Supaul : शादी के बाद आठ महीने तक महिला ने कैदी की तरह बिताए दिन... दहेजी कार के बाद ससुरालवालों को चाहिए था दस लाख नगद

सुपौल में दहेज नहीं मिलने पर एक महिला को आठ म‍हीने तक घर में बंद कर रखा गया। मामला सामने आने पर आसपास के लोगों ने उसे बाहर किया। महिला के भाई ने बताया कि दहेज में दस लाख रुपये नहीं देने पर ऐसा किया गया।

Abhishek KumarWed, 16 Jun 2021 07:50 PM (IST)
सुपौल में दहेज नहीं मिलने पर एक महिला को आठ म‍हीने तक घर में बंद कर रखा गया। सांकेतिक तस्‍वीर।

संवाद सूत्र, किशनपुर (सुपौल)। प्रखंड मुख्यालय स्थित बाजार में आठ माह से घर में कैद नवविवाहिता को ग्रामीणों के प्रयास से बुधवार को कैद से मुक्त करवाया गया। महिला थानाध्यक्ष प्रमिला कुमारी के द्वारा बुधवार को पुलिस बल के साथ किसनपुर बाजार स्थित घटनास्थल पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली गई।

हाट परिसर में पुलिस को देखते ही आसपास बाजार के सैकड़ों की संख्या में लोगों की भीड़ इक_ी हो गई। जहां मौजूद लोगों ने एक स्वर से 08 माह से बंधक बनाए जाने की पुष्टि करते हुए सास, ससुर द्वारा प्रताडि़त करने की बात की गई। बताया कि इस बात को लेकर कई बार स्थानीय स्तर पर पंचायत भी किया गया। मगर ससुर विक्रम चौधरी द्वारा बात मानने से इनकार करने पर गुस्साए ग्रामीणों ने बुधवार को घर का ताला तोड़कर पीडि़ता को घर से बाहर निकाल कर के महिला थाना को सुपुर्द कर दिया गया।

बताया गया कि किसनपुर बाजार स्थित विक्रम चौधरी के पुत्र संजय चौधरी से ङ्क्षहदू रीति रिवाज के अनुसार दिल्ली के नोएडा में 07 मार्च 2018 को शादी संपन्न हुई थी। जहां शादी में दहेज में कार सहित 17 लाख का समान उपहार स्वरूप भेंट किया गया। शादी के बाद रुखसत कर किसनपुर लाया गया उसे एक डेढ साल की बच्ची भी है। उसके बाद ये लोग पीडि़ता मोना कुमारी जायसवाल को प्रताडि़त करने लगे। जहां दस लाख रुपए का दहेज की और मांग करने लगे। पति भी बाहर कमाने के लिए चला गया।

दहेज नहीं देने पर पति भी पत्नी से बात करना छोड़ दिया। काफी तंग तबाह करने के बाद भी पीडि़ता घर से नहीं भागी तो उसे बाजार स्थित अपने दो मंजिला के ऊपर कैद कर बाहर से ताला लगा दिया। इस बीच पीडि़ता के पिता भैरव गांव निवासी गौरी शंकर चौधरी ने अपने बेटे को देखने के लिए भेजा तो उसे मिलने नहीं दिया गया। जिसके बाद उन्होंने ग्रामीणों को ईक_ा कर घर का ताला तोड़वाया। जहां उन्होंने बताया कि मेरी बेटी बीटेक पास है। दिल्ली में हम लोग रहते हैं। ससुराल वाले भी दिल्ली में रहते थे। दिल्ली में ही शादी हुई। शादी में 17 लाख का सामान दिया गया। जिसमें कार भी शामिल है।

10 लाख और दहेज मांग कर रहा है। नहीं देने पर ससुर विक्रम चौधरी, सास आभा देवी, ननद राखी कुमारी एवं चांदनी कुमारी के द्वारा जान मारने की साजिश रच कर घर में भूखा प्यासा कैद कर रखा गया। खाना मांगने पर मारपीट करती रहती थी।

मामले में आवेदन प्राप्त हुआ है जिसकी जांच की जा रही है। जांचोपरांत अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

प्रमिला कुमारी, महिला थानाध्यक्ष।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.