Inaugurated Mandar Ropeway: मंदार हुआ गौरवान्वित, देश-विदेशों से पर्यटकों के आने की बढ़ी संभावनाएं

ब‍िहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने जैसे ही मंदार रोप-वे का उद्घाटन किया इससे मंदार गौरवान्वित हो गया। अब यहां काफी संख्‍या में पर्यटक आएंगे। पर्यटकों के आने से रोजगार के अवसर यहां ज्‍यादा मिलेंगे। क्षेत्र का व‍िकास भी होगा।

Dilip Kumar ShuklaWed, 22 Sep 2021 11:58 AM (IST)
मंदार रोपवे का उद्घाटन हुआ। गौरव भरा क्षण।

बाराहाट/अमरपुर (बांका) [आशुतोष कुंदन/शंभू दुबे]। सीएम के आगमन को लेकर मंदार में उत्सवी माहौल रहा। जगह जगह तोरण द्वार के साथ सीएम के कटआउट लगे हुए थे। जिस पर बिहार सरकार के योजनाओं की चर्चा की गई थी। रंग बिरंगा पताको से सजा मंदार की छटा आज काफी निखर रही थी। दूसरी तरफ काफी संख्या में बाहर से लोग पहुंचे थे जो सीएम की एक झलक पाना चाह रहे थे, लेकिन वहां पर सुरक्षा कारणों से सिर्फ वीआईपी लोगों को ही प्रवेश दिया गया था।

रोपवे के लोअर प्लेटफार्म को भी फूलों से सजाया गया था। दूरदर्शन की संचालिका सोनी स‍िंह मंदार के गौरवशाली इतिहास का वर्णन किया। मंदार को कई सौगातें मिली। जिससे क्षेत्र के लोगों में खुशी का माहौल है। लगभग डेढ़ घंटे तक सीएम मंदार को निहारते रहे।

प्रतिनिधियों से कहा, बहुत खूब

सीएम रोप-वे की ट्राली में सफर कर सीताकुंड, जैन मंदिर में वासू पूज्य के दर्शन किए। इस दौरान रोप-वे से मंदार की प्राकृतिक सौंदर्य देख मुख्यमंत्री अभिभूत हो गए। सीता कुंड, जैन मंदिर के दर्शन के बाद सीएम उडऩ खटोले से नीचे रोपवे स्थल स्टेशन पर उतरे। सीएम नीतीश कुमार के मंदार आगमन के दौरान सुरक्षा के कड़ बंदोबस्त किए गए थे। पुलिस कप्तान सहित जिले के आला अधिकारी पूरी मुस्तैदी के साथ तैनात रहे। इसके अलावा हेलिपैड से मंदार तक चप्पे-चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात किए गए थे। सीएम के हाथों लोकार्पण के साथ ही कंपनी ने आम पर्यटकों व श्रद्धालुओं के लिए लिए रोप-वे का संचालन शुरू कर दिया है।पहले दिन बड़ी संख्या में लोगों ने रोप-वे का लुत्फ उठाया। सीएम ड्यूटी पर तैनात कई पुलिस कर्मियों ने भी मुफ्त में रोप-वे का लुत्फ उठाया।

मुख्यमंत्री ने हेलीकाप्टर से पुरातात्विक स्थल का किया निरीक्षण

भदरिया पुरातात्विक स्थल राज्य के सुरक्षित स्मारकों में शुमार होने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा मंगलवार को हवाई सर्वेक्षण कर पुरातात्विक स्थल का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री के हवाई सर्वेक्षण को लेकर सुबह से ही बीडीओ राकेश कुमार, सीओ स्वाति कृष्णा, थानाध्यक्ष मु. सफदर अली, जल संसाधन विभाग भागलपुर अपर प्रमंडल के सहायक अभियंता अशोक शर्मा, कनीय अभियंता छविनय कुमार, मिलन राय सहित अन्य पदाधिकारी पुरातात्विक स्थल पर जमे रहे। पुरातात्विक स्थल पर बैरिकेङ्क्षडग किया गया था। तथा हवाई सर्वेक्षण में किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो इसके लिए पुरातात्विक स्थल एक बांस में झंडा लगा दिया था। मुख्यमंत्री के हवाई सर्वेक्षण की सूचना मिलने पर स्थानीय प्रशासन द्वारा पिछले दो दिनों से पुरातात्विक स्थल का मजदूरों से सफाई करा दिया था। मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर दोपहर बाद पुरातात्विक स्थल के उपर पहुंचा। जहां हेलीकाप्टर ने पुरातात्विक स्थल एवं पुरातात्विक स्थल को संरक्षित करने के लिए नदी की धारा मोडऩे के लिए बनाए गए र‍िंग बांध को दो चक्कर लगा निरीक्षण किया। इस अवसर पर पैक्स अध्यक्ष बिनोद मिश्र, प्रशांत कापरी, सुमन कापरी, समाजसेवी राजेश भगत सहित भदरिया, रामचंद्रपुर, गंगापुर, खंजरपुर, राजापुर सहित आसपास गांवों के काफी संख्या में लोग मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.