Bihar Panchayat Chunav 2021: मुंगेर की मुखिया फैमिली की बहू का कमाल, सबसे कम उम्र में पद किया अपने नाम

Bihar Panchayat Chunav 2021 संगीता कुमारी की उम्र 22 साल है। वो स्नातक की छात्रा तो हैं ही साथ ही मुखिया फैमिली की बहू भी हैं। छात्रा संगीता मुंगेर जिले की सबसे कम उम्र की मुखिया बन गई हैं। वो सदर प्रखंड के महुली पंचायत की मुखिया बनी हैं।

Shivam BajpaiPublish:Sat, 04 Dec 2021 09:29 AM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 09:29 AM (IST)
Bihar Panchayat Chunav 2021: मुंगेर की मुखिया फैमिली की बहू का कमाल, सबसे कम उम्र में पद किया अपने नाम
Bihar Panchayat Chunav 2021: मुंगेर की मुखिया फैमिली की बहू का कमाल, सबसे कम उम्र में पद किया अपने नाम

संवाद सूत्र, मुगेर : Bihar Panchayat Chunav 2021: जिले में पंचायत चुनाव में आधी आबादी की भागीदारी बढ़ रही है। बड़ी संख्या में महिलाएं पंचायत चुनाव जीतकर जनप्रतिनिधि बन रही हैं। नौवें चरण में सदर प्रखंड के आए चुनाव परिणाम में भी आधी आबादी ने बाजी मारी है। सबसे बड़ी बात यह है कि अब तक के चुनाव परिणामों में जिले की सबसे कम उम्र की मुखिया महिला ही चुनी गई हैं। सदर प्रखंड के महुली पंचायत से संगीता कुमारी (22) मुखिया बनी है। बीआरएम कालेज की छात्रा हैं। संगीता का ससुराल मुखिया फैमिली कहा जा सकता है। क्योंकि परिवार में 1952 से अब तक चार लोग मुखिया बन चुके हैं। संगीता उनमें से एक हैं।

संगीता अब अपना करयिर बनाने के साथ-साथ पंचायत को भी विकसित करेगी। संगीता के पति विद्यान कुमार शिक्षक हैं, वह नौवागढ़ी के प्राथमिक विद्यालय में बच्चों को पढ़ाते हैं। इस परिवार का पंचायत की सरकार में पहले से ही दबदबा रहा है। पहली बार इस परिवार से 1952 में सिंगेश्वर प्रसाद सिंह, दूसरी बार 1970 में उमाकांत सिंह, तीसरी बार संजु देवी 2005 में पंचायत की बागडोर संभाली। इस बार पंचायत चुनाव में उसने चुनाव लड़ने का फैसला किया और मुखिया पद के लिए नामांकन दाखिल किया। संगीता ने अपने प्रतिद्वंदी मधुकर यादव को 280 मतों से हरा दिया। संगीता की जीत पूरे जिले में चर्चा का विषय है।

आर्दश और शिक्षित पंचायत बनाने का लक्ष्य

जीत के बाद पंचायत के लोगों का कहना है कि संगीता को परिवार की ओर से किए गए विकास कार्यों का फल मिला है। लोगों ने बताया कि सिंगेश्वर सिंह और उमाकांत सिह ने पंचायत में कई विकास काम कराए हैं। मध्य विद्यालय का निर्माण भी शामिल था। संगीता अब अपने परिवार के सपनों को साकार करने में जुट गई है। संगीता ने बताया कि पंचायत में इंदिरा आवास, वृद्धा पेशन, राशन कार्ड, शिक्षा, स्वास्थ्य व्यवस्था को पटरी पर लाएगे। ग्रामीणाो के सहयोग से पंचायत को अपराध मुक्त बनाने का प्रयास करेंगे।