खानकाह पीर दमड़िया के 15वें सज्जादानशीं शाह फखरे आलम हसन की हुई ताजपोशी

खानकाह पीर दमड़िया के 15वें सज्जादानशीं शाह फखरे आलम हसन की हुई ताजपोशी

भागलपुर। शाहमार्केट स्थित शाह मंजिल में राष्ट्रीय सूफी कॉन्फ्रेंस के बीच खानकाह पीर दमड़ि

JagranSun, 28 Feb 2021 09:14 PM (IST)

भागलपुर। शाहमार्केट स्थित शाह मंजिल में राष्ट्रीय सूफी कॉन्फ्रेंस के बीच खानकाह पीर दमड़िया के 14वें सज्जादानशीं जनाब सैय्यद शाह हसन मानी नदवी कादिरी, सोहरवर्दी ने देशभर के खानकाहों के सज्जादानशीं हजरात की मौजूदगी में अपने साहबजादे सैयद शाह फखरे आलम हसन को पगड़ी बांधकर खानकाह पीर दमड़िया के तमाम सिलसिलों को इजाजत व खिलाफत प्रदान कर दी।

इस मौके पर खानकाह पीर दमड़िया के 15वें सज्जादानशीं के रूप में सैयद शाह फखरे आलम हसन ने कमान संभाल ली। ताजपोशी के बाद सैयद शाह फखरे आलम हसन ने कहा कि आज का दिन बेहद मुबारक है। यहां इतने मशहूर बु•ाुर्गो की निसबत हमें प्राप्त हुई है। मैं अल्लाह से दुआ करता हूं कि इस बड़ी जिम्मेदारी को निभाने की हमें तौफीक फरमाए। ताकि मैं देश व समाज की ़िखदमत करने के योग्य बन सकूं।

सज्जादानशीं फखरे आलम हसन ने कहा कि खानकाह के माध्यम से गरीबों की मदद की जा रही है। पिछले ढाई वर्षों में गरीबों की रसोई चलाकर प्रतिदिन 100 गरीबों को भोजन कराया जा रहा है। मदरसों में बच्चों को मुफ्त तालिम दी जाती रही। उन्हें भोजन भी कराया जा रहा है। सप्ताह में एक दिन स्वास्थ्य शिविर लगाकर गरीबों की स्वास्थ्य जांच व दवा उपलब्ध कराई जा रही है।

इस अवसर पर भारत देश के सबसे मशहूर और ़कदीम ़खाऩकाह और दरगाह ह•ारत ख्वा•ा ़गरीब नवा•ा रह. के खानवादे से तशरी़फ लाए हुए देश के मशहूर सूफी और दरगाह अजमेर शरी़फ के ़खादिम सैय्यद सरवर चिश्ती साहब ने भी अपने तमाम सिलसिलों की इजा•ात और ़िखला़फत इन्हें प्रदान की। विश्व प्रसिद्ध धर्मगुरू मानवता कल्याण बोर्ड के संस्थापक और ़खाऩकाह सैयद अहमद शहीद कटौली लखनऊ के सज्जादानशीं जनाब सैयद सलमान हुसैनी नदवी ने भी अपने बुजुर्गों के सिलसिलों की इजा•ात और ़िखला़फत पगड़ी बांधकर प्रदान की।

जानें खानकाह पीर दमड़िया को

इनके खानदान के बुजुर्ग ह•ारत मखदूम सैयद अब्दुल गफ्फार मरूफबी सैयद हसन दानिशमंद हुसैनी दलबी वासवी बु़खारा से सीवान तशरी़फ लाए और वहां रुश्दो हिदायत और तालीम व तरबीयत की रूहानी शमा रौशन की। ़खाऩकाह ए पीर दमड़िया के सबसे पहले पीर ह•ारत मौलाना सैयद शाह •ाहीर उद्दीन हुसैनी थे। वे मुल्क ए इराक के शेर वासित से बु़खारा और मुल्तान होते हुए ह•ारत ख्वा•ा नि•ामुद्दीन औलिया महबूब ए इलाही रह. के •ामाने में दिल्ली तशरी़फ लाए। वे सन 1495 में मेरठ से सीवान आए। वहां से भागलपुर की तरफ अपना रुख किया।

------------------------

पीर ए दमड़िया के अबतक के सज्जादानशीं

1. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह सरफुद्दीन हुसैन उर्फ अली मोहम्मद पीर दमड़िया शाह रह

2. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह शमशुद्दीन उर्फ मीर कला रह

3. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह हुसैन जीओ रह

4. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह अली अहमद रह

5. हजरत म़ख्दूम सैयद शाह मीर उर्फ •िादा पीर रह

6. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह असदुल्लाह उर्फ नत्थू शाह रह

7. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह मोहम्मद मी उर्फ मीरान शाह अलैहे रहमान

8. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह असदुल्लाह उर्फ शाह चामा रह

9. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह इनायत हुसैन रह

(इन्होंने ने ही 1872 ई. में व़क़्फ किया था)

10. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह असदुल्लाह उर्फ अब्दुल्लाह ़फतह आलम रह

11. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह फतेह आलम रह.

12. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह मं•ाूर हुसैन उर्फ शाह फखरे हसन रह

13. ह•ारत म़ख्दूम सैयद शाह अली अहमद उर्फ शाह सरफे आलन रह

14. सैयद हसन मानी नदवी सोहरवर्दी

15. सैयद शाह फखरे आलम हसन

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.