CoronaVirus Vaccine Update : पहले मंगल पाठ, फिर शाम तक 650 लोगों ने लिया मंगल टीका

भागलपुर के सदर अस्‍पताल में पहला टीका लेने वाले अमित।

CoronaVirus Vaccine Update भागलपुर में शनिवार को टीकाकरण अभियान की शुरुआत सुबह 11 बजे से हुई। सदर अस्‍पताल में पहला टीका डाटा ऑपरेटर को दिया गया। उन्‍होंने कहा कि आज का दिन उनके लिए गौरव का दिन है। शाम तक जिले में 650 को लगाया गया टीका।

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 12:05 PM (IST) Author: Abhishek Kumar

 जागरण संवाददाता, भागलपुर। CoronaVirus Vaccine Update : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जैसे ही कोरोना वैक्सीन की शुरुआत की वैक्सीन लेने वाले खुशी से झूम उठे। अवसर था शनिवार को शहर के मंगलम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में कोरोना का मंगल टीका। टीका लगाने के लिए सुबह 10 बजे से ही लोग पहुंचने लगे थे। मन में थोड़ा डर था, लेकिन प्रधानमंत्री के भाषण ने सभी का डर समाप्त हो गया। कुछ लोग ईश्वर का नाम ले रहे थे तो कई हनुमान चालीसा का पाठ भी कर रहे थे। डॉ. सुमित चौहान ने पहला टीका लेकर सभी के मन में पल रहे परेशानी को दूर कर दिया।  डॉ. सुमित ने कतार में बैठे लोगों टीका लगाने की सलाह दी। मंगलम हॉस्पिटल में पहले दिन 92 लोगों का टीका लगना था। पहले नंबर पर अभिनंदन कुमार नाम था, विलंब से आने की वजह से उन्हें आठवें नंबर पर इंजेक्शन मिला। 

जिले में 650 लोगों को लगाया गया टीका

इस तरह शाम साढ़े पांच बजे तक जिले में कुल 650 लोगों को टीका लगाया गया। इसकी पुष्टि जिला प्रतिरक्षण पदाधिकरी डॉ मनोज कुमार चौधरी ने भी की है।  वहीं भागलपुर शहरी क्षेत्र के चार केंद्रों में कुल 191 लोगो ने टीके लगवाए।

इनमें मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 20, सदर अस्पताल में 60, मंगलम हॉस्पिटल में 60 और रक्षिता नर्सिंग होम में 50 लोग शामिल हैं। सभी ने टीका लगाकर सरकार की इस जीवन रक्षक पहल की सराहना की है और टीका तैयार करने वाले देश के विज्ञानियों के प्रति आभार जताया है।

चेकिंग के बाद मिली इंट्री

अस्पताल के बाहर गार्ड सभी को सैनिटाइजर और थर्मल स्क्रीनिंग कर रहा था तो दूसरा पहचान पत्र देखने के बाद अंदर जाने की प्रवेश पर्ची देने में व्यस्त है। 10 मिनट की प्रक्रिया के बाद एक-एक करके सभी डाटा इंट्री कक्ष पहुंचे। इसके बाद नाम मिलान के बाद वैक्सीन कक्ष में गई। वैक्सीन कक्ष में बैठी सीनियर नर्स कृष्णा कुमारी ने दाये हाथ में कोरोना का वैक्सीन लगाई। नर्स ने वैक्सीन लगाने के बाद कहा आपको सफलता पूर्वक वैक्सीन लग गई है। किसी तरह की तकलीफ या दर्द हो तो बताइये। दोबारा वैक्सीन के लिए मोबाइल पर मैसेज भी भेजा जाएगा। कक्ष में कोरोना वैक्सीन लेने के बाद सभी निगरानी कक्ष में भेजा गए। आधे घंटे तक इंतजार करने के बाद एक-एक कर सभी घर के लिए निकले। वैक्सीन लेने के बाद किसी को किसी तरह की परेशानी नहीं हुई।

सर्वर स्लो, मैनुअल ली गई पर्ची

कोरोना वैक्सीन लेने वाले के नाम का मिलान स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किए गए पोर्टल से होना था। 11 बजे कोरोना वैक्सीन लगने का समय था। लेकिन, सर्वर स्लो होने के कारण 12 बजे वैक्सीन लगने का काम शुरू हुआ। सभी के आइडी पर खुद का हस्ताक्षर लेकर मैनुअल तरीके से इंट्री दी गई। इस कारण एक घंटे का विलंब हुआ। जिला सांख्यिकी पदाधिकारी शंभू राय स्वास्थ्य कर्मियों के साथ पहुंचे थे। डॉ. दीनानाथ, प्रबंधक मुकेश और डब्ल्यूएचओ के प्रशांत कुमार व्यवस्था में लगे हुए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में विज्ञानी के अथक प्रयास से तैयार कोरोना वायरस का टीका विश्‍व में सबसे पहले भारत में दिया जा रहा है। इस अभियान की शुरुआत शनिवार को सुबह साढ़े दस बजे देश भर में किया गया।

इधर सिल्‍क सिटी भागलपुर में इसकी शुरूआत सुबह 11 बजे जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल में प्राचार्य डॉ हेमंत कुमार ने किया।

हालांकि अभी तक यहां टीका लगाने का कार्य प्रराम्भ नही किया गया है। 20 लोगो की इंतजार किया जा रहा है तभी लगाने का काम शुरू होगा । क्योकि यह आपूर्ति हुई वेक्सीन के एक वाईल में 20 लोगो को टीक दिया जाना है। हालांकि अब तक टीका लेने के लिए 13 लोग पहुंच गए है।

इधर सदर अस्‍पताल में देव अशीष पांडेय को जिले में पहला टीका लगाया गया। वे डाटा ऑपरेटर के पद पर कार्यरत है।

चर्च रोड स्थित रक्षिता नर्सिंग होम में गोराडीह स्वरूप चक निवासी आलोक कुमार राज को वैक्सीन का पहला टीका दिया गया। आलोक डॉ एसपी सिंह का कंपाउंडर हैं । टीका डॉ अजय कुमार की निगरानी में नर्स अंजू ने दिया। आलोक ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लेना जरूरी है। वैक्सिन पड़ने के बाद कोई परेशानी नहीं हुई। कोई दिक्कत नहीं हुई है। जनरल इंजेक्शन की तरह ही वैक्सिन का टीका महसूस हुआ। 15 मिनट हो गए । दूसरा टीका अनीता देवी को पड़ा। उन्‍होंने भी ।5 मिनट बाद तक कोई परेशानी नहीं होने की बात कही। वह आशा के पद पर कार्यरत है।

वैक्सीनेशन के बाद भी रिलेक्स महसूस ही कर रहा हूं। इस मौके पर डॉ सीमा , स्वास्थ्य विभाग के जिला लेखा प्रबंधक विकास कुमार सहित नर्सिंग होम स्टाफ, सदर अस्पताल की छह नर्स आदि स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे। डॉ अजय कुमार ने कहा कि आलोक राज के बाद दूसरे व्यकि भीखनपुर के चंदन कुमार सिंह ही अबतक पहुंचे हैं। पहले दिन कुल 80 लोगों को टीका लगाना है। टीका लगाने के बाद 30 मिनट उन्हें डॉक्‍टर की निगरानी में रखा जा रहा है ताकि किसी तरह की परेशानी होने पर उसे दूर किया जा सके। बबीता देवी को तीसरा टीका पड़ा।आशा कर्मी है। मैनुअल तरीके से इंट्री के बाद मंगलम हॉस्पिटल में डॉ सुमित चौहान को पहला टीका सिस्टर कृष्णा कुमारी ने लगाई।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.