उन्नत खेती से किसानों की आमदनी होगी दोगुनी, पूर्णिया में पैक्स भाड़े पर देगा ट्रैक्टर और अन्य कृषि संयंत्र

उन्नत और आधुनिक खेती से अब किसानों की आमदनी बढ़ेगी। इसके लिए पंचायत में ही पैक्स उन्हें भाड़े पर ट्रैक्टर व अन्य कृषि संयंत्र उपलब्ध कराएगा। मुख्यमंत्री हरित कृषि संयंत्र योजना के तहत जिले में किसानों को इसका लाभ मिलना शुरू हो गया है।

Abhishek KumarSun, 01 Aug 2021 01:51 PM (IST)
उन्नत और आधुनिक खेती से अब किसानों की आमदनी बढ़ेगी।

जागरण संवाददाता, पूर्णिया। अत्याधुनिक कृषि संयंत्र के लिए अब गरीब किसानों को भटकना नहीं होगा। पंचायत में ही पैक्स उन्हें भाड़े पर ट्रैक्टर व अन्य कृषि संयंत्र उपलब्ध कराएगा। मुख्यमंत्री हरित कृषि संयंत्र योजना के तहत जिले में किसानों को इसका लाभ मिलना शुरू हो गया है। जिले में फिलहाल ट्रैक्टर एवं कई अन्य संयंत्र पैक्सों को उपलब्ध कराए गए हैं जिसका लाभ खासकर गरीब किसानों को मिलने लगा है। जिला सहकारिता पदाधिकारी ने बताया कि उक्त योजना के तहत जिल में 34 पैक्सों का चयन किया गया है जिसके माध्यम से किसानों को कृषि संयंत्र भाड़े पर उपलब्ध कराया जाएगा। प्रथम चरण में पैक्सों को 11 ट्रैक्टर मिले हैं जो किसानों को भाड़े पर दिए जा रहे हैं। अन्य पैक्सों द्वारा भी कृषि संयंत्र खरीदारी की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। जल्द ही सभी चयनित पैक्सों से किसानों को कृषि कार्य के लिए मामूली किराए पर यंत्र उपलब्ध होने लगेंगे।

लघु और सीमांत किसानों को मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री हरित कृषि संयंत्र योजना का सबसे अधिक लाभ लघु और सीमांत किसानों को मिलेगा। आर्थिक तंगी की वजह से छोटे किसान महंगे कृषि संयंत्र की खरीद नहीं कर पाते हैं जिस कारण यांत्रीकरण का लाभ उन्हें नहीं मिल पाता है। ऐसे किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए ही सरकार ने उक्त योजना लांच की है। इससे जहां कृषि यांत्रीकरण को बढ़ावा मिलेगा वहीं गरीब किसानों के उपज में वृद्धि होगी और उनकी आय बढ़ेगी। सरकार ने किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। मुख्यमंत्री हरित कृषि संयंत्र योजना इसमें सहायक साबित होगी। जो किसान खेती-बाड़ी से जुड़ी आधुनिक मशीन खरीदने में असमर्थ हैं वे आसानी से पैक्सों के माध्यम से मामूली भाड़ा देकर मशीन का लाभ उठा सकेंगे।

भाड़े का निर्धारण पैक्स की कमेटी करेगी।

धमदाहा और पूर्णिया पूर्व प्रखंड के सबसे अधिक पैक्स हैं चयनित

प्रथम चरण में जिले के 34 पैक्सों का चयन किया गया है जिसके माध्यम से किसान कृषि यंत्रों का लाभ ले सकते हैं। चयनित पैक्सों में सबसे अधिक पूर्णिया पूर्व और धमदाहा प्रखंड के छह-छह पैक्स शामिल हैं। पूर्णिया पूर्व प्रखंड के बियारपुर पैक्स, चांदी, रजीगंज, सिकंदरपुर, डिमिया छतरजान एवं लालगंज पैक्स शामिल हैं। वहीं बायसी अनमंडल के बैसा के मालोपाड़ा एवं सिरसी, अमौर के झौआबाड़ी एवं बकेनिया बरेली, बायसी का खुटिया तथा डगरूआ के टौली पैक्स शामिल हैं। वहीं कसबा के बनैली व सधुवेली, केनगर के मजरा, सतकोदरिया, रहुआ, बेलारिकाबगंज, जगनी, गणेशपुर, बिठनौली पूरब, जलालगढ़ के जलालगढ़, चक, सरसौनी एवं रामदेली शामिल है। जबकि धमदाहा प्रखंड में चिकनी डुमरिया, कुआड़ी, माली दमगड़ा, पारसमणी एवं निरपुर पैक्स शामिल हैं। जबकि भवानीपुर के बड़हरी, श्रीपुर मिलिक, जावे और गोदवारा पटकेली तथा रूपौली के कोयली सिमड़ा पूरब शामिल हैं।

11 पैक्सों में मिला है ट्रैक्टर

पूर्णिया पूर्व, धमदाहा, अमौर आदि प्रखंडों के 11 पैक्सों को ट्रैक्टर मिल चुका है जिसका लाभ किसानों को मिल रहा है। जिन पैक्सों को ट्रैक्टर मिला है उनमें चांदी, रजीगंज, सिकंदर पुर, बियारपुर, लालगंज, टौली, बकेनिया बरेली, झऔरी, खुटिया, श्रीपुर मिलिक एवं गोदावरी पटकेली शामिल हैं। वहीं लालगंज, झौआरी, जगनी एवं बेलारिकाबगंज को रोटावेटर मशीन भी उपलब्ध कराया गया है। उक्त संयंत्र का लाभ वहां के किसान ले सकते हैं तथा अपनी आय बढ़ा सकते हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.