विसनपुर जिच्छो से शुरू होगा फोरलेन सड़क का निर्माण

राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या-80 (मुंगेर-मिर्जाचौकी फोरलेन) का निर्माण कार्य विशनपुर जिच्छो से शुरू होगा।

JagranWed, 22 Sep 2021 02:01 AM (IST)
विसनपुर जिच्छो से शुरू होगा फोरलेन सड़क का निर्माण

भागलपुर। राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या-80 (मुंगेर-मिर्जाचौकी फोरलेन) का निर्माण कार्य विशनपुर जिच्छो से शुरू होगा। कार्य एजेंसी मोंटे कार्लो ने नवंबर से कार्य शुरू करने का भरोसा जिला प्रशासन को दिया है। बाढ़ का पानी जमा रहने की वजह से काम शुरू नहीं हो पाया है। जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने कार्य एजेंसी को हर प्रकार के सहयोग का भरोसा दिया है।

सड़क निर्माण के लिए 92 मौजा में जमीन अधिग्रहण होना है। तीन मौजा में एलाइनमेंट परिवर्तन होने के कारण एनएचएआइ के द्वारा आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। जिले में अब तक 81 मौजा में एवार्ड घोषित हो चुका है। शेष बचे आठ मौजा में इस माह के अंत तक एवार्ड व पंचाट घोषित कर दिया जाएगा। मंगलवार को एनएचएआइ के परियोजना निदेशक मुंगेर एवं भागलपुर बाइपास से रसलपुर तक सड़क निर्माण के लिए तय एजेंसी मोंटे कार्लो के प्रतिनिधि के साथ बैठक की। बैठक में अपर समाहर्ता, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी उपस्थित थे। एजेंसी के प्रतिनिधि द्वारा अवगत कराया गया कि बाढ़ के पानी के कारण कार्य प्रारंभ करने में विलंब हो रहा है। नवंबर से एजेंसी के द्वारा कार्य प्रारंभ करने का आवश्वासन दिया गया।

बताया गया कि अबतक आठ मौजों में 80 फीसद मुआवजा राशि का भुगतान कर विभाग को दखल कब्जा उपलब्ध कराने के लिए प्रस्ताव तैयार किया जा चुका है। एजेंसी द्वारा विसनपुर जिच्छो से कार्य प्रारंभ कराया जाना है, जिसके लिए जिला भू-अर्जन पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी सदर को आगामी 15 दिनों में भुगतान कर भू-अर्जन के लिए आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। एजेंसी के प्रतिनिधि द्वारा बताया गया कि कहलगांव के शकरपुर कोदवार एवं परमानंदपुर ख्वास मौजा में नवम्बर में कार्य प्रारंभ किया जाएगा। परमानंदपुर ख्वास मौजा में एवार्ड की घोषणा की जा चुकी है एवं जिला भू-अर्जन पदाधिकारी, द्वारा आश्वस्त किया गया कि शकरपुर कोदवार मौजा का आगामी तीन दिनों में एवार्ड घोषित कर दिया जाएगा। जिलाधिकारी द्वारा जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि उक्त दोनों मौजा के रैयतों को नियमानुसार मुआवजा भुगतान करते हुए 15 अक्टूबर तक दखल-कब्जा अधियाची विभाग को उपलब्ध कराएं। भूमि सुधार उप समाहर्ता, कहलगाव इस कार्य में सभी आवश्यक सहयोग प्रदान करेंगे। जिला भू-अर्जन पदाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि अबतक उक्त परियोजना अंतर्गत 81 मौजों में पंचाट में शामिल रैयतों की संख्या 6042 हैं, जिसमें से मुआवजा भुगतान के लिए अबतक 540 आवेदन प्राप्त हुए हैं। प्राप्त आवेदन में से 438 रैयतों को अबतक 16 करोड़ 62 लाख रुपये के मुआवजा का भुगतान किया जा चुका है। वैसे रैयत जिनके द्वारा मुआवजा राशि प्राप्त नहीं की जा रही है, वैसे 65 रैयतों को दो नोटिस निर्गत किए जाने के उपरान्त मुआवजा की राशि 4 करोड़ 3 लाख रुपये भू-अर्जन प्राधिकार में जमा करा दी गई है। जिलाधिकारी द्वारा जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को उक्त परियोजना में शेष बचे रैयतों को मुआवजा राशि के भुगतान में तेजी लाने का निर्देश दिया गया, जिसके आलोक में रैयतों से आवेदन पत्र, आवश्यक कागजात प्राप्त करने एवं त्वरित गति से मुआवजा राशि के भुगतान के लिए अंचलवार एवं मौजावार तिथि का निर्धारण करते हुए कार्ययोजना तैयार कर 10 सितंबर से राजस्व शिविर आयोजित की जा रही है, जो 30 अक्टूबर तक चलेगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.