भागलपुर स्टैंड में सफाई की व्यवस्था नहीं, गंदगी के बीच लग्जरी बसों में यात्र करेंगे लोग, शौचालय में भी पसरी है गंदगी

भागलपुर में सरकारी बसों में नियमित रूप से साफ सफाई नहीं हो रही है।

भागलपुर को सरकार से आठ सरकारी बसें मिली हैं लेकिन इन बसों की साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था नहीं की गई है। बस स्टैंड पर बाथरूम रहने के बावजूद यात्री उसका उपयोग नहीं कर पा रहे हैं। इससे लोग परेशान हैं।

Abhishek KumarWed, 03 Mar 2021 03:47 PM (IST)

जागरण संवाददाता, भागलपुर। भागलपुर से पटना के बीच चलने वाली बिहार राज्य पथ परिवहन निगम की लग्जरी बसें भागलपुर पहुंच गई है। एक-दो दिनों के अंदर लग्जरी बसों का परिचालन शुरू हो जाएगा। इधर, लॉकडाउन के बाद सरकारी बसों में सफर करने वाले यात्रियों की संख्या बढ़ी है। सरकारी बसों में यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या 75 फीसद तक हो गई है। बस स्टैंड पर यात्री शेड तो बढ़े हैं, लेकिन सफाई की कोई व्यवस्था नहीं है। यात्रियों को गंदगी के बीच बसों का इंतजार करना पड़ रहा है। उड़ रही धूल के कारण यात्री परेशान हो रहे हैं। बाथरूम रहने के बावजूद यात्री उसका उपयोग नहीं कर पा रहे हैं। बाथरूम में इतनी गंदगी है कि यात्री वहां जाने से कतराते हैं।

निगम के पास दो सफाई कर्मी

बिहार राज्य पथ परिवहन निगम के भागलपुर डिपो में दो सफाई कर्मी हैं। लेकिन बस स्टैंड की सफाई नहीं हो रही है। बाथरूम इतना गंदा है कि स्टैंड पर बैठने वाले यात्रियों को दुर्गंध से परेशान होना पड़ता है। बाथरूम में पानी की पर्याप्त व्यवस्था रहने के बावजूद सफाई नहीं हो पा रही है। यात्री बाथरूम की जगह दीवाल किनारे लघुशंका करते हैं। महिलाओं को काफी परेशानी होती है। जहां यात्री बैठते हैं, वहां धूल-मिट्टी के अलावा पॉलिथिन, कागज, पत्ता जमा है। स्टैंड में महीने में एक दिन भी सफाई नहीं हो रही है।

स्टैंड पर उड़ रही धूल

स्टैंड पर बसों का इंतजार कर रहे यात्रियों की आंखें धूल से भर जा रही है। आंख मलते-मलते लाल हो जा रहे हैं। स्टैंड पर पानी छिड़काव की कोई व्यवस्था नहीं है। धूल-मिट्टी पर पानी छिड़काव की बात तो दूर यात्रियों को पीने के पानी तक की व्यवस्था नहीं है। यात्रियों को पानी खरीदकर पीना पड़ रहा है। निगम प्रशासन ने कई बार नगर निगम, पीएचईडी सहित जिला प्रशासन से पानी की व्यवस्था करने के लिए अनुरोध कर चुकी है, लेकिन पानी की कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

पटना के लिए चलेगी दो बसें

पटना के लिए दो लग्जरी बसों का परिचालन होगा। एक बस अकबरनगर, तारापुर, मुंगेर होते हुए पटना जाएगी तो दूसरी बस बांका, तारापुर, जमुई होते हुए पटना जाएगी। पटना से भी दो बसें इसी रास्ते भागलपुर तक आएगी। अभी पटना के लिए दो सेमी डिलक्स बसें चल रही है। लॉकडाउन के बाद आधा दर्जन बसें चल रही थी। ट्रेनों का परिचालन शुरू होने के बाद दो बसें पटना जा रही है और दो बसें पटना से आ रही है।

सर्वाधिक बेगूसराय के लिए बस

सरकारी बस स्टैंड से सबसे अधिक बेगूसराय के लिए बसें चल रही है। बेगूसराय के लिए 23 बसों का परिचालन हो रहा है। हर आधा-एक घंटा पर भागलपुर से अद्र्ध सरकारी बसें बेगूसराय जा आ रही है। पूर्णिया के लिए 20 बसों का परिचालन हो रहा हे। एक बस पूर्णिया के लिए दो ट्रिप लगा रही है। लक्ष्मीपुर डैम के लिए एक बस चल रही है। भागलपुर डिपो की कटिहार के लिए एक व पूर्णिया के लिए तीन सरकारी बसों का परिचालन हो रहा है। हाल के दिनों में बसों में यात्रियों की संख्या में वृद्धि हुई है। जनवरी में जहां 50 फीसद ही सीटें फुल हो रही थी, लेकिन फरवरी से 75 फीसद सीटें फुल हो जा रही है।

सफाई के लिए दो कर्मचारी है। इनसे सफाई कराई जाती है। नहीं करने पर उनके वेतन की कटौती की जाती है। स्टैंड पर सफाई व्यवस्था को और दुरुस्त किया जाएगा। -राम नारायण दुबे, प्रतिष्ठान अधीक्षक, बिहार राज्य पथ परिवहन निगम  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.