लखीसराय पंचायत चुनाव 2021: महिला आरक्षित सीटों पर दो पुरूषों ने किया नामांकन, दोनों निर्वाचित

लखीसराय पंचायत चुनाव 2021 बड़हिया प्रखंड में पंचायत चुनाव के दौरान दो महिला सीटों पर दो पुरूष अभ्यर्थियों ने नामांकन किया है। बड़हिया प्रखंड के डुमरी व एजनीघाट पंचायत में ग्राम कचहरी पंच के दो महिला सीट पर दाेे पुरूष अभ्यर्थियों का नामांकन किया है।

Dilip Kumar ShuklaSun, 28 Nov 2021 07:17 PM (IST)
महिला सीट पर दो प्रत्‍याश‍ियों ने नामांकन किया है।

संवाद सहयोगी, लखीसराय। जिले के बड़हिया प्रखंड के नौ पंचायतों में सोमवार 29 नवंबर को नौवें चरण का चुनाव होना है। जिसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। लेकिन चुनाव से पहले एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। बड़हिया के बीडीओ सह निर्वाची पदाधिकारी विनय कुमार सिंह द्वारा पंचायत चुनाव 2021 में पंचायत और पदवार निर्धारित आरक्षण रोस्टर की अनदेखी कर डुमरी और एजनीघाट ग्राम कहचरी पंच के दो महिला सीट पर पुरूष अभ्यर्थी का नामांकन लिया है।

नामांकन प्रक्रिया समाप्ति के बाद दोनों पद पर एकल अभ्यर्थी के नामांकन दर्ज करने के कारण दोनों अभ्यर्थी को निर्विरोध निर्वाचन के लिए प्रपत्र 13 भर कर जिलाधिकारी के माध्यम से राज्य निर्वाचन आयोग को भी रिपोर्ट भेज दी गई।

बीडीओ की यह कारगुजारी जब सामने आई तो जिले के अधिकारी भी हैरान हो गए और शनिवार को आनन-फानन में जिला निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार स‍िंह ने राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र भेजकर दोनों पंच के एकल अभ्यर्थी के निर्विरोध निर्वाचन को निरस्त करने की अनुशंसा की है। साथ ही डीएम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लापरवाह बड़हिया बीडीओ से पूरे मामले में स्पष्टीकरण मांगा है।

महिला सीट पर पुरुष अभ्यर्थियों से बीडीओ ने लिया नामांकन

बड़हिया प्रखंड में नौवें चरण के चुनाव को लेकर 22 अक्टूबर को जिला निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा सूचना का प्रकाशन किया गया था। 23 अक्टूबर से नामांकन की प्रक्रिया शुरू की गई थी। जिलाधिकारी द्वारा प्रखंड के नौ पंचायतों के सभी पदों के लिए आरक्षण रोस्टर की सूची बड़हिया बीडीओ विनय कुमार सिंह को उपलब्ध कराते हुए रोस्टर के अनुसार पदवार नामांकन की प्रक्रिया पूरी करने का निर्देश दिया था।

रोस्टर के अनुसार प्रखंड के एजनीघाट पंचायत के वार्ड संख्या एक और डुमरी पंचायत के वार्ड संख्या आठ में ग्राम कचहरी पंच का पद पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित किया गया था। लेकिन बीडीओ ने आरक्षण रोस्टर की अनदेखी कर महिला के इन दोनों पद पर पिछड़ा वर्ग पुरुष अभ्यर्थी का नामांकन कराया। जिसमें एजनीघाट वार्ड एक से पंच पद के लिए विशम्भर महतो और डुमरी वार्ड आठ से वकील साव ने नामांकन किया।

नामांकन प्रक्रिया समाप्ति के बाद बीडीओ ने दोनों पद पर एकल नामांकन होने से दोनों अभ्यर्थी को निर्विरोध निर्वाचित घोषित करने की अनुशंसा भी कर दी। लेकिन मतदान से पहले ही गड़बड़ी सामने आने पर दोनों अभ्यर्थी का पंच बनने का सपना अधूरा रह गया। आयोग की कड़ी निगरानी और सख्त निर्देश के बावजूद चुनाव प्रक्रिया में यह बड़ी लापरवाही मानी जा रही है। अब आयोग की कार्रवाई पर सबों की नजर टिकी है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.