लक्ष्मी ज्वेलर्स में चोरी के मामले में जांच करने पटना से जमुई पहुंची FSL टीम

पटना से FSL टीम जमुई पहुंची है। टीम यहां हुई लक्ष्मी ज्वेलर्स में चोरी के मामले पर गहनता से जांच कर रही है। फएसएल टीम में फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट भी हैं जो हर क्लू जुटा रहे हैं। इससे पहले डाग स्क्वायड की टीम मौके पर पहुंची थी।

Shivam BajpaiFri, 03 Dec 2021 11:44 AM (IST)
आसपास के इलाके में जांच करती टीम।

संवाद सहयोगी, जमुई: खैरा बाजार स्थित मां लक्ष्मी ज्वेलर्स में बुधवार की रात हुई चोरी की घटना मामले में पटना से एसएफएल की टीम जांच करने पहुंची। टीम ने दुकान में टूटे गोदरेज सहित अन्य सामानों की बारीकी से जांच की। फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट ने सभी प्रकार के फिंगर प्रिंट के साक्ष्य को इकट्ठा किया। एफएसएल टीम में फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट ब्रजबिहारी सिंह एवं फोटो एक्सपर्ट रघुनंदन शामिल थे। इससे पूर्व डाग सक्याड की टीम भी मामले की जांच कर चुकी है। बता दें कि खैरा थाना से चंद कदम की दूरी पर मां लक्ष्मी ज्वेलर्स दुकान को चोरों ने निशाना बनाते हुए पांच लाख के जेवरात पर हाथ साफ कर लिया था।

घटना के बाबत दुकान संचालक ओमप्रकाश मोदी ने थाना में आवेदन देकर केस दर्ज कराया था। चोरों ने वारदात को अंजाम देने से पहले सीसीटीवी कैमरा और हार्ड डिस्क को क्षतिग्रस्त कर दिया था। दो माह पूर्व भी इसी दुकान में चोरी की वारदात हुई थी। मामले में पुलिस ने खैरा बाजार से ही एक युवक को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

चोरों का बढ़ा आतंक, एक ही रात तीन जगहों पर चोरी

जिले में चोरों का आतंक बढ़ गया है। बुधवार की रात चोरों ने अलग-अलग थाना क्षेत्र स्थित दुकान, घर व मंदिर में चोरी की वारदात को अंजाम दिया। इसमें चोरों ने 11 लाख रुपये से अधिक की संपत्ति की चोरी की है।

खैरा थाना से चंद कदम की दूरी पर मां लक्ष्मी ज्वेलर्स दुकान में बुधवार की रात पीछे की दीवार में सेंध काटकर चोर घुसे और दुकान में रखे जेवरात की चोरी कर ली। दुकानदार ओमप्रकाश मोदी ने बताया कि गुरुवार की सुबह दुकान खोलने आया तो देखा कि सारा सामान बिखरा पड़ा है और सीसीटीवी कैमरा और हार्ड डिस्क क्षतिग्रस्त है। चोरों ने दुकान में रखा पांच किलो चांदी और सौ ग्राम सोना की चोरी कर ली। दो माह पूर्व भी इसी दुकान में चोरी की वारदात हुई थी। मामले में पुलिस ने खैरा बाजार से ही एक युवक को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

घटना की जानकारी मिलने पर थानाध्यक्ष सिद्धेश्वर पासवान, पुअनि त्रिपुरारी यादव, शंकर दयाल राव, सअनि भोला सिंह दलबल के साथ मौके पर पहुंच मामले की छानबीन में जुटे हैं। थानाध्यक्ष ने बताया कि डाग स्कायड की टीम को बुलाकर जांच की गई है। जल्द ही चोरी की घटना का पर्दाफाश कर लिया जाएगा।

दूसरी घटना सिकंदरा थाना क्षेत्र के गोखुला गांव में घटी। चोरों ने एक घर से नकदी समेत लाखों के जेवरात की चोरी कर ली। विलास ङ्क्षसह के घर उस वक्त घटना को अंजाम दिया जब परिवार के लोग सो रहे थे। चोर घर में छत से प्रवेश कर कमरे में रखा एक बक्सा एवं एक ट्राली को चुरा लिया। चोरों ने कीमती कपड़े, जेवरात व नकद निकालकर ट्राली बैग एवं बक्से को घर से दूर जाकर फेंक दिया। चोरी की घटना का पता गृहस्वामी को तब चला जब वह अहले सुबह उठकर कमरे की ओर गया तो देखा कि सामान बिखड़ा पड़ा है। बक्सा और ट्राली बैग को गायब है। घटना की सूचना पड़ोसियों को दी। इसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच की। पीडि़त गृहस्वामी के मुताबिक चोरों ने पांच लाख से अधिक के जेवरात की चोरी की है। गृहस्वामी ने सिकंदरा थाने में मामला दर्ज कराया है।

तीसरी घटना गिद्धौर थाना क्षेत्र की है। चोरों ने बंधौरा गांव स्थित ऐतिहासिक काली मंदिर को निशाना बनाते हुए मंदिर परिसर में बने कमरे का ताला तोड़ दो सेट बड़ा मशीन, चैनल का तार, तीन कोड लेस माइक, यूको मशीन, लगभग एक दर्जन पीतल का झाल, पीतल का घंटा और एक हारमोनीयम सहित अन्य सामन की चोरी कर ली। जिसकी कीमत लगभग एक लाख रुपये के आसपास बताई जा रही है। मंदिर का सामान चोरी होने से लोग आक्रोशित हैं। ग्रामीणों ने बताया कि गांव के बीच यह ऐतिहासिक मां काली मंदिर अवस्थित है। पहली बार चोरों ने धर्म स्थान पर इस तरह की घटना को अंजाम दिया है। घटना को लेकर ग्रामीणों ने पुलिस को आवेदन दिया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.