Indian Railways : मुंगेर में रेलवे यूनियन के नेताओं ने मनाया धिक्‍कार दिवस, कहा- निजी हाथों में रेलवे को बेचना चाहती है सरकार

Indian Railways रेल यूनियन के नेताओं ने सोमवार को जमालपुर में खूब प्रदर्शन किया। उन्‍होने धिक्‍कार दिवस मनाया। इस दौरान यूनियन के नेताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। साथ ही यूनियन से जुड़े नेताओं का फोन टेपिंग कराने का आरोप लगाया।

Abhishek KumarMon, 26 Jul 2021 04:01 PM (IST)
Indian Railways : रेल यूनियन के नेताओं ने सोमवार को जमालपुर में खूब प्रदर्शन किया।

संवाद सहयोगी,जमालपुर (मुंगेर)। आल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन व इस्टर्न रेलवे मेंस यूनियन के आह्वान पर जमालपुर ओपन लाइन शाखा डीजल शेड में सोमवार को धिक्कार दिवस माया गया। केंद्र सरकार की नीतियों पर यूनियन ने पुरजोर विरोध किया। अध्यक्षता करते हुए केंद्रीय उपाध्यक्ष सत्यजीत कुमार ने कहा कि रेलवे और कर्मियों के विरोध में रची जा रही साजिश को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।

रेल को निजी हाथों में नहीं बेचने दिया जाएगा। शाखा सचिव केडी यादव ने कहा कि केंद्र सरकार विपक्षी दलों के नेताओं, यूनियन सहित अन्य का मोबाइल टेप कर रही है। स्पाइवेयर साफ्टवेयर से नजर रख रही है। इसका यूनियन पुरजोर विरोध करता है। शाखा सचिव ने कहा कि 2017 से ही एआइआरएफ के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा है और वह नेशनल जेसीए के संयोजक भी हैं। उन पर भी नजर रखी जा रही है। इसी के विरोध में एआइआरएफ से संबंधित सभी यूनियन धिक्कार दिवस मना रही है। केंद्रीय उपाध्यक्ष ने रेल मजदूरों को आह्वान करते हुए कहा केंद्र सरकार के गलत नीति का विरोध करने की बात कही। प्रदर्शन में एसडी मंडल, सुबोध रंजन, नवल किशोर भारती, राजेश कुमार, राज बिहारी राय, गोपाल प्रसाद, नागेश्वर मरांडी, दशरथ गोप, राजकिशोर यादव, माला देवी, आरती देवी, गीता देवी, प्रेमा देवी, निर्मला देवी सहित सैकड़ों कर्मचारी उपस्थित थे।

सरकार नहीं चेती तो रेल चक्का होगा जाम

जमालपुर : एआइआरएफ के आह्वान पर मेंस यूनियन कारखाना शाखा की ओर से डीजल शाप में पदभ्रमण कर केंंद्र सरकार की नीतियों पर हमला बोला। रेल कर्मियों को एकजुट करते हुए शाखा अध्यक्ष विश्वजीत व सचिव मनोज कुमार ने कहा कि एआइआरएफ के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा के आह्वान पर देश में श्रमिक संगठनों ने विरोध किया है। यूनियन नेताओं ने कहा कि रेल व रेल कर्मियों की अस्तित्व से खिलवाड़ करना सरकार बंद करे, नहीं तो एआइआरएफ के महामंत्री के नेतृत्व में रेल चक्का जाम होगा। मोबाइल टेप व जासूसी का काम अविलंब बंद हो। इससे पहले यूनियन नेताओं ने कारखाना के सभी शाप में शब्दों में झंडा, बैन-पोस्टर के साथ प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में केंद्रीय उपाध्यक्ष, राजेंद्र प्रसाद यादव, अनिल प्रसाद यादव, ओम प्रकाश साह, रंजीत कुमार, मोहम्मद बहाउद्दीन, शैलेंद्र कुमार, अर्जुन ङ्क्षसह, सीसीलिया टूडू ,सुनीता कुमारी, विपिन, एसके ओझा, केन विश्वास, टुनटुन, दीपक कुमार सिन्हा सहित कई रेल कर्मी और यूनियन के पदाधिकारी थे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.