भागलपुर में हर ओर गंदगी: आखिर नहीं माना निगम, बायपास के बाद दोगच्छी में गिराने लगा कूड़ा, निर्देश की उड़ी धज्‍ज‍ियां

नगर आयुक्त ने कनकैथी डंपिंग ग्राउंड में कूड़ा गिराने का दिया है निर्देश। जोन-2 में निजी हाईवा के चालक की मनमानी मनाही के बाद भी बायपास में गिरा रहे कूड़ा। वरीय जोनल प्रभारी ने चालक को हटाने का दिया प्रस्ताव फिर भी नहीं हुई कार्रवाई।

Dilip Kumar ShuklaTue, 28 Sep 2021 06:50 AM (IST)
भागलपुर में हर ओर गंदगी है। लोग परेशान हैं।

जागरण संवाददाता, भागलपुर। शहर की सफाई व्यवस्था न तो सुधार हुआ और ना ही निस्तारण की व्यवस्था दुरूस्त करने को ठोस पहल हुई। नतीजा शहर की नारकीय स्थिति बनी हुई है। डंपिंग ग्राउंड में प्रोस‍ेसिंग की सुविधा नहीं है। नतीजा डंप‍िंग ग्रांउड के बदले शहर के समीवर्ती क्षेत्र में कूड़ा डंप किया जा रहा है। लोहिया पुल व लाजपत पार्क के समीप कूड़े का अंबार लगा है। बाइपास के दोगच्छी के बीच एनएच 80 को नगर निगम ने कूड़ा डंप‍िंंग स्थल बना दिया है। यहां सड़क किनारे लगातार कूड़े की डंपिंग की जा रही है। इससे बाइपास पर जगह-जगह कूड़े का पहाड़ खड़ा हो गया है। इस कूड़े के ढेर में आग लगाने से प्रदूषण का खतरा बढ़ गया है। जिला प्रशासन के सख्त निर्देश के बावजूद कूड़े को बायपास के साथ अब दोगच्छी और जिच्छो के करीब बायपास के साथ मायागंज में चोरी छिपे कूड़ा गिराया जा रहा है। हाईवा, ट्रेकटर से चोरी-छिपे कूड़ा गिराने का सिलसिला जारी है। बाइपास तक एनएच 80 की सड़क हो या इससे जुडऩे वाली गांव की मुख्य सड़क। नगर निगम इन सड़कों के किनारे बेरोकटोक कूड़ा गिरा रहा है। बाइपास के किनारे जमीन बिक्री के लिए भू-माफिया गड्ढे को भरना चाह रहे हैं।

निजी हाइवा और उनके चालक द्वारा मनमानी की जा रही है। जबकि नगर निगम प्रतिदिन करीब 67 लीटर डीजल कनकैथी तक वाहन के तीन फेरे के लिए उपलब्ध कराया जाता है। बावजूद इसके जहां-तहां कूड़ा गिराने का सिलसिला जारी है। जोनल के कार्यों की निगरानी के लिए वरीय जोनल प्रभारी को प्रतिनियुक्त किया गया। बायपास में देर रात हाइवा से कूड़ा गिराने की शिकायत भी निगम अधिकारी से की। चालक को हटाने का प्रस्ताव दिया। निर्देश की अवेहलना करने वाले चालक को नहीं हटाया गया।

धूएं से हो रही परेशानी

बायपास में पिछले चार दिनों से यहां कड़े में आग धधक रही है और इससे निकलने वाला धुंआ हवा को दूषित कर रहा है। नगर निगम ने आग बुझाने की कोई कवायद नहीं की है। धुएं की धुंध से सड़क पर वाहन चालकों को भी परेशानी हो रही है। बाइपास होकर हर दिन 20 हजार से अधिक वाहन गुजरते हैं। धुंध के चलते दुर्घटना की आशंका भी बनी रहती है। वहीं, बाइपास के आधा किलोमीटर लंबाई में जगह-जगह कूड़े का पहाड़ खड़ा है। स्थिति यह है कि सड़क के दोनों ओर फ्लैंक की चौड़ाई 10 से 30 फीट तक बढ़ गई है। यहां से गुजरने वाले राहगीरों को कूड़े के दुर्गध का सामना भी करना पड़ रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.