गंगा और कोसी पर पुल बनने से नेपाल की दूरी होगी कम

गंगा और कोसी पर पुल बनने से नेपाल की दूरी होगी कम
Publish Date:Tue, 22 Sep 2020 08:54 AM (IST) Author: Jagran

भागलपुर। गंगा और कोसी नदी पर फोरलेन पुल बनने के बाद भागलपुर का सीधा संपर्क नेपाल से हो जाएगा। महज 166 किलोमीटर की दूरी तय कर लोग सुपौल जिले के वीरपुर स्थित नेपाल सीमा तक पहुंच जाएंगे। अभी लोगों को पूर्णिया के रास्ते जोगबनी जाने के लिए 180 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है। कोसी पर पुल बन जाने के बाद तीन घंटे में लोग नेपाल पहुंच सकेंगे।

पुल के बन जाने से भागलपुर से मधेपुरा की दूरी 36 किलोमीटर और बिहपुर से मधेपुरा की दूरी मात्र 16 किलोमीटर रह जाएगी। अभी लोगों को कुर्सेला और पूर्णिया के रास्ते सहरसा व मधेपुरा जाना पड़ रहा है। इसके लिए 72 किलोमीटर की दूरी तय करनी होती है। एनएच-106 का सीधा संपर्क एनएच-31 से हो जाएगा। विक्रमशिला सेतु के बगल में गंगा नदी पर एक और पुल के बन जाने से जाम की समस्या समाप्त हो जाएगी। हर दिन लगने वाले जाम के कारण दो घंटे की दूरी लोगों को आठ से दस घंटे में तय करनी पड़ रही है। इस कारण गंगा पार के लोगों को जिला मुख्यालय आने में परेशानी हो रही है। इसका असर बाजार पर भी पड़ रहा है। नया पुल बनने से बाजार का दायरा बढ़ेगा और व्यवसायियों की आमदनी बढ़ेगी। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन का कहना है कि बिहपुर व फुलौत पुल को यूपीए की सरकार ने मिसिंग लिंक में डाल दिया था। लेकिन नरेंद्र मोदी की सरकार ने मिसिंग लिंक को पूरा करने के लिए शिलान्यास भी कर दिया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.