शादी का झांसा देकर नाबालिग के साथ दुष्कर्म, न्याय के लिए एसपी के पास पहुंची पीडि़ता

किशनगंज में शादी का झांसा देकर एक नाबलिग के साथ पूर्णिया के युवक ने दुष्‍कर्म किया।

किशनगंज में शादी का झांसा देकर एक नाबलिग के साथ पूर्णिया के युवक ने दुष्‍कर्म किया। इसके बाद शादी करने से इन्‍कार कर दिया। पीडि़त युवती अपने परिवार के सदस्‍यों के साथ न्‍याय के लिए एसपी के पास पहुंची।

Abhishek KumarThu, 25 Feb 2021 07:00 AM (IST)

जागरण संवाददाता, किशनगंज। कोचाधामन थाना क्षेत्र की नाबालिग ने एक युवक पर शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। न्याय की गुहार लगाने के लिए बुधवार को पीड़ीता एसपी कुमार आशीष के समक्ष जा पहुंची। एसपी ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए महिला थानाध्यक्ष को जांचोपरांत कार्रवाई करने का निर्देश दिया। 

जानकारी के अनुसार पूर्णिया के बायसी, डंगड़ा हाथ निवासी आरोपित अहातुल्लाह, पिता अमीर हमजा का उसके घर आना जाना था। दो वर्ष पूर्व एक दिन घर में जब वह अकेली थी तो आरोपित उसके घर आ धमका और चाकू की नोंक पर दुष्कर्म किया। चीखने चिल्लाने लगी तो आरोपित ने जल्द शादी करने का झांसा देकर उसे शांत करा दिया। अहातुल्लाह ने पीडि़ता को अपना मोबाइल नंबर भी दिया। जिससे दोनो बातें करने लगे। पीडि़ता को पूरी तरह से झांसे में लेने के बाद आरोपित लगातार दुष्कर्म करने लगा।

परिजनों को अहातुल्लाह के कुकृत्य की जानकारी मिलने के बाद वे मामले की शिकायत लेकर आरोपित के स्वजन के पास पहुंचे और दोनों की शादी करा देने की बात कही। जिसपर वे लोग शादी कराने से साफ इंकार करते हुए मारपीट कर भगा दिया। मामले को लेकर स्थानीय स्तर पर पंचायती भी की गई। आखिरकार इंसाफ नहीं मिला तो बुधवार को एसपी कार्यालय पहुंच न्याय की मांग की।

बस स्टैंड पर भटक रही दो युवती को पुलिस ने भेजा घर

वहीं, महिला थानाध्यक्ष पुष्पलता कुमारी ने दो भटकी युवतियों को निजी खर्च पर उनके घर तक पहुंचाने का सराहनीय कार्य किया। मंगलवार देर शाम को स्थानीय बस स्टैंड के निकट दो युवतियों को बदहवास भटकता देख कुछ मनचले उसके पीछे पड़ गए। इसकी जानकारी मिलते ही महिला थानाध्यक्ष पुष्पलता कुमारी सदल बल मौके पर पहुंचीं और दोनों युवतियों को अपने साथ थाना ले आई।

जानकारी के अनुसार कोनागढ़, हुगली निवासी इपषिता डे और बेहाला, कोलकाता निवासी राय अधिकारी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी में काम करती है और एक शादी समारोह में काम करने के लिए सिलीगुड़ी गई थी ।दोनों युवतियां सिलीगुड़ी से कोलकाता जा रही थी। ट्रेन में बेटिकट यात्रा करने के कारण टीटीई ने दोनों को किशनगंज रेलवे स्टेशन पर उतार दिया। जहां से दोनों बस पकडऩे के लिए बस स्टैंड पहुंची। किराए की राशि नहीं रहने के कारण वे बस पर सवार नहीं हो सकी और इधर उधर भटकने लगी। महिला थानाध्यक्ष ने पूछताछ कर स्वजनों को मामले की जानकारी दी और निजी खर्च पर बस का टिकट कटा कर दोनों को कोलकाता रवाना कर दिया।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.