शराब माफियाओं आंखों में खटकते थे जदयू अध्यक्ष, मार दी गोली, मौत के बाद लोगों में आक्रोश

शराब माफियाओं आंखों में खटकते थे जदयू अध्यक्ष, मार दी गोली, मौत के बाद लोगों में आक्रोश

11 अगस्‍त 2020 को मधेपुरा में जदयू नेता की हत्‍या कर दी गई। हत्‍या के बाद जिले में सनसनी फैल गई है। विभिन्‍न पार्टियों ने नेताओं के अलावा आम लोगों में गुस्‍सा है।

Publish Date:Wed, 12 Aug 2020 11:05 AM (IST) Author: Dilip Shukla

मधेपुरा, जेएनएन। शराब माफिया अपने कारोबार में किसी का हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं कर रहा। यहां तक कि हत्या तक में पीछे नहीं रह रहा है। मंगलवार की रात जोगबनी में गम्हरिया जदयू प्रखंड अध्यक्ष अशोक कुमार यादव उर्फ गरजु की हत्या में भी शराब माफियाओं के हाथ होने की बात कही जा रही है। वे भी क्षेत्र में शराब के अवैध कारोबार के खिलाफ थे। कई बार पुलिस को सूचना देकर कई लोगों की गिरफ्तारी भी कराई थी। वे शराब कारोबारी के नजर में खटक रहे थे। वहीं राजीनीति रूप से भी वे काफी मजबूत थे। दो बार से लगातार जदयू के प्रखंड अध्यक्ष थे। वहीं इससे पहले पंचायत समिति सदस्य थे। पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। मालूम हो कि मंगलवार की रात्रि जदयू अध्यक्ष श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर ठाकुरबाड़ी गए थे। वहां से लौटने के दौरान एक पान दुकान के पास गांव के लोगों से बातचीत करने लगे। इसी दौरान तीन मोटरसाइकिल सवार छह बदमाशों ने पहुंचकर उनपर गोली चला दी। प्रखंड अध्यक्ष को दो गोली पेट में लगी। ग्रामीणों ने जख्मी हलात में गम्हरिया पीएचसी लाया। जहां चिकित्सकों ने उन्हें बेहतर इलाज के लिए सुपौल रेफर कर दिया गया। सुपौल में इलाज के दौरान मौत हो गई। घटना की सूचना पर एसपी संजय कुमार ने भी पहुंचकर स्थिति की जानकारी ली साथ ही जल्द ही हत्यारों की गिरफ्तारी की बात कही। परिजनों ने बताया कि अशोक यादव की किसी से इस प्रकार की विवाद नहीं थी कि हत्या कर दी जाए।

दो बार से लगातार जदयू अध्यक्ष थे अशोक

अशोक यादव वर्ष 2011 के पंचायत चुनाव में पंचायत समिति सदस्य के रूप में भी चुने गए। उस दौरान प्रखंड की राजनीति में सक्रिय भूमिका निभाई थी। उसी दौरान 2015 में जदयू कार्यकर्ताओं की कमान संभाली थी। जदयू प्रखंड अध्यक्ष पद पर निर्विरोध चयन हुआ। दूसरी बार भी प्रखंड अध्यक्ष पद के लिए चुने गए। जदयू नेता की हत्या की खबर पुरे प्रखंड में शोक की लहर दौड़ गई है। लोगों का कहना है कि बढ़ते राजनीति कद व बदमाशों पर लगाम लगाने के कारण ही इनके हत्या हुई है। घटना की जानकारी मिलने पर जदयू जिलाध्यक्ष बिजेंद्र यादव, जिला परिषद प्रतिनिधि रविशंकर कुमार पिंटू, प्रखंड प्रमुख शशि कुमार, मुखिया श्याम यादव, करमलाल मेहता, अमरेन्द्र यादव, पप्पू झा, संजय यादव, पंसस सदानंद यादव, सरपंच सुरेन्द्र यादव प्रमोद यादव, मु. सुभान सहित अन्य लोग पंहुच कर पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया।

मुख्‍य बातें

- मंगलवार रात गम्हरिया जदयू प्रखंड अशोक यादव की बदमाशों ने कर दी थी हत्या

- दो बार से लगातार जदयू के प्रखंड अध्यक्ष थे अशोक

- राजीनीति में रहते थे काफी सक्रिय

- पुलिस कई बिंदुओं पर कर रही है जांच

- कृष्ण जन्माष्टमी पर ठाकुरबाड़ी गए थे प्रखंड अध्यक्ष, लौटने के दौरान मारी गोली

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.