जलजमाव वाले क्षेत्र के नालों पर से हटेगा अतिक्रमण

शहर में जलजमाव वाले क्षेत्र के नालों से अतिक्रमण हटाया जाएगा। जिलाधिकारी ने निगम अधिकारियों और सीओ को निर्देश दिया है।

JagranSun, 01 Aug 2021 07:29 AM (IST)
जलजमाव वाले क्षेत्र के नालों पर से हटेगा अतिक्रमण

भागलपुर। शहर में जलजमाव वाले क्षेत्र के नालों से अतिक्रमण हटाया जाएगा। जिलाधिकारी ने नगर निगम के नगर आयुक्त और जगदीशपुर के अंचलाधिकारी को स्थल पर जाकर अतिक्रमण की जांच करने का आदेश दिया है। जांच के बाद अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई होगी। जगदीशपुर अंचलाधिकारी संजीव कुमार ने सैंडिस कंपाउंड के सामने हथिया नाला पर अतिक्रमण करने वाले चार लोगों को नोटिस किया है। छह अगस्त को मामले की सुनवाई होगी।

23 जुलाई को जगदीशपुर सीओ संजीव सिंह के नेतृत्व में सीआइ और निगम के अमीन ने नवाबबाग के पास हथिया नाला की मापी की गई थी। मापी के समय यह बात सामने आई कि करीब 200 फीट नालों पर अपार्टमेंट, स्कूल व दुकानें बना दी गई हैं। 14 से अधिक लोगों ने कहीं ढाई फीट तो कहीं चार फीट तक नाले का अतिक्रमण कर रखा है। इस हथिया नाला का निकास भीखनपुर रेलवे भंवरा से होते हुए लोदीपुर की ओर जाता था, जो चार दशकों से बंद पड़ा है। निजी जमीन पर अपार्टमेंट बन गया। इससे नाले का निकास पूरी तरह से बंद हो गया।

......................

लगातार हो रही मानीटरिग

जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने भागलपुर शहरी क्षेत्र में होने वाले जलजमाव को गंभीरता से लेते हुए नगर आयुक्त व जगदीशपुर अंचलाधिकारी को निर्देश दिया है कि जलजमाव वाले सभी क्षेत्रों का भ्रमण कर अतिक्रमण के बिंदु की जांच करें और जांचोंपरांत उक्त स्थल को नियमानुसार अतिक्रमण से मुक्त कराएं, ताकि जलजमाव की स्थिति उत्पन्न नहीं हो। जिलाधिकारी जलजमाव की लगातार मानीटरिग कर रहे हैं।

डीएम को नगर आयुक्त ने जानकारी दी है कि अधिक वर्षा होने की स्थिति में सैंडिस कंपाउंड के दक्षिण दिशा एवं एवं मुख्य सड़क पर जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। सैंडिस कंपाउंड दक्षिणी द्वार पर स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत दो सोख्ता का निर्माण कराया गया है। नगर आयुक्त ने बताया कि सैंडिस कंपाउंड के दक्षिणी द्वार के सामने पूर्व में अवस्थित हथिया नाला, जिससे पूर्व में तीव्र गति से जल की निकासी हो जाती थी, लेकिन वर्तमान में अतिक्रमण होने के कारण नाले की सफाई नहीं कराई जा सकी है। नाले के मुहाने पर मिट्टी जमा होने के कारण जल की निकासी नहीं होने से जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो रही है। डीएम ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया है कि हथिया नाला के आसपास किए गए अतिक्रमण को चिन्हित करते हुए अविलंब नियमानुसार अतिक्रमण हटाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करें। जगदीशपुर के अंचलाधिकारी को निर्देश दिया गया कि हथिया नाला के आसपास जांच कर सरकारी भूमि पर किए गए अतिक्रमण को अविलंब अतिक्रमणमुक्त कराना सुनिश्चित करें।

.....................

14 हथिया नाला पर है अतिक्रमण

शहर में 14 हथिया नाला हैं। सभी पर अवैध निर्माण और अतिक्रमण कर लिया गया है। करीब 14 फीट चौड़े और लगभग 20 फीट गहरे नाले को लोगों ने अतिक्रमित कर लिया। हथिया नाले के ऊपर बड़ी-बड़ी बिल्डिग बना लिए। इसके कारण जल निकासी की समस्या खड़ी हो गई है। पांच दशक से हथिया नाले की उड़ाही नहीं होने के कारण हल्की बारिश होने पर भी शहर में जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। कई जगहों पर तो इतना अधिक पानी जमा हो जाता है कि वहां नाव भी चलाई जा सकती है।

....................

कहां-कहां है हथिया नाला

- मनसकामना नाथ मंदिर से चंपा पुल तक

- भागलपुर स्टेशन चौक से उर्दू बाजार होते हुए विश्वविद्यालय परिसर तक

- खरमनचक से आरके लेन जोगसर होते हुए बूढ़ानाथ तक

- बड़ी डाकघर से हनुमान नगर कॉलोनी होते हुए सीएमएस स्कूल मानिक सरकार तक

- खंजरपुर से मोती कोचवान लेन से महाराज घाट तक

- डिक्सन मोड़ से भोलानाथ पुल होते हुए मंदार रेलवे लाइन तक

- वारसलीगंज से कुतुबगंज होते हुए नदी तक

- गुड़हट्टा चौक से अलीगंज चौक तक

- सिचाई कालोनी से सचिदानंद कॉलोनी होते हुए नीलकंठ नगर तक

- सुजागंज से मस्जिद लेन तक

- हड़िया पट्टी गली से डिक्शन मोड़ तक

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.