शराब तस्करी रोकने के लिए भागलपुर पुलिस ने उठाए 'हवाई कदम', दियारा इलाके में ड्रोन से रखी जाएगी नजर

भागलपुर में शराब तस्करी रोकने के लिए ड्रोन से नजर रखी जाएगी। दियारा में शराब बरामदगी और जरायम पेशेवरों की गिरफ्तारी को लेकर चलाए जा रहे अभियान में ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल किया जाएगा। एसएसपी निताशा गुडिय़ा ने आबकारी अधीक्षक...

Abhishek KumarPublish:Thu, 02 Dec 2021 11:48 AM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 11:48 AM (IST)
शराब तस्करी रोकने के लिए भागलपुर पुलिस ने उठाए 'हवाई कदम', दियारा इलाके में ड्रोन से रखी जाएगी नजर
शराब तस्करी रोकने के लिए भागलपुर पुलिस ने उठाए 'हवाई कदम', दियारा इलाके में ड्रोन से रखी जाएगी नजर

जागरण संवाददाता, भागलपुर। शराबबंदी कानून के सौ फीसद अनुपालन को गंगा के दियारा इलाके में शराब की भ_ियां ध्वस्त कर शराब निर्माण में लगे जरायम पेशेवरों की कमर तोडऩे की तैयारी की गई है। इसको लेकर एसएसपी निताशा गुडिय़ा ने आबकारी अधीक्षक को दो ड्रोन कैमरा मुहैया कराने को कहा है। दियारा में शराब बरामदगी और जरायम पेशेवरों की गिरफ्तारी को लेकर चलाए जा रहे अभियान में ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल किया जाएगा।

अबतक दियारा में चलाए गए अभियान में कहलगांव, सबौर, घोघा में शराब बरामदगी में सफलता मिली लेकिन सुदुर दियारा में शराब निर्माण की सटीक जानकारी के लिए ड्रोन कारगर होगा। इसलिए ड्रोन की मांग की गई है। अब आबकारी विभाग भी झारखंड से लगने वाली सीमा पर ड्रोन का इस्तेमाल कर शराब तस्करों की गतिविधियों की निगरानी कराने की कवायद शुरू करने वाली है।

पुलिस ने देसी व विदेशी शराब बरामद की

संवाद सहयोगी, नवगछिया : पुलिस ने दो अलग-अलग मामलों में देसी व विदेशी शराब बरामद किया। इस संबंध में नवगछिया थानाध्यक्ष भरत भूषण ने बताया कि एनएच 31 से सौ मीटर दक्षिण पवन चिरानिया के ईंट भ_ा की ओर जाने वाली सड़क पर लवारिश अवस्था में बरामद किया। देसी शराब 35 पाउच सात लीटर हैं। नवगछिया बाजार के मछली हाट से सौ मीटर दक्षिण राजेंद्र कालोनी जाने वाली रोड पर से 375 एमएल का 12 बोतल शराब बरामद किया। पुलिस दोनों मामले में अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच कर रही हैं।

जमीन विवाद में मारपीट, तीन लोग जख्मी

संसू, शाहकुंड: सजौर थाना क्षेत्र के ओड़ाचक गौबरांय गांव में रास्ता विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट की घटना में दोनों पक्षों से तीन लोग जख्मी हो गए हैं। घटना को लेकर दोनों पक्षों द्वारा अलग-अलग मामला दर्ज कराया गया है। जिसमें कुल 21 लोगों को नामजद आरोपित बनाया गया है। इसकी जानकारी देते हुए थानाध्यक्ष महाश्वेता सिन्हा ने बताया कि प्रथम पक्ष के चंदन कुमार ने गांव के ही निरंजन यादव, अवधेश यादव, दिलखुश यादव, सहित 10 लोगों को नामजद आरोपित बनाया है।वहीं द्वितीय पक्ष के मंजुला देवी द्वारा गांव के ही चंदन यादव, विकास चौधरी, सुनील यादव, साहित्य 11 लोगों को नामजद आरोपित बनाया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि मामला दर्ज कर दोनों पक्षों के आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।