Bihar: कोरोना को लेकर अच्‍छी खबर, दूसरी लहर का असर हुआ कम, संक्रमितों की संख्‍या घटी, स्‍वस्‍थ हुए काफी मरीज, देखिए... आंकड़ा

संक्रमित केस से ज्यादा मरीज हो रहे ठीक।

Bihar जमुई जिले में अप्रैल से मई के 17 दिन में पाए गए सबसे अधिक 3914 नए संक्रमित। पिछले आठ दिन में पाए गए हैं 943 संक्रमित। पिछले आठ दिन में 1738 मरीज हुए स्वस्थ। 30 अप्रैल से तीन अंकों में पहुंची ठीक होने वालों की संख्या।

Dilip Kumar ShuklaTue, 18 May 2021 04:44 PM (IST)

जमुई [आशीष सिंह चिंटू]। कोरोना की दूसरी लहर का पीक जिले में गुजर गया है। इस लहर के मंद पड़ने का शुरुआती संकेत मिलने लगे हैं। जिले में पिछले आठ दिनों से नए पॉजिटिव केस की संख्या से ज्यादा मरीज ठीक हुए हैं।  इसके अलावा नए संक्रमित और एक्टिव केस की संख्या में गिरावट आ रही है। सरकार द्वारा लॉकडाउन का निर्णय और फिर प्रशासनिक सख्ती का फलाफल सामने आने लगा है। अप्रैल माह की समाप्ति और मई माह के प्रारंभ में बेकाबू हुए संक्रमण की रफ्तार पर लगाम लगा है। स्वास्थ्य विभाग भी जिले से कोरोना की दूसरी लहर का पीक गुजर जाने की बात कह रहा है।

सिविल सर्जन डा विनय कुमार शर्मा ने कहा कि लगातार संक्रमितों की संख्या में गिरावट आ रही है। जमुई से दूसरी लहर का पीक गुजर गया है लेकिन अभी बहुत सावधान रहने की जरुरत है। लापरवाह होने पर पीक की वापसी हो सकती है। शारीरिक दूरी, समारोह से दूरी और मास्क पहनना जरुरी है। चूक से कहीं भी पॉकेट बनने पर संक्रमण के प्रसार का खतरा है। लिहाजा, पीक गुजरने का राहत जरुर है। अब इस राहत को बरकरार रखने के लिए सावधान व परहेज कायम रखने की आवश्यकता है।

     

संक्रमितों की संख्या से डेढ़ गुना अधिक मरीज हुए स्वस्थ

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ें के अनुसार पिछले आठ दिन यानी 10 मई से 17 मई तक जिले में पाए गए संक्रमितों की संख्या से डेढ़ गुना से अधिक मरीज स्वस्थ हुए हैं। इन आठ दिनों में 943 नए संक्रमित पाए गए जबकि इस दौरान 1738 संक्रमित कोरोना को मात देकर स्वस्थ हुए। इसमें एक दिन में सबसे अधिक 417 मरीज स्वस्थ हुए हैं।

17 दिन में पाए गए सबसे अधिक संक्रमित

दूसरी लहर के 17 दिन में सबसे अधिक संक्रमित पाए गए। लिहाजा इसे दूसरी लहर का पीक माना जा सकता है। 23 अप्रैल से 9 मई के 17 दिन में कुल 3914 नए संक्रमित की पहचान हुई। यह संख्या एक अप्रैल से 22 अप्रैल तक यानी 22 दिन में पाए गए कुल संक्रमित 758 से पांच गुना से अधिक ज्यादा है।

एक्टिव केस की संख्या में आता रहा उतार-चढ़ाव

जिले में एक्टिव केस की संख्या में उतार-चढ़ाव आता रहा। 16 अप्रैल से स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या दो अंक में पहुंच गई। इसके बाद 30 अप्रैल से ठीक होने वालों की संख्या तीन अंकों में है।

संक्रमितों की संख्या में आता रहा उछाल

एक अप्रैल से 17 मई तक संक्रमितों की संख्या में उतार-चढ़ाव आता रहा है। इस दौरान 200 संक्रमित की संख्या को आठ बार पार किया गया। तीन सौ और पांच सौ संक्रमित की संख्या को एक-एक बार पार किया गया।

रहना होगा सावधान

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार भले ही कोरोना लहर की पीक गुजर गई है किंतु सावधान रहने की जरुरत है। इन दिनों गांवों में शादी-विवाह हो रहे हैं। इन समारोह में गाइडलाइन का पालन करना जरुरी है। यज्ञ प्रयोजन कार्यक्रम में भी विशेष ध्यान देने की जरुरत है। लक्ष्मीपुर में शादी समारोह में गाइड लाइन की अनदेखी का खामियाजा एक ही परिवार के 22 लोगों को संक्रमित और एक की मौत से चुकानी पड़ी। इसी प्रकार गिद्धौर का धोबघट में भी अनदेखी का खामियाजा भुगतना पड़ा। ऐसी स्थिति होने पर लहर की पीक की पुन: वापसी हो सकती है। समारोह से दूरी या गाइडलाइन का शत-प्रतिशत पालन, मास्क, शारीरिक दूरी का पालन करते के साथ ही भीड़-भाड़ से बचने की जरुरत है।

जमुई में कोरोना की दूसरी लहर का पीक गुजर गया है। संक्रमितों की संख्या में गिरावट आ रही है। स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़ी है। अस्पतालों पर भी दबाव कम हुआ है। अभी सावधान और गाइडलाइन का पालन करते हुए कोविड व्यवहार अपनाए रखने की जरुरत है अन्यथा पीक की पुन: वापसी भी हो सकती है। - डा विनय कुमार शर्मा, सिविल सर्जन, जमुई।

आठ दिन की स्थिति एक नजर में

तिथि-------एक्टिव केस---स्वस्थ हुए--पाए गए संक्रमित

10 मई-----1743-----------226---------168

11 मई-----1497-----------417---------171

12 मई-----1451-----------178---------133

13 मई-----1395-----------117----------64

14 मई-----1340-----------188---------143

15 मई-----1202-----------223---------85

16 मई-----1101-----------223--------122

17 मई------996-----------165---------60

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.