झारखंड CM हेमंत सोरेन के बयान से गर्मायी Bihar Politics, जदयू ने तेजस्वी की मुलाकात पर साधा निशाना

Bihar Politics झारखंड सीएम हेमंत सोरेन ने भोजपुरी और मगही को लेकर जो बयान दिया। उसके बाद से बिहार की राजनीति गर्मा उठी है। सीएम नीतीश कुमार के बाद अब पार्टी की ओर से प्रतिक्रिया आई है। वहीं सोरेन और तेजस्वी यादव की मुलाकात पर भी निशाना साधा गया है।

Shivam BajpaiTue, 21 Sep 2021 07:12 PM (IST)
Bihar Politics: हेमंत सोरेन और तेजस्वी की मुलाकात पर उठाए जेडीयू का तंज।

आनलाइन डेस्क, भागलपुर। Bihar Politics: झारखंड सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) के बयान के बाद से बिहार की राजनीति गर्मागर्मी तेज हो गई है। खगड़िया पहुंचे जदयू के मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार ने हेमंत सोरेन और तेजस्वी यादव की मुलाकात पर निशाना साधा है। नीरज कुमार ने कहा कि जब तेजस्वी यादव हेमंत सोरेन से मिले, तो क्यों नहीं उनका मुंह खुला। उन्होंने कहा कि झारखंड से इनके परिवार का बड़ा लगाव रहा है।

खगड़िया परिसदन में मंगलवार को पहुंचे बिहार सरकार के पूर्व सूचना एवं जनसंपर्क विभाग मंत्री नीरज कुमार ने कहा कि ये देवघर कोषागार से निकासी में जेल चले गए। मीडिया में खबरें आ रही हैं कि डोरंडा कोषागार का मामला खुलने वाला है। जिसके कारण हमें लगता है कि इन्हें अंदेशा है कि कहीं फिर से जेल न चले जाएं। जिसके कारण तेजस्वी यादव को लालू जी ने निर्देशित किया है कि जाओ वहां तैयारी करो। यही वजह रही कि तेजस्वी हेमंत सोरेन से मिलने झारखंड जा पहुंचे।

क्या था हेमंत सोरेन का बयान

गौरलतब हो कि हेमंत सोरेन ने भोजपुरी और मगही को लेकर बयान दिया। उन्होंने यह कह कर विवाद खड़ा कर दिया कि दोनों भाषाएं बिहार की हैं, झारखंड की नहीं और झारखंड का बिहारीकरण हो रहा है।' उन्होंने कहा कि महिलाओं की इज्‍जत पर हमला कर भोजपुरी भाषा में गाली दी जाती है। झारखंड आंदोलन में भी बिहार की भाषा का कोई योगदान नहीं रहा है। यह आदिवासी और क्षेत्रीय भाषाओं के दम पर लड़ी गई थी। हेमंत ने अपने बयान में कहा 'जो लोग भोजपुरी, मगही बोलते हैं, वे सभी डॉमिनेटिंग पर्सन हैं।'

Bihar Politics: लालू यादव, तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव पर जमकर बरसे JDU प्रवक्ता नीरज कुमार, खगड़िया से कही ये बातें

सीएम नीतीश ने क्या बोले

झारखंड सीएम के इस बयान पर सीएम नीतीश कुमार ने प्रतिक्रिया दी। जनता दरबार के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि पहले झारखंड और बिहार एक ही था। बिहार के लोगों को झारखंड के प्रति प्रेम और सद्भाव आज भी है। वहां के लोगों को भी बिहार के लोगों प्रति वही प्रेम और सद्भाव है। बिहार-झारखंड दोनों भाई हैं और एक ही परिवार के हैं। उन्होंने आगे कहा कि पता नहीं पॉलिटिकल लोग क्या बोलते रहते हैं, बातें समझ में नहीं आतीं। वैसे तो पूरा देश ही एक परिवार है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.