पंचायत समिति की योजनाओं में अनियमितता, सदस्‍यों ने उठाया मामला

कई विभागों के अधिकारियों की अनुपस्थित पर विफरे प्रतिनिधि

प्रखंड प्रमुख नजमा खुर्शीद की अध्‍यक्षता में ग्राम पंचायतों में विकास को लेकर पंचायत समिति की एक बैठक हुई। जिसमें उपस्थित सदस्‍यों ने विभिन्‍न योजनाओं में व्‍याप्‍त भ्रष्‍टाचार का मुद़दा उठाया। बैठक में कई विभागों के अधिकारी भी अनुपस्थित थे।

Publish Date:Wed, 27 Jan 2021 07:14 PM (IST) Author: Amrendra kumar Tiwari

जागरण संवाददाता, अररिया । बुधवार को सिकटी प्रखंड मुख्यालय के सभा भवन में पंचायत समिति सदस्यों की बैठक हुई। जिसकी अध्यक्षता प्रखंड प्रमुख नजमा खुर्शीद ने की। बीडीओ राकेश कुमार ठाकुर ने सदन की कार्यवाही शुरू की एवं पंचायत समिति सदस्यों एवं प्रतिनिधियों द्वारा विकास कार्यों से जुड़े उठाए गए समस्याओं को गंभीरता से निदान का प्रतिनिधियों को आश्वासन दिया।

कई विभाग के पदाधिकारी अनुपस्थित पाएं गए। पदाधिकारियों में सीओ वीरेंद्र सिंह , बीईओ उमाकांत ओझा,बीएसओ राज कुमार महतो, एमओ श्याम सुंदर, पशु चिकित्सक श्रवण कुमार की मौजूदगी देखी गईं। बैठक में मुख्यालय के संबंधित विभागों से जुड़े प्रतिनिधियों के द्वारा लोकहित में उठाए गए सवालों पर विभागीय स्तर पर क्रियात्मक प्रतिक्रिया व्यक्त की गई।

बैठक के दौरान सर्वप्रथम प्रखंड प्रमुख नजमा खुर्शीद ने इस महत्वपूर्ण बैठक से पीएचईडी, कृषि, विद्युत विभाग एवं वन विभाग के पदाधिकारियों एवं कर्मियों द्वारा सम्मिलित नहीं होने पर खेद प्रकट किया। बैठक के दौरान प्रखंड प्रमुख ने बीडीओ का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि पंचायत समिति की बैठक में तमाम प्रतिनिधि अपने-अपने क्षेत्रों से जुड़े जन समस्याओं को लेकर सदन का ध्यान आकृष्ट कराने आते हैं और कराते रहे हैं।

लेकिन मुख्यालय के उपरोक्त तमाम पदाधिकारी एवं उनके कर्मी के गायब रहने से जनसमस्या निपटारा को ले प्रतिनिधियों को काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है।सदस्यों ने प्रखंड में मनरेगा विभाग के योजनाओं में अनियमितता का आरोप लगाते हुए सदन में रोष व्यक्त किया। मनरेगा कार्यालय में कार्यरत पंचायत रोजगार सेवकों पर मनरेगा स्वीकृत योजनाओं में खुलेआम कमीशनखोरी एवं जेसीबी मशीन प्रयोग करने का भी आरोप लगाया।

पंसस पीएचईडी द्वारा कराए जा रहे जल-नल योजना के कार्यों की जांच की मांग की। वहीं मजरख के पंसस व जिप सदस्य द्वारा पीडीएस दुकानदारों पर मनमानी का आरोप लगाया गया। अनाज के वितरण में मनमानी करने की बात कही। वहीं बिजली की सही आपूर्ति तथा विधुत संबंध को लेकर कनीय अभियंता से स्पष्टीकरण की बात बीडीओ द्वारा कही गईं। अंत में बीडीओ श्री ठाकुर ने पंचायत के मुखिया को एक सप्ताह के अंदर स्ट्रीट लाइट का कार्य पूर्ण कर इसकी रिपोर्ट प्रखंड मुख्यालय को सौंपने की बात कही। इस मौके पर उप प्रमुख प्रकाश ङ्क्षसह बादल, पंसस कुंदन पासवान, रौशन आरा, सुधीर कुमार मंडल ,मोजिबुर्रहमान, उदेश्वर मंड्ल, राजमिला देवी, मो मुस्लिम, दिनेश्वर मंडल, मंजुलादेवी, सत्यभामा देवी, मुखिया मथुरानंद मडल के अलावा कई पंचायत प्रतिनिधि मौजूद थे। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.