कांग्रेस का सत्याग्रह आंदोलन बिहार में एक नई क्रांति की शुरुआत है : भक्तचरण दास

कांग्रेस का सत्याग्रह आंदोलन बिहार में एक नई क्रांति की शुरुआत है : भक्तचरण दास

अपनी मांगों को लेकर केंद्र सरकार के नए कृषि कानून के विरोध में दिल्ली के बार्डर समेत पूरे देश में आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में बिहार प्रदेश कांग्रेस का पूरे राज्य में शुरू हुआ यह पदयात्रा बुधवार को बिहपुर पहुंचा।

JagranThu, 25 Feb 2021 04:30 AM (IST)

बिहपुर। अपनी मांगों को लेकर केंद्र सरकार के नए कृषि कानून के विरोध में दिल्ली के बार्डर समेत पूरे देश में आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में बिहार प्रदेश कांग्रेस का पूरे राज्य में शुरू हुआ यह पदयात्रा बुधवार को बिहपुर पहुंचा। इस पदयात्रा में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के बिहार प्रदेश प्रभारी भक्तचरण दास, भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव सह बिहार प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष मदनमोहन झा, कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी, एआइसीसी के सचिव चंदन यादव,बिहार विधान मंडल के नेता नगर विधायक अजीत शर्मा समेत पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अनिल शर्मा,बिहार महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्षा अमिता भूषण, बिहार कांग्रेस रिसर्च विभाग मैनिफैस्टो कमेटी के चेयरमैन आनंद माधव, विचार विभाग के चेयरमैन प्रो.शशि कुमार सिंह, बिहार राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के चेयरमैन ई.असफर अहमद, पूर्व विधायक सौरभ कुमार सिन्हा, अमित कुमार सिंह टुन्ना, पूनम पासवान, अरुण कुमार वर्मा, संदीप श्रीवास्तव,विजय सिंह कुशवाहा,मंजीत आनंद साहू समेत कई जिला के वर्तमान व पूर्व अध्यक्ष समेत कई सांसद व विधायक व कई नेता शामिल हुए। बिहपुर प्रखंड की सीमा में प्रवेश करने पर लत्तीपुर चौक से मिलकी तक किसानों के साथ ट्रैक्टर यात्रा हुई। जिसके बाद मिलकी गांव स्थित दाता मांगनशाह की मजार पर चादरपोशी के साथ पदयात्रा बिहपुर खानका होते हुए मां वाम काली के मंदिर पहुंचा।जहां पूजा-अर्चना करने के बाद पदयात्रा बिहपुर बाजार व स्वराज आश्रम पहुंचा। यहां पर किसान पंचायत का आयोजित हुआ। जिला कांग्रेस के नेतृत्व व बिहपुर प्रखंड कांग्रेस कमेटी के मेजबानी में हुए इस किसान पंचायत कार्यक्रम का संचालन जिला कांग्रेस के अध्यक्ष परवेज जमाल एवं कार्यकारी जिलाध्यक्ष अभय आनंद ने किया। इस मौके पर बिहार प्रदेश प्रभारी भक्तचरण दास समेत अन्य नेताओं ने अपने संबोधन में कहा कि ये सत्याग्रह आंदोलन बिहार में एक नई क्रांति की शुरुआत है जो किसानों के ़खिलाफ केंद्र की भाजपा व मोदी सरकार द्वारा लाए गए तीन काले क़ानून की वापसी लेकर रहेगी। पीएम मोदी के शासनकाल में आज आम जनता पिस रही है। बेरो•ागार युवा परेशान हैं। युवा,छात्र,मध्यमवर्गीय सब अपने को ठगा महसूस कर रहे हैं। पेट्रोल, डीजल व घरेलू गैस सिलेंडर की क़ीमत आसमान छू रहा है। इस पर सरकार के कानों में जूं नहीं रेंग रहा है। इस आंदोलन को आमजन व किसानों का समर्थन प्राप्त है जो मोदी राज के पतन की शुरुआत है। इससे पूर्व बिहपुर स्वराज आश्रम व कांग्रेस भवन पहुंचने पर जिलाध्यक्ष समेत अन्य नेताओं का प्रखंड अध्यक्ष रोहित आनंद शुक्ला के नेतृत्व में अन्य नेताओं ने अंगवस्त्र व बिहपुर के धार्मिक, ऐतिहासिकता व प्राचीनता को प्रदर्शित करता हुआ एक-एक स्मृति चिन्ह भेंटकर अभिनंदन किया। इस मौके पर प्रखंड उपाध्यक्ष गौरव कुंवर,राधाकृष्ण सिंह,मु. ईरफान आलम,नवीन शर्मा,सबरार आलम,मु.अरशद,ब्रह्मचारी सिंह,मु.फिरोज,राजनीति सिंह आदि समेत अन्य कई नेताओं ने अंगवस्त्र व स्मृति चिन्ह भेंट किया। इस पदयात्रा व किसान पंचायत में भागलपुर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष परवेज जमाल,कार्यकारी जिलाध्यक्ष डा. विपीनबिहारी यादव, प्रवीण सिंह कुशवाहा, अभयआनंद, महिला कांग्रेस की अध्यक्ष कोमल सृष्टि,उपाध्यक्ष सुनंदा रक्षित,नगर अध्यक्ष पूजा साह,महासचिव उषारानी,जगदीशपुर महिला प्रखंड कांग्रेस अध्यक्ष पूनम मिश्रा,अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष डा.राकेश साह व जिला कांग्रेस ओबीसी सेल के जिलाध्यक्ष राजेश रंजन राजू आदि समेत जिला,नवगछिया पुलिस जिला व बिहपुर विस के अन्य कई कांग्रेस नेता व बड़ी संख्या में किसान शामिल हुए।सोनवर्षा के डा.विजय,अमरपुर के नवीन शर्मा व सोनू ईश्वर ने बिहार कांग्रेस प्रभारी को पांच तरह के अन्न भेंटकर किसान के साथ इस अन्न की रक्षा करने का नेताओं से संकल्प लिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.