Khagadia Crime : फाइनेंस व सीएसपी संचालकों से लूट के कई मामले आए सामने

खगडि़या में लूट की घटना से दहशत।

खगडि़या में सीएसपी संचालकों और फाइनेंस कंपनी के कर्मियों से लूट हुई है। त्वरित जांच में सामने आया कि निरंजन बाइक से जा रहा था। इसी दौरान किसी बाइक से ठोकर हो गई। दोनों में मारपीट हो गई।

Dilip Kumar shuklaFri, 26 Feb 2021 02:33 PM (IST)

जागरण संवाददाता, खगडिय़ा। खगडिय़ा के रेल व मुफस्सिल थाना क्षेत्रों में सीएसपी संचालकों और फाइनेंस कंपनी के कर्मियों से पिस्तौल के बल पर लूट के दो मामले हाल के दिनों में सामने आए। अब तक की जांच में दोनों मामले संदिग्ध ही पाए गए। विधान सभा चुनाव के दौरान सीएसपी संचालक निरंजन कुमार ने थाना पहुंच कर आरोप लगाया कि उसके तीन लाख रुपये रैक प्वाइंट पर पिस्तौल की नोंक पर लूट लिए गए। चित्रगुप्तनगर थानाध्यक्ष संजीव कुमार व रेल थानाध्यक्ष सुमन सिंह सक्रिय हो उठे। त्वरित जांच में सामने आया कि निरंजन बाइक से जा रहा था, कि, किसी बाइक से ठोकर हो गई। दोनों में मारपीट हो गई। इतने में निरंजन के एक रिश्तेदार जो पूर्व सैनिक बताए जा रहे हैं, वे अपना लाइसेंसी पिस्टल सत्यापन कराने जा रहा था और उक्त स्थल पर गोली चला दी। पुलिस ने कार्रवाई की और निरंजन पर केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया।

दूसरी घटना मुफस्सिल थाना अंतर्गत सोरायडीह की है। जहां सीएसपी संचालक पिता-पुत्र बाइक से जा रहे थे। आरोप लगाया कि पांच लाख ले जा रहे थे, बाइक पर सवार चार अपराधियों ने गोली चलाई और एक जेब से ढाई लाख लूटकर चलते बना। पुलिस ने केस किया। परंतु, वहां गोली चलने की पुष्टि नहीं हुई और अब तक के जांच में मामला संदेह की ओर जा रहा है। थानाध्यक्ष रंजीत कुमार ने बताया कि मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। इससे पहले समस्तीपुर व खगडिय़ा सीमा क्षेत्र में एक गिरोह सक्रिय था। कई बार सीएसपी संचालक को गोली मारकर राशि लूट लिया। विथान थाना क्षेत्र में संचालक की गोली मारकर हत्या भी कर दी। इसी बीच गिरोह ने कोरोना के दौरान सुपारी लेकर माकपा नेता की गोली मारकर हत्या कर दी। जिसमें गिरोह का सरगना शमशेर मुखिया, विक्रम तांती, सुभाष कुमार समेत आधे दर्जन से अधिक को पुलिस ने दबोच लिया और जेल भेज दिया। अब तक ये सभी खगडिय़ा जेल में बंद हैं और क्षेत्र में राहत है। मानसी के बलहा- सैदपुर क्षेत्र में एक सीएसपी संचालक को पिस्तोल की नोंक पर लूट लिया गया और अपराधी भाग निकले। पुलिस ने मजबूत कार्रवाई की और चार अपराधी को पिस्तौल के साथ दबोच लिया। लॉकडाउन के दौरान एक पेट्रोल पंप कर्मी से सात लाख की छिनतई हो गई। मामले में कोढ़ा गिरोह की भूमिका सामने आई। पुलिस ने कोढ़ा से चार लाख रुपये व कई मोबाइल बरामद किया।

बैंक, सीएसपी को लेकर लगातार सभी थाना व ओपी अध्यक्षों को सतर्क किया जा रहा है। बैंकों को चेक किया जा रहा है। कई जगहों पर चौकीदारों की तैनाती की गई है। मोटी राशि लाने, ले जाने पर पुलिस को सहयोग मांगने पर मदद करने को कहा गया है। - अमितेश कुमार, एसपी, खगडिय़ा

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.