Bhagalpur Election Result 2019 : 30 हजार से ज्यादा वोटरों ने NOTA में डाले वोट, जानें... विधानसभावार स्थिति

भागलपुर [जेएनएन]। पिछले लोकसभा चुनाव में भागलपुर संसदीय क्षेत्र से कुल 11 हजार मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया था। पर, इस बार यह दोगुने से ज्यादा रहा। करीब 31528 हजार वोटरों ने नोटा को ही चुना। सबसे ज्यादा नोटा का इस्तेमाल पीरपैंती विधानसभा और सबसे कम भागलपुर में हुआ। नोटा में मत डालने की बड़ी वजह यह है कि मतदाताओं को संसदीय क्षेत्र से मैदान में उतरे प्रत्याशी मन को नहीं भांप सके या सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं कर सकी। इसको लेकर मतदाताओं में भी काफी आक्रोश रहा। उन्होंने अपना आक्रोश लोस चुनाव में नोटा का इस्तेमाल कर जताया। बता दें कि बैलेट पेपर के समय नोटा का प्रयोग नहीं होता था, लेकिन इवीएम में नोटा का प्रयोग किया जा सकता है। 2013 से नोटा का विकल्प भारत निर्वाचन आयोग ने ईवीएम में शामिल किया। लोकसभा चुनाव में इसका पहला प्रयोग 2014 में हुआ था।

नोटा का आंकड़ा भी नहीं पार कर सके सात प्रत्याशी

चुनाव में कुल नौ उम्मीदवार मैदान में थे। इनमें से जदयू के अजय मंडल और राजद के शैलेश कुमार उर्फ बुलो मंडल को छोड़कर मु. आशिक इब्राहिमी, दीपक कुमार, सत्येन्द्र कुमार, सुशील कुमार दास, अभिषेक प्रियदर्शी, नुरुल्लाह, सुनील कुमार प्रत्याशियों का वोट नोटा के पास भी नहीं रहा। 31528 हजार वोटरों ने नोटा को चुना।

सबसे ज्यादा पीरपैंती और भागलपुर में कम दबा नोटा

-बिहपुर-4280

-गोपालपुर-4879

-पीरपैंती-6894

-कहलगांव-6173

-भागलपुर-3620

-नाथनगर-5682

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.