बांका में अवैध बालू का हो रहा खनन, हाईस्कूल मैदान के अस्तित्व पर मंडराने लगा खतरा

बालू में अवैध बालू के उठाव का खेल जारी है।

बालू में अवैध बालू के उठाव का खेल जारी है। इससे पंजवारा के हाईस्कूल मैदान का अस्तित्व खतरे में है। इसे लेकर विद्यालय प्रबंधन कई बार इन बालू कारोबार से जुड़े लोगों से मिलकर यहां से बालू न उठाने की अपील की। बावजूद इसके यह खेल और बढ़ता चला गया।

Abhishek KumarMon, 12 Apr 2021 06:28 PM (IST)

संवाद सूत्र, पंजवारा (बांका)। स्थानीय हाईस्कूल के निकट चीर नदी से अवैध तरीके से बालू उठाव का खेल बदस्तूर जारी है। सीमांकन से बाहर विद्यालय की जमीन से बालू का उठाव किया जा रहा है। इसे लेकर विद्यालय प्रबंधन कई बार इन बालू कारोबार से जुड़े लोगों से मिलकर यहां से बालू न उठाने की अपील की। बावजूद इसके यह खेल और बढ़ता चला गया। इससे विद्यालय के खेल मैदान व भवन पर भविष्य में खतरे का अंदेशा मंडराने लगा है।

बता दें कि इंटरस्तरीय हाईस्कूल चीर नदी किनारे अवस्थित है। इसके उत्तर व दक्षिण दोनों तरफ विद्यालय की निजी जमीन पर खेल मैदान है। जो यहां का इकलौता खेल मैदान व किसी नेता के लिए सभा मैदान है। नदी इससे पूर्व में कई सौ फीट दूर बहती थी। लेकिन पूर्व आई बाढ़ के साथ रेत की परत विद्यालय की जमीन तक फैल आई। अत्यधिक बालू उठाव के कारण अब नदी में यहां पर बालू नहीं के बराबर रह गया है। अब इन माफियाओं की नजर निजी जमीन पर पसरे बालू पर है। अवैध तरीके से यहां से बालू का उठाव कर रहे हैं। कहने पर विवाद पर उतारू हो जाते हैं। विद्यालय प्रधान विमल कुमार ने शनिवार को सीओ शरत मंडल को लिखित आवेदन देकर इसपर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने की मांग की है। ताकि भविष्य में बरसात में नदी की तेज धार में खेल मैदान या फिर विद्यालय भवन का अस्तित्व बचा रहे।

सीओ शरत मंडल ने कहा कि इसके लिए माइङ्क्षनग व थानाध्यक्ष को कहकर इसपर समुचित पहल कराया जाएगा। वे स्वयं इसका सत्यापन करेंगे। अगर सीमांकन से बाहर से बालू उठाव पाया गया तो संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी।

रेलवे पुल पर किसी का ध्यान नहीं

बांका स्थित रेलवे पुल पर किसी का ध्यान नहीं दिया है। पुल से सटे बालू का उठाव लगातार जारी है। इससे पुल का बेसमेंट दिखने लगा है। स्थानीय लोगों ने बताया कि इस पर किसी का ध्यान नहीं जाने से कभी भी पुल गिर सकता है। इधर, बेलहर विधायक मनोज यादव ने बताया कि रेल पुल गिरने से रेल सेवा बाधित हो जाएगी। इसके लिए पहल किया जाएगा। इस पर रोक नहीं लगने से विधान सभा में इस मुद्दे को उठाया जाएगा।

बालू लदे ट्रैक्टरों के साथ दो व्यक्ति गिरफ्तार

संवाद सूत्र, जयपुर (बांका)। बालू माफियाओं पर लगातार हो रही कार्रवाई के बावजूद नदियों से बालू उत्खनन रुकने का नाम नहीं ले रहा है। रात तो रात दिन के उजाले में भी पासर के सहयोग से बालू माफिया चांदन नदी से बालू उठाव कर झारखंड सप्लाई कर रहे हैं।

सोमवार को थानाध्यक्ष पंकज कुमार राउत ने मकुंदा के आसपास बालू लदे दो स्वराज ट्रैक्टर को जब्त करते हुए मुकुंदा गांव के ट्रैक्टर मालिक मणिकांत यादव एवं मणी चंद्र दत्त को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की इस कार्रवाई से बालू माफियाओं में हड़कंप मच गया है। कुछ दिन पूर्व ही एसडीपीओ प्रेमचंद ङ्क्षसह ने जयपुर क्षेत्र में बालू माफियाओं के खिलाफ छापेमारी कर आधा दर्जन ट्रैक्टर जब्त कर माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की थी। थानाध्यक्ष ने बताया कि बालू माफियाओं के खिलाफ लगातार छापेमारी जारी रहेगा।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.