लगातार इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है। वह मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से नियुक्ति पत्र मांग रही हैं। अंगिका भाषा में बहाली नहीं होने का दर्द उन्‍होंने बयां किया है। उन्‍होंने अपने गीत में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी का नाम लिया है।

दै देहो नीतीश बाबू, नियुक्ति पतरबा

कैन्हें कैल्हौ आनाकानी हो नीतीश बाबू, कौंसिलिंग कराय के

कहनें रहौ 15 अगस्त के भेजभौं इस्कुलबा

कहिनें छेल्हो, सब्भे के खिलैभों हम मिठइया

झूठ कहिनें? बिजय बाबू कौंसिलिंग कराबी केॅ

दै देहो नीतीश बाब, नियुक्ति पतरबा

अपने गीत के माध्‍यम से लक्ष्‍मी ने बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से नियुक्ति पत्र की मांग की है। वे कह रही हैं कि आप पत्र देने में आनाकानी कर रहे हैं। आपने काउंसिलिंग कराया। आपने ने ही 15 अगस्‍त को स्‍कूल जाने की घोषणा की थी। मिठाई खिलाने का वादा किया था। उन्‍होंने बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है। यहां बता दें कि शिक्षक नियोजन प्रक्रिया को लेकर कई बार यहां अनियमितता का भी आरोप लग चुका है।  

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.