IGNOU: जुलाई 2021 सत्र के लिए होगा पुनर्पंजीकरण, तिथि घोषित

न्दिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर एवं स्नातक कक्षाओं के लिए ऑनलाइन पुनर्पंजीकरण।

IGNOU इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय ने जुलाई 2021 सत्र में स्नातकोत्तर एवं स्नातक कक्षाओं के लिए ऑनलाइन पुनर्पंजीकरण शुरू कर दिया गया है। री-रजिस्ट्रेशन 15 जून तक करवा सकते हैं। इसकी तैयारी विवि प्रशासन ने कर ली है।

Dilip Kumar ShuklaWed, 12 May 2021 09:38 AM (IST)

जागरण संवाददाता,पूर्णिया। इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय द्वारा जुलाई, 2021 सत्र में स्नातकोत्तर एवं स्नातक कक्षाओं के लिए ऑनलाइन पुनर्पंजीकरण शुरू कर दिया गया है। शिक्षार्थी अपना पुनर्पंजीकरण (री-रजिस्ट्रेशन) 15 जून तक करवा सकते हैं। इग्नू क्षेत्रीय क सहरसा के क्षेत्रीय निदेशक डा. मिर्जा नेहाल ए.बेग के हवाले से इग्नू अध्ययन केन्द्र, पूर्णिया के समन्वयक प्रो. गौरी कांत झा ने बताया कि इग्नू ने समर्थ पोर्टल पर अपने छात्र-छात्राओं के लिए जुलाई, 2021 सत्र के लिए पुन: पंजीकरण आरंभ कर दिया है।

शिक्षार्थी इग्नू के वेबसाइट के माध्यम से पंजीकरण पोर्टल तक आसानी से पहुंच सकते हैं। एक बार पंजीकरण कर लेने के पश्चात् लॉगिन करने पर उन्हें पात्रता होने पर पुन: पंजीकरण फॉर्म जमा करने का विकल्प मिलेगा। नए पोर्टल पर शिक्षार्थी अपने उपयोग के लिए एक डैशबोर्ड बना सकते हैं। भविष्य में इस पोर्टल पर इग्नू में अध्ययनरत शिक्षार्थी अन्य सेवाओं का लाभ यथा पता में परिवर्तन, अध्ययन केंद्र, पाठ्यक्रम, क्षेत्रीय केंद्र आदि में सुधार अथवा परिवर्तन एवं परीक्षा फार्म जमा कर सकते हैं। इसके लिए प्रत्येक शिक्षार्थियों का अपना यूजर एकाउंट होना आवश्यक है।

समन्वयक प्रो.झा ने बताया कि शिक्षार्थी स्नातकोत्तर कार्यक्रम के अन्तर्गत अंग्रेजी साहित्य, हिन्दी साहित्य, राजनीति विज्ञान, इतिहास, अर्थशास्त्र, लोक प्रशासन, समाजशास्त्र, ग्रामीण विकास, गांधी एवं शांति अध्ययन, अनुवाद अध्ययन एवं वाणिज्य पाठ्यक्रम में पुनर्पंजीकरण करा सकते हैं। स्नातक प्रतिष्ठा कार्यक्रम के अन्तर्गत अर्थशास्त्र, इतिहास, राजनीति विज्ञान, मनोविज्ञान, लोक प्रशासन, समाजशास्त्र, अंग्रेजी एवं हिन्दी पाठ्यक्रम में नामांकन ले सकते हैं। स्नातक प्रतिष्ठा में डिग्री के लिए तीन वर्ष में छह सेमेस्टर के अन्तर्गत कुल 144 क्रेडिट का कोर्स पूरा करना होता है।

स्नातक सामान्य कार्यक्रम के अन्तर्गत कला (बीएजी) के शिक्षार्थी अर्थशास्त्र, इतिहास, राजनीति विज्ञान, मनोविज्ञान, लोक प्रशासन, समाजशास्त्र, अंग्रेजी, हिन्दी एवं शिक्षा पाठ्यक्रम में नामांकन ले सकते हैं। इसके तहत तीन वर्ष की अवधि में छह सेमेस्टर के अन्तर्गत कुल 132 क्रेडिट का कोर्स पूरा करना होता है। विज्ञान (बीएससीजी) के शिक्षार्थी भौतिकी, रसायन, वनस्पति, जीवविज्ञान एवं भूगोल पाठ्यक्रम में नामांकन ले सकते हैं। इसके अतिरिक्त वाणिज्य (बीकॉमजी) के शिक्षार्थी भी नामांकन करा सकते हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.